Dainik Navajyoti Logo
Friday 14th of May 2021
 
राजस्थान

कोरोना के खौफ से 46.30% लोग हुए अनिद्रा के शिकार

Wednesday, June 24, 2020 23:20 PM
logo

उदयपुर। राजस्थान विद्यापीठ के कुलपति प्रो. एसएस सारंगदेवोत के निर्देशन में सहायक आचार्य डॉ. चंद्रेश कुमार छतलानी की ओर से कोविड-19 में लॉकडाउन अवधि में कर्मचारियों व शिक्षकों की मानसिकता पर प्रभाव विषय पर हुए सर्वे में सामने आया है कि 81.9 प्रतिशत लोग लॉकडाउन को सरकार का सही निर्णय मानते हैं।

54.6 प्रतिशत ने कहा लॉकडाउन तथा वर्क फ्रॉम होम को अधिक बढ़ावा दिया जाना चाहिए, वहीं 46.3 प्रतिशत ने कहा कोविड-19 के कारण सो नहीं पा रहे हैं। आने वाले समय में इससे अनिद्रा के शिकार लोगों की तादाद में वृद्धि हो सकती है। सर्वे में यह भी खुलासा हुआ कि 22.9 प्रतिशत व्यक्तियों के क्रोध में वृद्धि हुई वहीं 14.3% के मन में भय बैठ गया है। 36.8 फीसदी व्यक्तियों के परिवारिक सम्बन्ध सार्थक रूप से प्रगाढ़ हुए जबकि 21.2 प्रतिशत की व्यक्तिगत रचनात्मकता में काफी हद तक वृद्धि हुई लेकिन 22.7 फीसदी व्यक्तियों की अपने कार्यालयीन कार्यक्षमता में कमी हुई।

इस सर्वे का मुख्य उद्देश्य यह ज्ञात करना था कि लॉकडाउन के दौरान देश के विभिन्न संस्थानों के कर्मचारियों व शिक्षकों की मानसिकता और कार्य क्षमता में किस तरह का बदलाव आया। कोरोना के भय का प्रभाव कितना रहा और लॉकडाउन के पश्चात उनके विचार क्या हैं? कोरोना से बचाव के लिए फिजिकल डिस्टेंसिग को सर्वाधिक महत्वपूर्ण कारक मानते हुए अधिकतर व्यक्तियों ने लॉकडाउन के दौरान 1-3 घंटे ही कार्य किया और घर पर कार्य करने में उन्हें अधिक दुविधा नहीं हुई।

इस समय में अधिकतर व्यक्तियों ने फल, सब्जियां, राशन व स्वच्छता के लिए सामग्री क्रय करने में सर्वाधिक धन व्यय किया। लॉकडाउन खुलने के पश्चात अधिकतर व्यक्तियों ने वस्तुओं में सैनिटाइजर व मास्क तथा सेवाओं में आॅनलाइन शिक्षा व योग को क्रय करने में सबसे अधिक रुचि दर्शाई। 52.5% व्यक्ति अपना भोजन शाकाहारी (पूर्ववत) ही रखने के पक्ष में हैं।

यह भी पढ़ें:

कर्नल सोनाराम जल्द ही कांग्रेस में हो सकते हैं शामिल, बयानों से मिल रहे संकेत

बाड़मेर-जैसलमेर सीट पर तीन बार सांसद एवं एक बार बायतु विधायक रह चुके दिग्गज जाट नेता एक बार फिर कांग्रेस में घर वापसी की तैयारी कर रहे है।

27/11/2019

पहाड़ियों में मिला शावक का शव

उपखंड के घूमना गांव में माधो सागर बांध घूमना की पहाड़ियों में एक पैंथर शावक का शव मिला। इसकी सूचना ग्रामीणों ने वन विभाग के कर्मचारियों को दी।

16/11/2019

बूंदी में एसीबी की कार्रवाई, बिजली विभाग का लाइनमैन 2 हजार रुपए की रिश्वत लेते गिरफ्तार

भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ने बूंदी जिले के मंडावरा में विद्युत विभाग के लाइनमैन को 2 हजार रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। आरोपी लाइनमैन ने परिवादी रामलक्ष्मण गुर्जर से उसके खेत में लगे ट्रांसफार्मर की बुचिंग डालने और उसकी मरम्मत करने की एवज में 2 हजार रुपए की रिश्वत मांगी थी।

30/06/2020

गुजरात से एशियाटिक शेरनी लाने के लिए जयपुर से टीम रवाना

गुजरात से प्योर एशियाटिक शेरनी लाने के लिए शनिवार को नाहरगढ़ बायोलोजिकल पार्क से टीम रवाना हुई।

06/07/2019

रिफाइनरी राजस्थान की सबसे महत्वपूर्ण परियोजना है: अशोक गहलोत

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि पचपदरा में स्थापित की जा रही रिफाइनरी सह-पेट्रो केमिकल कॉम्प्लेक्स परियोजना को चार साल की तय समय सीमा में पूरा कर मिसाल पेश करें।

22/06/2019

जयपुर में घूम रही विधायक की बिना नंबर की गाड़ी, 'लाल पट्‌टी' कानून ही काफी़!

शहर में आए दिन नई-नई स्टाइल के वाहनों की नंबर प्लेट देखने को मिल जाएगी, लेकिन इस बार भाजपा विधायक की जयपुर शहर में एक ऐसी गाड़ी देखने को मिली, जिसे आगे पीछे नंबर प्लेट ही नहीं है।

15/06/2019

व्यवस्थाओं में दखल देने पर गुस्साए स्पीकर, देवनानी को सदन से बाहर निकाला, विरोध में बीजेपी का वॉकआउट

विधानसभा में सोमवार को प्रश्नकाल शांतिपूर्ण तरीके से चला, लेकिन शून्यकाल में हंगामा हो गया। स्पीकर ने संसदीय कार्य मंत्री से प्रस्ताव रखवाकर भाजपा विधायक वासुदेव देवनानी को आज की शेष सदन की कार्रवाई तक के लिए बाहर कर दिया। भाजपा ने इसका विरोध करते हुए सदन से वॉकआउट किया।

01/03/2021