Dainik Navajyoti Logo
Friday 28th of January 2022
 
ओपिनियन

परफेक्ट जीवनसंगी की तलाश? राजस्थानी मैट्रिमोनी पर निःशुल्क  रजिस्ट्रेशन करे!

यह भी पढ़ें:

जानिए राजकाज में क्या है खास?

सूबे में इन दिनों राज के बड़बोले रत्नों की चर्चा जोरों पर है। हो भी क्यों ना, जोधपुर वाले अशोक जी भाईसाहब दूर की सोचते हैं, लेकिन उनके बड़बोले रत्न न आगा सोचते हैं और न ही पीछा। अपनी आदतों से सबकुछ गड़बड़ कर देते हैं।

30/11/2020

न्यायालयों में भ्रष्टाचार!

बावजूद इसके की समय-समय पर अदालतों के कथित भ्रष्टाचार के उदाहरण सामने आते रहे हैं, कुल मिलाकर देश की जनता को भरोसा है। इसीलिए बार-बार अदालतों में दूध का दूध और पानी का पानी हो जाने की बातें की जाती हैं।

06/09/2019

औपचारिक मृत्यु नहीं, अनौपचारिक जीवन दीजिए

वर्तमान में अर्थव्यवस्था सुचार रूप से चल रही दिखती है। जीएसटी की वसूली 1,30,000 करोड़ रूपए प्रति माह के नजदीक पहुंच गई है, जो कि आज तक का अधिकतम स्तर है।

10/01/2022

सबके हाथ में है संविधान

एक समय था जब हम इंकलाब के नारे लगाकर कहते थे कि स्वाधीनता हमारा जन्म सिद्ध अधिकार है और हम इसे लेकर रहेंगे।

30/01/2020

भाषा को धर्मों से जोड़ना गलत

वह बचपन से संस्कृत पढ़ रहा था। उसके पिता भी संस्कृत के विद्वान हैं। पहली कक्षा से लेकर एमए तक की पढ़ाई में संस्कृत उसका विषय रहा। संस्कृत में ही डॉक्टरेट भी की उसने। बीएड भी। विश्वविद्यालय में पढ़ाने की सारी योग्यताएं-अर्हताएं उसके पास हैं। पर वह संस्कृत पढ़ा नहीं सकता। नहीं पढ़ा तो सकता है, पर बनारस हिंदू विश्वविद्यालय के संस्कृत विभाग में नहीं।

22/11/2019

युक्तिसगंत बनानी होगी एमएसपी व्यवस्था

आजादी के 75 साल बाद भी एमएसपी पर खरीद कुछ फसलों तक ही सीमित है।

23/11/2021

गांवों का भी हो समुचित विकास

भारत में गांवों के विकास के बिना समग्र भारत का विकास संभव ही नहीं है।

04/01/2022