Dainik Navajyoti Logo
Monday 2nd of August 2021
 
ओपिनियन

परफेक्ट जीवनसंगी की तलाश? राजस्थानी मैट्रिमोनी पर निःशुल्क  रजिस्ट्रेशन करे!

यह भी पढ़ें:

जानिए राजकाज में क्या है खास?

सूबे में इन दिनों हाथ वाले भाई लोग 19 और 27 के फेर में फंसे हुए हैं। दोनों खेमों के नेताओं के 11 महीनों से समझ में नहीं आ रहा कि आखिर इस फेर के चक्रव्यूह का तोड़ क्या है। दिल्ली वाले नेता भी इसके चलते चुप रहने में ही अपनी भलाई समझ रहे हैं।

21/06/2021

उन्नति का मूलमंत्र राष्ट्रवाद

देश के विपक्षी दल कहते हैं कि चुनाव असली मुद्दों पर लड़ा जाए न कि राष्ट्रवाद या राष्ट्रीय सुरक्षा पर। लेकिन राष्ट्र की सुरक्षा तो सबसे बड़ा मुद्दा है क्योंकि यह देश की सम्प्रभुता

03/05/2019

जानिए राजकाज में क्या है खास?

सूबे में हाथ वाले कुछ भाई लोगों की हालत इन दिनों काफी पतली है। भाई लोगों ने भी पिछले साल जुलाई के महीने में मुंगेरीलाल की तर्ज पर हसीन सपने देखने के साथ ही मानेसर में खूब मौज मस्ती की थी। अब बेचारों की न तो दिल्ली में सुनवाई हो रही है और न ही ही वे सूबे में राज के दरबार में घुस पा रहे हैं। उनके समझ में नहीं आ रहा है कि जल्दबाजी में बिगड़े फ्यूचर को वापस संवारने के लिए कौनसा जतन किया जाए।

24/05/2021

'बच्चों को ढाल बनाते हैं उपद्रवी, 95 प्रतिशत कश्मीरी शांति से चाहते हैं हल'

गृहमंत्री राजनाथ सिंह और जम्मू-कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने संयुक्त प्रेस कांफ्रेंस में जम्मू-कश्मीर के हालात पर बात की। राजनाथ ने कांफ्रेंस में कहा कि कश्मीर में छोटे बच्चों को बरगलाया जाता है, कुछ लोग बच्चों को पत्थर मारने के लिए तैयार करते हैं। सभी कश्मीर में शांति चाहते हैं, घाटी के हालात को लेकर बहुत दुखी हूं।

25/08/2016

जानिए राजकाज में क्या है खास?

सूबे में इन दिनों राज के बड़बोले रत्नों की चर्चा जोरों पर है। हो भी क्यों ना, जोधपुर वाले अशोक जी भाईसाहब दूर की सोचते हैं, लेकिन उनके बड़बोले रत्न न आगा सोचते हैं और न ही पीछा। अपनी आदतों से सबकुछ गड़बड़ कर देते हैं।

30/11/2020

न्यायालयों में भ्रष्टाचार!

बावजूद इसके की समय-समय पर अदालतों के कथित भ्रष्टाचार के उदाहरण सामने आते रहे हैं, कुल मिलाकर देश की जनता को भरोसा है। इसीलिए बार-बार अदालतों में दूध का दूध और पानी का पानी हो जाने की बातें की जाती हैं।

06/09/2019

बगदादी के बाद भी खतरा खत्म नहीं

इस्लामिक स्टेट के प्रमुख अबू बकर अल-बगदादी की मौत से दुनिया के कई देशों पर मंडराता रहा आतंकी खतरा क्या खत्म हो गया है? सवाल का सीधा जवाब सिर्फ है, नहीं।

08/11/2019