Dainik Navajyoti Logo
Friday 22nd of October 2021
 
खास खबरें

तालिबान को क्यों सपोर्ट कर रहा है चीन

Thursday, September 16, 2021 12:35 PM
कॉन्सेप्ट फोटो

अफगानिस्तान में तालिबान की वापसी पाकिस्तान और चीन की जीत की तरह से देखा जा रहा है। पाकिस्तान तालिबान को लगातार सपोर्ट करता रहा है और चीन 2019 से लगातार तालिबान का हमदर्द और बिग ब्रदर बना हुआ है।
मजबूत कर रहा है चीन
तालिबान ने कहा है कि चीन ने तालिबान-अमेरिका समझौते को सपोर्ट किया है और समाधान के लिए उचित रास्ता बताया है। तालिबान और चीन के टॉप नेता कई बार कई मसलों को लेकर मिल चुके हैं। तालिबान ने चीन सहित कई देशों को उद्घाटन कार्यक्रम में बुलाया है।
 तालिबान का सपोर्ट  
चीनी एक्सपर्ट्स की मानें तो तालिबान और चीन दोनों को एक दूसरे की जरूरत है। चीन, शिनजियांग क्षेत्र में उग्रवाद से लड़ रहा है। ईस्ट तुर्कमेनिस्तान इस्लामिक मूवमेंट एक उइगर इस्लामिक कट्टरपंथी संगठन है जो चीन-अफगानिस्तान बॉर्डर क्षेत्र से संचालित होता है। चीन द्वारा पकड़े जाने से बचने के लिए ये लड़ाके अफगानिस्तान भाग जाते हैं। रिपोर्ट्स बताती हैं कि अफगानिस्तान में अब भी कई लड़ाके हैं। ऐसे में चीन ने तालिबान से आश्वासन मांगा है कि वह इनको अफगानिस्तान की जमीन पर कोई जगह नहीं दे। इसके जवाब में तालिबान ने कहा है कि वह लड़ाकों को चीन भेज देंगे जहां चीन की सेना विद्रोहियों से निपट सकती है।
सिर्फ  चीन क्यों
चीन अपने फायदे के लिए सभी सिद्धांतों को ताक पर रखने वाले देशों में से है। यूनाइटेड नेशंस में जैश.ए.मोहम्मद के आतंकी मसूद अजहर के खिलाफ प्रतिबंधों को रोकने के लिए चीन खुलकर सामने आया था। ऐसे में चीन, अफगानिस्तान में बड़ा खिलाड़ी बनने की राह में है। मध्य और पश्चिम एशिया में अपनी पहुंच बढ़ाने के लिए चीनए चीन-पाकिस्तान इकॉनोमिक कॉरिडोर का विस्तार भी कर सकता है।


खनिज संसाधन
अफगानिस्तान खनिज संसाधनों से भरा हुआ है। कई दुर्लभ धातु भी अफगानिस्तान में पाए जाते हैं। ऐसे में चीन की नजरें इन खनिज संसाधनों पर हैं। अफगानिस्तान के उबड़.खाबड़ पहाड़ों से खनिज निकालने की तकनीक चीन के पास है। तालिबान को सरकार चलाने के लिए राजस्व भी चाहिए। ऐसे में तालिबान, चीन को अफगानिस्तान में जगह देने को तैयार है।

परफेक्ट जीवनसंगी की तलाश? राजस्थानी मैट्रिमोनी पर निःशुल्क  रजिस्ट्रेशन करे!

यह भी पढ़ें:

Happy New Year 2020: नये साल में लें कुछ सकंल्प, जिससे आपका व्यक्तित्व और करियर हो बेहतर

नववर्ष 2020 का आगाज होने चुका है। 2019 हमारे लिए खट्टे-मीठे अनुभवों से भरा रहा। अब समय है पिछले साल की अपनी उपलब्धियों और गलतियों का आंकलन करके नए साल के लिए नए संकल्प और लक्ष्य निर्धारित करने का।

01/01/2020

साउथ अफ्रीका की जोजिबिनी टूंजी ने जीता मिस यूनिवर्स-2019 का खिताब

साउथ अफ्रीका की जोजिबिनी टूंजी ने ब्यूटी कॉन्टेस्ट मिस यूनिवर्स 2019 का खिताब जीता है। अमेरिका में मिस साउथ अफ्रीका को यह ताज पहनाया गया।

10/12/2019

बाघ ने दी भालू को चेतावनी

रणथम्भौर टाइगर रिजर्व में विभिन्न प्रजातियों के वन्यजीवों का संसार बसता है। जहां पर्यटकों को बाघ, पैंथर, नील गाय, भालू आदि वन्यजीवों को देखने का मौका मिलता है।

21/05/2019

5 सितंबर शिक्षक दिवस विशेष

फिर से गुरुकुल पद्धति की ओर लौटना होगा!

04/09/2021

मैसूरु जहां आज भी सजता है 'राजदरबार', विजयादशमी पर निकलती है भव्य सवारी

आजादी के बाद भले ही देशभर की विभिन्न रियासतों का विलय हो गया हो, लेकिन कर्नाटक से करीब 150 किलोमीटर दूर स्थित मैसूरु शहर में आज भी भव्य ‘राजदरबार’ सजता है। बाकायदा, राजपरिवार का वंशज यानी राजा का स्वर्ण निर्मित राज सिंहासन पर बैठना, राजसी वस्त्र और गहने धारण करना।

30/09/2019

पुराने घाट का कमनीय आकर्षण

सन् 1945 का किशनपोल बाजार का चित्र, जिसमें दो महिलाएं रूई की गांठ उठा रही हैं।

12/08/2019

ट्रंप ने गांधी, विवेकानंद, सचिन, विराट का किया जिक्र, बॉलीवुड और त्योहारों पर भी की बात

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने मोटेरा क्रिकेट स्टेडियम में 1 लाख से ज्यादा लोगों को संबोधित किया। उन्होंने अपने संबोधन की शुरुआत, नमस्ते कहकर की। उन्होंने कहा कि भारत आना एक गर्व की बात है, नरेंद्र मोदी एक चैंपियन हैं जो भारत को विकास की दिशा में आगे बढ़ा रहे हैं।

24/02/2020