Dainik Navajyoti Logo
Sunday 1st of August 2021
 
ओपिनियन

परफेक्ट जीवनसंगी की तलाश? राजस्थानी मैट्रिमोनी पर निःशुल्क  रजिस्ट्रेशन करे!

यह भी पढ़ें:

जानिए, राजकाज में क्या है खास?

राज का काज करने वालों की जुबान पर आजकल दो नाम चढ़े हुए हैं। इनमें एक सबसे बड़े सरकारी साहब हैं, तो दूसरे वे अफसर हैं, जिन्होंने राज के खजाने की चाबी संभाल रखी है।

12/08/2019

अमेरिका ने पाकिस्तान की नींद उड़ाई

पाकिस्तान की बदनाम गुप्तचर एजेंसी आईएसआई का वह पालतू आतंकवादी है, पाकिस्तान ने भारत में दंगे कराने, अपराध कराने के लिए दाउद इब्राहिम को एक हथकंडे के तौर पर इस्तेमाल करता है।

09/07/2019

जानिए, राजकाज में क्या है खास?

तेवर तो तेवर ही होते हैं, कब बदल जाएं, कोई पता नहीं। अब देखो ना सूबे में राज करने वाले के ही तेवर बदले तो, बहुत कुछ बदल गया। हाथ वाली पार्टी के एक नेताजी ने तो ऐसे तेवर बदले कि न तो आगा सोचा और न ही पीछा। उनके बदलते तेवरों का असर भगवा वाले भाई लोगों पर पड़ता दिखा, तो तुरंत सर्जरी कर दी गई, लेकिन हाथ वाले डॉक्टर साहब को तो अभी तक मर्ज ही समझ में नहीं आ रहा कि तेवर वाली बीमारी दाएं तरफ है कि बांयी ओर।

01/09/2020

जम्मू कश्मीर के लिए नए सूरज का उदय

जम्मू कश्मीर में नए सूरज का उदय हुआ है। सरदार वल्लभ भाई पटेल के जन्म दिवस से अनुच्छेद 370 खत्म करने का विधान तथा जम्मू कश्मीर पुनर्गठन अधिनियम लागू होने के साथ जम्मू कश्मीर के चरित्र एवं ढांचे में आमूल परिवर्तन आ गया है। इसे लागू करने का सरदार पटेल की जंयती से बेहतर दिन नहीं हो सकता था।

04/11/2019

तीसरे मोर्चे की फिर सुगबुगाहट

लोकसभा चुनावों के नतीजे आने में दो सप्ताह से भी कम समय रहने के साथ ही एक बार फिर गैर एनडीए और गैर यूपीए तीसरा मोर्चा बनाने की सुगबुगाहट एक बार फिर शुरू हो गयी है।

13/05/2019

जानिए, राजकाज में क्या है खास?

इंदिरा गांधी भवन में बने पीसीसी के ठिकाने पर इन दिनों कई भाई लोगों की आंखें लाल हैं। जब भी उनका ठिकाने पर पगफेरा होता है, तो कोई न कोई बखेड़ा हुए बिना नहीं रहता। अब देखो ना राज ने ठिकाने पर जनता दरबार लगाते समय यह थोड़े सोचा था कि अपने ही रत्नों को इन लाल आंखों वालों से रूबरू होना पड़ेगा।

14/10/2019

'बच्चों को ढाल बनाते हैं उपद्रवी, 95 प्रतिशत कश्मीरी शांति से चाहते हैं हल'

गृहमंत्री राजनाथ सिंह और जम्मू-कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने संयुक्त प्रेस कांफ्रेंस में जम्मू-कश्मीर के हालात पर बात की। राजनाथ ने कांफ्रेंस में कहा कि कश्मीर में छोटे बच्चों को बरगलाया जाता है, कुछ लोग बच्चों को पत्थर मारने के लिए तैयार करते हैं। सभी कश्मीर में शांति चाहते हैं, घाटी के हालात को लेकर बहुत दुखी हूं।

25/08/2016