Dainik Navajyoti Logo
Sunday 15th of December 2019
 
खास खबरें

बेटे की चाहत में 11 बेटियों को जन्म दे चुकी गुड्डी की अब पूरी हुई इच्छा

Saturday, November 23, 2019 10:30 AM
गुड्डी बेटे की चाहत में 11 बेटियों को जन्म दे चुकी है, अब उनके बेटे हुआ है।

चूरू। जोर-शोर से प्रचार प्रसार तो यही हो रहा है कि बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ या एक बेटी हजार बेटों के बराबर। भले ही कहावतों में हम ऐसी अनेक अच्छी बातें कर लें, लेकिन अभी भी कई ऐसे लोग हैं, जिनकी सोच बेटों और बेटियों में फर्क करती है। जिले में एक ऐसा चौंकाने वाला मामला सामने आया है, जिसमें एक मां बेटा पाने के लिए 11 बेटियों को जन्म दे चुकी है। बीते 20 नवम्बर को उसे फिर प्रसव पीड़ा हुई। शुक्र है उसने इस बार पुत्री को नहीं पुत्र को जन्म दिया।

जानकारी के मुताबिक चूरू जिले की तारानगर तहसील के झाड़सर गांव की 41 वर्षीय गुड्डी एक बेटे की चाहत में 11 बेटियों को जन्म दे चुकी है। बीती 20 नवम्बर को उसे चूरू के राजकीय मातृ एवं शिशु अस्पताल में भर्ती करवाया गया, जहां उसने बेटे को जन्म दिया है। गुड्डी को अपनी 11 बेटियों के नाम ठीक से याद नहीं हैं। बेटा पाने के बाद अब वह खुश है। उसने बताया कि गांव के लोग बेटा नहीं होने पर उसे अक्सर ताना दिया करते थे। उसका पति भी वंश बढ़ाने के लिए बेटा चाहता था। गुड्डी का पति कृष्ण कुमार गांव में स्थित भट्टे पर चाय की दुकान चलाता है।

तीन बेटियों की हो चुकी है शादी
इस दम्पती की बड़ी बेटी 22 साल की है। गुड्डी अपनी तीन बेटियों की शादी भी करवा चुकी है जिनमें एक की शादी धीरवास तथा दो की शादी नापासर में हुई है। गुड्डी का नवजात बेटा जन्म के साथ मामा भी बन गया है क्योंकि उससे बडे उसकी बहिन के बेटे हैं। गुड्डी ने बताया कि उसकी 3 बेटियां प्राइवेट स्कूल में और बाकी सरकारी स्कूल में पढ़ती है। दो छोटी बेटियां अभी घर में रहती है। 

यह भी पढ़ें:

चांद बावडी में की जाएगी लाइटिंग

दौसा जिले के बांदीकुई में स्थित आठवीं सदी की चांद बावडी का दृश्य है। यहां पर्यटन विभाग की ओर से आभानेरी उत्सव का आयोजन होगा।

26/09/2019

साइकिल से किया था चुनाव प्रचार, बने सांसद, मोदी ने बनाया मंत्री

ओडिशा की बालासोर सीट से प्रताप चंद्र सारंगी सासंद बने है। इसके बाद मोदी ने उन्हें राज्यमंत्री बनाया है। चुनाव जीतने के बाद से ही सारंगी चर्चा में हैं।

01/06/2019

नई तकनीकों से संभव है ब्रेन ट्यूमर का इलाज

30 साल के हुलासमल और 50 साल की यशोदा को जब पता चला कि उन्हें ब्रेन ट्यूमर है तो मानों उनकी जिंदगी जैसे थम सी गई थी। जबकि नई तकनीकों से ब्रेन ट्यूमर का ईलाज संभव है और व्यक्ति जिंदगी पहले की तरह ही जी सकता है।

08/06/2019

किसानों के उत्पादों को बढ़ावा देने के लिए IAS अफसर 10 KM पैदल चलकर जाता है सब्जी खरीदने

वेस्ट गारो हिल्स में तैनात आईएएस अफसर रामसिंह ने हाल ही में अपने फेसबुक और इंस्टाग्राम अकाउंट से कुछ तस्वीरें पोस्ट की है। जिसमें उन्होंने बताया कि स्थानीय किसानों और उनके उत्पादों को बढ़ावा देने के लिए हर दिन अपने दफ्तर से 10 किलोमीटर पैदल चलकर घर जाते हैं। इस दौरान रास्ते में वे सब्जियां और जरूरत के सामान खरीदते हैं।

26/09/2019

FathersDay: भारत और पाक मैच करेगा एंजॉय तो कोई देगा गिफ्ट

पिता आमतौर पर हमारी जिंदगी के अनसुने, बिसरा दिए गए नायकों की तरह होते हैं। वे चुनौतियों से हमें डटकर सामना करने की प्रेरणा देते हैं।

14/06/2019

सीतारमण 49 वर्ष बाद बनी बजट पेश करने वाली दूसरी महिला वित्त मंत्री

निर्मला सीतारमण को 49 साल बाद बजट पेश करने वाली देश की दूसरी महिला वित्त मंत्री का गौरव हासिल हुआ है।

05/07/2019

आसमान से खेत में गिरा रहस्यमयी पत्थर, देखने आ रहे लोग

बिहार के मधुबनी जिले के लौकही प्रखंड के कोरियाही गांव के एक खेत में आसमान से एक रहस्यमयी पत्थर गिरने का मामला चर्चाओं में है।

23/07/2019