Dainik Navajyoti Logo
Sunday 17th of January 2021
 
ओपिनियन

यह भी पढ़ें:

जानिए, राजकाज में क्या है खास?

इंदिरा गांधी भवन में बने पीसीसी के ठिकाने पर इन दिनों कई भाई लोगों की आंखें लाल हैं। जब भी उनका ठिकाने पर पगफेरा होता है, तो कोई न कोई बखेड़ा हुए बिना नहीं रहता। अब देखो ना राज ने ठिकाने पर जनता दरबार लगाते समय यह थोड़े सोचा था कि अपने ही रत्नों को इन लाल आंखों वालों से रूबरू होना पड़ेगा।

14/10/2019

आंध्र प्रदेश में एक बार फिर शराब बंदी

इन पर कर राज्य सरकारों के अधिकारों के अंतर्गत आता है। लेकिन इसके पीछे असली कारण यह था कि राज्य सरकारों को सबसे अधिक आय इन्हीं मद्दों से आती है।

14/10/2019

सभी रंग तुम्हारे निकले!

‘शायरी’ मेरे लिए शब्द के माध्यम से अपने होने का रूपक रचने की कोशिश है। सारी भौतिक-अभौतिक सृष्टि रूपकों के एक परस्पर-संबद्ध सिलसिले में पिरोई हुई है।

22/04/2019

राजनीति में अपराधीकरण

देश की राजनीति को अपराधीकरण से मुक्त करने के लिए अपराधी राजनेताओं का राजनीति में भाग लेने पर संपूर्ण प्रतिबंध लगाना बहुत जरूरी है।

04/02/2020

पाठ्यक्रमों में बदलाव

थानागाजी सामूहिक बलात्कार-कांड को लेकर गरमाया राजनीतिक बवेला, अभी शांत हुआ भी नहीं था कि विद्यालयीय पाठ्यक्रम में बदलाव को लेकर प्रदेश में नया सियासी-बखेड़ा उठ खड़ा हुआ है।

15/05/2019

साहस शक्ति की प्रतीक श्रीमती इन्दिरा गांधी

पूर्व प्रधानमंत्री अटलबिहारी वाजपेयी ने अपनी पुस्तक ‘मेरी संसदीय यात्रा’ में लिखा है ‘ बंगलादेश निर्माण में इन्दिरा जी की भूमिका सदैव ही सराही जाएगी।

19/11/2019

जानिए, राजकाज में क्या है खास?

इन दिनों सुन्दरकांड को लेकर सूबे की सबसे बड़ी पंचायत में चर्चा जोरों पर है। सुन्दरकांड भी कोई छोटा-मोटा पंडित नहीं बांच रहा

15/07/2019