Dainik Navajyoti Logo
Saturday 15th of August 2020
Dainik Navajyoti
 
पाली

सिंचाई के लिए पाण पर आंकड़ों की होगी जंग

Thursday, October 10, 2019 02:10 AM
जवाईबांध

सुमेरपुर । जवाईबांध के पानी के बंटवारे को लेकर शुक्रवार को जवाईबांध स्थित डाक बंगले में संभागीय आयुक्त सहित तीनों जिलों के उच्चाधिकारियों की मौजूदगी में मंथन होगा। पर्याप्त जल आवक के बाद किसान 19-19 की चार पाण की मांग कर रहे है।


उच्चाधिकारी व किसान नेता होंगे उपस्थित
जवाईबांध से सिंचाई, पेयजल व जीव जन्तुओं के लिए पानी आरक्षित करने के लिए जल वितरण कमेटी की बैठक में अध्यक्ष जोधपुर संभागीय आयुक्त, पाली, जालोर व सिरोही कलक्टर, जल संसाधन विभाग के अधीक्षण अभियंता, एक्सीएन, जल उपभोक्ता समितियों के अध्क्ष व किसान नेता मौजूद रहेंगे।


74 हजार एकड जमीन होगी  सिंचित, क्षतिग्रस्त है नहर
जवाईबांध सुमेरपुर क्षेत्र व आहोर  क्षेत्र के 22 गांवों में करीब 74 हजार एकड जमीन सिंचित होती है। इससे समय पर पानी मिलने पर किसानों को लाभ होगा। जवाईबांध से निकलने वाली मुख्य कैनाल 14 किलोमीटर लम्बी है, साथ ही छोटी-बडी वितरिकाओं को मिलाया जाए तो करीब 230-235 किलोमीटर यह नहर है। जवाई नहर से करीब 30 हजार हेक्टर जमीनें सिंचित होती है।


किसान संघर्ष समिति के अध्यक्ष जयेन्द्रसिंह गलथनी ने बताया कि वर्ष 2015 में जवाई जल वितरण समिति की बैठक के दौरान जवाई का जलस्तर 53.95 फीट के साथ 5553.50 एमसीएफटी उपलब्ध होने के कारण 3800 एमसीएफटी सिंचाई के लिए आरक्षित किया गया था। जिससे किसानों को 19-19 दिन की चार पाण मिली थी।


इनमें मौजूद है पानी
पाली जिला व सिरोही के शिवगंज को पेयजल आपूर्ति, सुमेरपुर व आहोर के किसानों को सिंचाई के लिए पानी देने में जवाईबांध के अलावा, सेई, हेमावास, सिन्दरू व तखतगढ के पानी को बंटवारे में शामिल किया जाता है। वर्तमान में जवाईबांध 53.40 फीट के साथ 5383.40 एमसीएफटी, सेई में 8.60 मीटर के साथ 1166.01 एमसीएफटी, सिन्दरू में 9.50  फीट के साथ 89.92 व तखतगढ में 3.75 फीट के साथ 24.29 एमसीएफटी पानी उपलब्ध है।

यह भी पढ़ें:

जवाई में पानी आया लेकिन वाटर ट्रेन चलेगी

पाली में बरसात नही होने से पेंदे बैठे जवाई बांध में 3 फीट पानी एक ही दिन में आ गया, पाली शहर में भी बादल रविवार को जमकर बरसे है और कुछ ही घंटों में 43 एमएम पानी बरस गया। लेकिन अभी भी उतना पानी नहीं आ पाया है कि पाली को इंद्र भरोसे छोड़ दिया जाए।

28/07/2019

15 दिन बाद कृषि मंडी में व्यापारिक गतिविधियां शुरू

कृषक कल्याण शुल्क के विरोध में व्यापार संघ द्वारा करीब 15 दिनों से वीरान पडी कृषि मंडी में शुक्रवार को दुबारा रौनक लौट आई हैं। स्थानीय विधायक सहित सिरोही विधायक की आपसी समझाइश व सरकार से मिले आश्वासन के बाद मंडी में शुक्रवार से निलामी व व्यापार शुरू हुआ।

22/05/2020

दुर्घटना में बाइक सवार युवक की मौत, दूसरा जख्मी

स्थानीय मेघा हाईवे बाली स्थित बिजली घर अम्बाजी मंदिर के आगे बाइक एवं पिकअप जीप की टक्कर में मंगलवार को बाली थाने के बीजापुर निवासी 32 वर्ष के युवक की घटना स्थल पर मौत हो गई।

10/09/2019

आशा सहयोगिनी ने केरोसिन डाल आत्महत्या की

स्थानीय कस्बे में दलित परिवार की बहू ने कमरे में अपने शरीर पर केरोसिन डाल आग लगा दी। इससे उसकी मौत हो गई।

14/02/2020

पूर्व सरपंच केशावत ने सांसद चौधरी को पानी की समस्या को लेकर सौंपा मांग पत्र

कस्बे के पूर्व सरपंच मनोहर सिंह ने दिल्ली पहुंचकर पाली सांसद पीपी चौधरी को मारवाड़ जंक्शन कस्बे को जवाई जल परियोजना की वैकल्पिक की योजना से जोड़ने के लिए एक मांग पत्र सौंपा।

28/06/2019

कोविड-19 गाइड लाइन के साथ शेष रही बोर्ड परीक्षा शुरू

कोरोना संक्रमण के चलते स्थगित हुई बोर्ड परीक्षा सोशल डिस्टेंस व कोविड-19 गाइड लाइन की पालना के साथ स्थानीय धनराज बदामिया राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय सादड़ी में शुरु हुई। गुरुवार को बारहवीं कक्षा की गणित की परीक्षा शांतिपूर्वक संपन्न हुई।

18/06/2020

जवाई नहर में डूबने से विवाहिता की मौत

दुजाना गांव की एक विवाहिता रविवार को खेत में खेती का कामकाज करते हुए नहर पर गई थी। तभी अचानक पांव फिसल जाने से जवाई नहर में गिरने से पानी के तेज वेग में बह गई। काफी तलाश के बाद विवाहिता के नही मिलने पर परिजनों ने सांडेराव पुलिस को घटना की पूरी जानकारी दी।

04/11/2019