Dainik Navajyoti Logo
Wednesday 22nd of September 2021
 
नागौर

सफदरजंग अस्पताल के कोरोना वार्ड में लोगों की जिंदगियां बचाने में जुटी है बिखरनियां की बेटी रेखा प्रजापत

Wednesday, May 06, 2020 18:05 PM
डॉक्टर हर्षवर्धन को हालात की जानकारी देते हुए नर्सिंगकर्मी रेखा प्रजापत।

रियां बड़ी/पादू कलां। पूरी दुनिया कोरोना संकट का सामना कर रही है। देश में भी जो लोग वायरस से संक्रमित हो चुके हैं उन्हें बचाने का हर संभव प्रयास किया जा रहा है। इसके चलते देश के कई चिकित्साकर्मियों की जान भी जा चुकी है। ऐसे विकट माहौल में भी नागौर जिले के बिखरनियां गांव के गणपतराम प्रजापत की पुत्री रेखा प्रजापत अपने बुलंद हौसले, मजबूत इच्छाशक्ति और सेवा-समर्पण की भावना के साथ देश की राजधानी नई दिल्ली के वर्धमान महावीर मेडिकल कॉलेज सफदरजंग हॉस्पिटल के कोरोना वार्ड में कोरोना का फ्रंट से सामना करते हुए उसे मात देकर लोगों की जान बचाने में जुटी है। रेखा के निस्वार्थभाव से की जा रही इस ड्यूटी के लिए पिछले दिनों यहां दौरे पर आए देश के स्वास्थ्यमंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन ने भी उसकी तारीफ़ कर हौसलाअफजाई की थी।
 
रेखा प्रजापत पिछले आठ महीनों से नई दिल्ली के वर्धमान महावीर मेडिकल कॉलेज सफदरजंग हॉस्पिटल में बतौर नर्सिंग ऑफिसर काम कर रही है। कोरोना के संक्रमण के फैलाव से पहले वो अस्पताल के ऑपरेशन वार्ड में कार्यरत थी, लेकिन दो महीने पहले जब देश की राजधानी में कोरोना संक्रमण का फैलाव होना शुरू हुआ तो उन्हें अस्पताल के कोरोना डिपार्टमेंट के तहत कोरोना वार्ड में तैनात कर दिया गया।

रोज 400 से 500 कोरोना संदिग्धों से होता है सामना
नर्सिंग ऑफिसर प्रजापत ने नवज्योति संवाददाता को बताया की यहां अस्पताल में उनका प्रतिदिन 400 से 500 कोरोना संदिग्धों से सामना होता है, जांच और इलाज के लिए लाये गए लोगों की जांच के बाद हीं पता लग पाता है की वो कोरोना पॉजिटिव है या नेगेटिव। इसके चलते उन्हें ऐसे मरीजों से मिलते समय खासी एहतियात और सावधानी रखनी पड़ती है। उन्होंने बताया की उनके अस्पताल में अभी तक 5 स्वास्थ्यकर्मी कोरोना संक्रमित हो चुके है, जिनमे से दो तो उन्हीं के वार्ड से थे।

डरे हुए कोरोना मरीजों को दिलाती है हौसला
नर्सिंग ऑफिसर प्रजापत ने बताया की पूरी नई दिल्ली में किसी भी क्षेत्र या अस्पताल में कोरोना पॉजिटिव मरीज मिलने पर उसे सीधा यहां सफदरजंग अस्पताल में इलाज के लिए भेज दिया जाता है। अभी तक यहां पर 3515 कोरोना मरीजों को लाया गया है। उन्होंने बताया की जब कोरोना मरीजों को यहां लाया जाता है तो वो बुरी तरह से डरे हुए होते है और उनमे कोरोना के चलते अपनी मौत का भय होता है। पर यहां पर वो व उनके स्टाफ मिलकर ऐसे मरीजों को काउंसलिंग कर हौसला दिलाती है और उन्हें बताती है की थोड़ी सी सावधानियां, अपनी इच्छाशक्ति और इम्युनिटी पावर को बढ़ाकर इस बीमारी से निजात पाई जा सकती है। उन्होंने बताया की बेहतर काउंसलिंग के चलते हीं यहां लाए गए 3515 कोरोना मरीजों में से 1094 मरीजों को पूरी तरह ठीक किया जा चुका है।

सावधानियां रखे और बिना काम बाहर न निकले
इस दौरान नर्सिंग ऑफिसर रेखा प्रजापत ने कहा की कोरोना के चलते घबराने की बिलकुल जरुरत नहीं है, पर इससे बचाव के लिए हाथ धोने, मुंह व नाक को न छूने व मास्क लगाने जैसी छोटी छोटी सावधानियां रखने की जरुरत है। इसके अलावा बेवजह घरों से बाहर न निकले और अगर तेज बुखार, खांसी या जुकाम हो तो तुरंत नजदीकी अस्पताल में अपनी जांच कराएं।

ग्राम पंचायत बिखरनियां कला के सरपंच रामनिवास भाम्भू ने बताया कि अपनी जान की परवाह किए बगैर लोककल्याण के लिए निस्वार्थ भाव से मानव जीवन बचाने के कार्य में जुटी बिखरनियाँ की बेटी रेखा प्रजापत पर पूरे क्षेत्र को नाज है।
 

परफेक्ट जीवनसंगी की तलाश? राजस्थानी मैट्रिमोनी पर निःशुल्क  रजिस्ट्रेशन करे!

यह भी पढ़ें:

नागौर के बासनी कस्बे में एक साथ मिले 5 कोरोना पॉजिटिव

नागौर जिले के बासनी कस्बे में रविवार को एक साथ पांच कोरोना पॉजिटिव सामने आए हैं। यहां पूर्व में 5 अप्रैल को एक कोरोना संक्रमित मिल चुका है। ऐसे में अब तक जिले के कुल 6 पॉजिटिव केस सामने आ चुके हैं।

12/04/2020

मदर्स डे: 39 साल पहले पति की हत्या, लोगों के घरों में काम कर बच्चों को पढ़ाया और कामयाब बनाया

आज मदर्स डे है, इसलिए आज खबर नहीं एक ऐसी मां के संघर्ष की सच्ची कहानी बता रहे हैं, जिसने आज से 39 साल पहले एक विवाद के चलते पति की हत्या हो जाने के बाद भी हार नहीं मानी और विपरीत परिस्थितियों में संघर्षों से जूझते हुए लोगों के घरों में झाड़ू-पोछा, बर्तन व कपड़े धोकर अपने बच्चों का पालन पोषण किया, अच्छी शिक्षा दिलाई और उन्हें सफलता के मुकाम तक पहुंचाया।

10/05/2020

नागौर: विवादित प्लॉट पर अंबेडकर की मूर्ति लगाने पर विवाद

दो पक्षों की तनातनी के बीच लवादर गांव बना छावनी, शाम को समझाइश के बाद हटाई मूर्ति

16/06/2019

रिश्वत लेते वीडीओ और रोजगार सहायक का पति गिरफ्तार, पट्टा बनाने की एवज में मांगी थी रकम

भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो की टीम ने मकान का पट्टा बनाने की एवज में रिश्वत लेते ग्राम पंचायत ढींगसरा के ग्राम विकास अधिकारी व रोजगार सहायक के पति को 5 हजार रुपए की राशि लेते गिरफ्तार किया है।

21/11/2019

सेल्समैन ने कर्ज उतारने के लिए रची थी लूट की साजिश

पुलिस ने ग्राम छोटी खाटू में 20 जून को एक निजी कंपनी के दो सेल्समैन को गन दिखाकर करीब 3 लाख रुपए से भरे बैग, मोबाइल व मोटरसाइकिल लूटने के मामले में पुलिस ने पर्दाफाश करते हुए तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लूट की रकम बरामद कर ली।

29/06/2019

बाइक सवार नकाबपोश हमलावरों ने की फायरिंग, युवक की मौत एक घायल, पुलिस हमलावरों की तलाश में जुटी

मकराना अज्ञात नकाबपोश हमलावरों ने मंगलवार शाम दो युवकों पर फायरिंग कर दी। फायरिंग में डीडवाना के रहने वाले एक युवक की मौके पर ही मौत हो गई जबकि एक अन्य युवक गंभीर रूप से घायल हो गया

03/03/2020

शातिर दिनदहाड़े बैंक से पांच लाख की नकदी चुराकर फरार

शातिर दिनदहाड़े बैंक से पांच लाख की नकदी चुराकर फरार कैशियर के टॉयलेट जाते ही मौका पाकर नकद काउंटर से चुराए रुपए, बैंक के सीसीटीवी फुटेज में नजर आया संदिग्ध युवक

10/01/2020