Dainik Navajyoti Logo
Friday 22nd of October 2021
 
खास खबरें

महागौरी की विधि-विधान से करें पूजा

Wednesday, October 13, 2021 10:20 AM
जय माता दी।

मां दुर्गा को समर्पित त्योहार नवरात्रि अब समापन की ओर की है। नवरात्रि में मां दुर्गा के नौ स्वरूपों की विधि-विधान से पूजा की जाती है। 13 अक्टूबर को नवरात्रि का आठवां दिन है। नवरात्रि के आठवें दिन मां महागौरी की पूजा की जाती है। माता का रंग अत्यंत गोरा है, इसलिए इन्हें महागौरी के नाम से पुकारते हैं। शास्त्रों के अनुसार मां महागौरी ने कठिन तप कर गौर वर्ण प्राप्त किया था। मान्यता है कि मां महागौरी भक्तों पर अपनी कृपा बरसाती हैं और उनके बिगड़े कामों को पूरा करती हैं।   माता महागौरी की पूजा करते समय पीले या सफेद वस्त्र भी धारण कर सकते हैं। महागौरी का पूजन करते समय पीले फूल अर्पित करने चाहिए। महागौरी को हलवा का भोग लगाना चाहिए। मान्यता है कि माता रानी को काले चने प्रिय हैं।

 पूजा-विधि
    सबसे पहले सुबह उठकर स्रान आदि से निवृत्त हो जाएं।
    इसके बाद चौकी पर माता महागौरी की प्रतिमा या तस्वीर स्थापित करें। इसके बाद गंगा जल से शुद्धिकरण करना चाहिए।
    अब चौकी पर चांदी, तांबे या मिट्टी के घड़े में जल भरकर उस पर नारियल रखकर कलश स्थापना करें। 
   इसके बाद चौकी पर श्रीगणेश, वरुण, नवग्रह, षोडश मातृका, सप्त घृत मातृका ,सिंदूर की बिंदी लगाएं आदि की स्थापना करें।
   अब महाष्टमी या दुर्गाष्टमी व्रत का संकल्प लें और मंत्रों का जाप करते हुए मां महागौरी समेत समस्त देवी-देवताओं का ध्यान लगाएं। 
   मां महागौरी का आवाहन, आसन, अर्ध्य,आचमन, स्रान, वस्त्र, सौभाग्य सूत्र, चंदन, रोली,हल्दी, सिंदूर, दुर्वा,आभूषण, फूल, धूप-दीप, फल,पान,दक्षिणा,आरती, मंत्र करें। इसके बाद प्रसाद बांटें।
   महाष्टमी की पूजा के बाद कन्याओं को भोजन कराना उत्तम माना गया है।

परफेक्ट जीवनसंगी की तलाश? राजस्थानी मैट्रिमोनी पर निःशुल्क  रजिस्ट्रेशन करे!

यह भी पढ़ें:

घट स्थापना के साथ शारदीय नवरात्र प्रारंभ, किसी तिथि का क्षय नहीं होने से इस बार नौ दिन के नवरात्र

शारदीय नवरात्र का प्रारम्भ हो गया है। इस बार नौ दिन के नवरात्र हैं। 29 सितंबर से प्रारम्भ होकर 7 अक्टूबर तक यह चलेंगे। 8 अक्टूबर को विजय दशमी है। इस दिन देवी प्रतिमाओं का विसर्जन होगा।

29/09/2019

अलविदा 2019 : पंचायत पुनर्गठन से बदला ढांचा, नरेगा में केन्द्र ने थपथपाई पीठ

प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों के लिहाज से यह साल काफी बदलाव भरा रहा। ग्राम पंचायत और पंचायत समितियों के पुनर्गठन और पुनर्सीमांकन प्रक्रिया से ग्रामीण क्षेत्र के ढांचे में बड़ा बदलाव आया तो शैक्षणिक योग्यता की बाधा हटाकर भी राज्य सरकार ने बड़ा परिवर्तन कर दिखाया।

09/12/2019

असम में बाढ़ का कहर, घर के बेड पर आराम फरमाते मिला बंगाल टाइगर

असम में बाढ़ के कहर ने लोगों का जनजीवन अस्त व्यस्त कर दिया है। बाढ़ से लोग ही नहीं जानवर भी बेहाल हैं।

19/07/2019

अजब गजब: एक रात में लिखी गई थी ये शैतानी किताब, इसके रहस्य का आज तक नहीं चला पता

हर धर्म का अपना एक ग्रन्थ होता है। जिसकी शिक्षाओं को उस धर्म के मानने वाले ताउम्र अनुसरण करते हैं। ईसाई धर्म का भी ग्रन्थ है। जिसे बाइबिल कहा जाता है। ईसाई धर्म के इस ग्रन्थ को पवित्र माना जाता है, लेकिन दुनिया में एक ऐसी भी किताब है जिसे शैतानों की किताब कहा जाता है। जिसका नाम डेविल्स बाइबिल है।

04/03/2021

डिफरेंट थीम पर सेलिब्रेट होगा क्रिसमस

क्रिसमस और न्यू-ईयर सेलिब्रेशन के लिए होटलों और रेस्टोेरेंट्स ने तैयारियों शुरू कर दी हैं। हर बार नई थीम के साथ इन दिनों को सेलिब्रेट किया जाता है।

02/12/2019

पुलिस में सकारात्मक काम करना कम हो गया है: डीजीपी भूपेन्द्र सिंह

ऐसे में पुलिस में सकारात्मक और अच्छे काम करना कम हो गया। भविष्य में सकारात्मक पहलू को बढ़ाने पर ध्यान दिया जाएगा।

01/07/2019

करवाचौथ के व्रत का सावित्री और द्रौपदी से है खास जुड़ाव

करवा चौथ हिन्दुओं का एक प्रमुख त्योहार है। यह भारत के पंजाब, उत्तर प्रदेश, हरियाणा, मध्य प्रदेश और राजस्थान का पर्व है। यह कार्तिक मास की कृष्ण पक्ष की चतुर्थी को मनाया जाता है। यह पर्व सुहागिन स्त्रियां मनाती हैं।

13/10/2019