Dainik Navajyoti Logo
Wednesday 22nd of September 2021
 
ओपिनियन

परफेक्ट जीवनसंगी की तलाश? राजस्थानी मैट्रिमोनी पर निःशुल्क  रजिस्ट्रेशन करे!

यह भी पढ़ें:

जानिए, राजकाज में क्या है खास?

तेवर तो तेवर ही होते हैं, कब बदल जाएं, कोई पता नहीं। अब देखो ना सूबे में राज करने वाले के ही तेवर बदले तो, बहुत कुछ बदल गया। हाथ वाली पार्टी के एक नेताजी ने तो ऐसे तेवर बदले कि न तो आगा सोचा और न ही पीछा। उनके बदलते तेवरों का असर भगवा वाले भाई लोगों पर पड़ता दिखा, तो तुरंत सर्जरी कर दी गई, लेकिन हाथ वाले डॉक्टर साहब को तो अभी तक मर्ज ही समझ में नहीं आ रहा कि तेवर वाली बीमारी दाएं तरफ है कि बांयी ओर।

01/09/2020

एक दूसरे से करते हैं प्यार हम...

परिवार व्यक्ति एवं समाज सभी के लिए एक महत्वपूर्ण ईकाई है। गत कुछ दशकों में हुए तीव्र आर्थिक, सामाजिक, सांस्कृतिक यहां तक कि भौगोलिक स्थितियों में परिवर्तन

15/05/2019

इस्लाम बनाम पश्चिम की दुनिया

समयक्रम में दोनों संस्कृतियां अलग-अलग दिशा में बढीं। इस्लाम में परिवर्तन आया।

23/08/2021

हम अपने सरोकारों को भूल गए हैं?

आज देश में सभी तरफ आर्थिक एवं सामाजिक बेचैनी का वातावरण है। मनुष्य और मनुष्य के बीच दूरियां बनती जा रही है। शहर और गांवों को विभाजित किया जा रहा है।

13/09/2019

जानें राज-काज में क्या है खास

सरदार पटेल मार्ग स्थित बंगला नंबर 51 में बने भगवा वाले ठिकाने पर एक ऐसी कुर्सी है, जो पिछले 27 दिनों से खाली है।

22/07/2019

जानिए राजकाज में क्या है खास?

सूबे की राजनीति में केबिनेट रिशफलिंग को एक बार फिर शगूफा उठा है। शगूफा भी पिंकसिटी से लेकर लालकिले वाली नगरी तक दौड़ रहा है। रिशफलिंग को लेकर हर कोई अपने हिसाब से मायने निकाल रहा है। निकाले भी क्यों नहीं, राजधर्म आड़े जो आ रहा है। दिल्ली तक की भाग दौड़ में एक बात का खुलासा हुआ है कि आलाकमान को एक सूची को इंतजार है।

14/06/2021

जानिए राजकाज में क्या है खास?

दो साल के जलसे में डूबे हाथ वाले कुछ भाई लोगों की नजरें दिल्ली की तरफ टिकी हुई हैं। वे पल-पल की खबरें ले रहे हैं। ले भी क्यों नहीं, जोधपुर वाले अशोकजी भाईसाहब का दस महीने बाद पगफेरा जो हुआ है। इंदिरा गांधी भवन में बने हाथ वाले के ठिकाने पर चर्चा है कि भाईसाहब का जब भी दिल्ली में पगफेरा होता है तो किसी न किसी का हिट विकेट होता है।

21/12/2020