Dainik Navajyoti Logo
Friday 28th of January 2022
 
खास खबरें

शुतुरमुर्ग के 127 साल पुराने 30 अण्डे रखे हैं स्टोर में, अन्दर कुछ नहीं है, बस अण्डे का गोल खोल बचा, अल्बर्ट हॉल संग्रहालय हैंडले की कैट लॉग बुक में है पूरी जानकारी

Wednesday, January 12, 2022 17:40 PM
शुतुरमुर्ग के 127 साल पुराने 30 अण्डे।

जयपुर। अल्बर्ट हॉल संग्रहालय में पर्यटकों ने राजा-महाराजाओं से संबंधित हथियार, हैंडी क्राफ्ट सहित अन्य पुरा-वस्तुएं देखी होगी, लेकिन जब बात अंडों की आए तो हर किसी को हैरानी होगी, लेकिन ये सच है कि संग्रहालय में करीब 30 से अधिक शुतुरमुर्ग के अंडे हैं, जो करीब 127 से अधिक साल पुराने हैं। हैंडले की कैट लॉग बुक में इन अण्डों की जानकारी 1895 में दर्ज है। हालांकि ये अभी संग्रहालय में प्रदर्शित नहीं हैं। अण्डों को संग्रहालय के स्टोर में सुरक्षित रखा गया है। कमाल की बात ये भी है कि ये सभी सही सलामत स्थिति में हैं। पिछले साल आई बारिश में जहां अन्य पुरा-वस्तुओं को नुकसान पहुंचा था, लेकिन ये खराब होने से बच गए थे।

रोचक चीजों का संग्रह
पुरातत्व विभाग के संग्रहालयों में कई रोचक और पुरा-वस्तुएं हैं। पहले संग्रहालयों को अजायबघर के नाम से जाना जाता था, इसलिए इस तरह की चीजें एकत्रित की जाती थी। ये ब्रिटिश काल के समय एकत्रित किए गए अण्डे हैं, हालांकि इनकेअन्दर कुछ नहीं है, बस अण्डे का गोल खोल बचा है।

मंगवाया जाता था विदेशों से
अल्बर्ट हॉल संग्रहालय में डॉक्यूमेंटेशन का कार्य कर रहे नई दिल्ली स्थित इंदिरा गांधी राष्टÑीय कला केन्द्र के परियोजना सहायक कीर्तिपाल सिंह परमार का कहना है कि 19वीं शताब्दी में ये चीजें लोगों के लिए किसी अचंभे से कम नहीं हुआ करती थी। ब्रिटिशकाल के समय का ये कलेक्शन शहर के बायोलॉजिकल पार्क या इंटरप्रिटेशन सेंटर में शिफ्ट किया जा सकता है, ताकि इनकी उपयोगिता बनी रहे।

परफेक्ट जीवनसंगी की तलाश? राजस्थानी मैट्रिमोनी पर निःशुल्क  रजिस्ट्रेशन करे!

यह भी पढ़ें:

गणेश चतुर्थी 2020: कल से शुरू होगा गणेश जन्मोत्सव, जानिए गणपति की स्थापना का शुभ मुहूर्त

देशभर में गणेश चतुर्थी को लोग धूमधाम के साथ मनाते हैं। गणपति को घर लाकर विराजमान करने से लेकर उनके विसर्जन को भी धूमधाम से करते हैं। 10 दिन चलने वाले इस त्यौहार पर गणपति की स्थापना की जाती है। सनातन धर्म में गणपति का स्थान बेहद खास है, उन्हें विघ्नहर्ता के नाम से भी पुकारते हैं।

21/08/2020

राजकाज

चर्चा में नेताजी का नया अंदाज : मुलाकात के मायने : रत्नों की बढ़ती चिंता : मोय मन नहीं लागै : एक जुमला यह भी

01/11/2021

मदर्स डे विशेष : मां ये जीवन ही तुमसे है

मां एक शब्द ही नहीं है, इस शब्द में पूरा संसार समाया हुआ है। मां की परिभाषा का क्षेत्र सीमित नही है वो तो असीमित है किसी समंदर की तरह।

09/05/2019

एक कॉल पर मोबाइल वैन घर पहुंचाएगी पौधे, जयपुर से शुरुआत

प्रदेश में पहली बार मोबाइल वैन की शुरूआत जयपुर से की गई है। इसके तहत अगर किसी व्यक्ति को पौधों की आवश्यकता है तो वे डिविजनल ऑफिस के फोन नम्बर पर कॉल कर पौधे मंगवा सकते हैं।

08/08/2019

योगी सरकार के काम से कितने लोग खुश और कितने नाराज: सर्वे

यूपी में भारतीय जनता पार्टी की सरकार की परीक्षा की घड़ी नजदीक आ गई है।

18/01/2022

मगरमच्छों का टापू व मादा पैंथरों की अठखेलिया बनी आकर्षण

बाली उपखण्ड के सेना ग्राम की पहाड़ी पर नर व मादा पैंथर के साथ अठखेलियां करते दिखे तीन शावक। सूचना ग्रामीणों व पर्यटकों को मिलते ही बड़ी सख्या में ग्रामीण पर्यटक सफारी करते हुए शावकों को देखेने पहुंच गए।

19/01/2022

'कांटों की राह' पर कैसे करें ओलंपिक स्वर्ण की उम्मीद...

रियो ओलंपिक खेलों की खुमारी उतरने में अभी दो या चार दिन का और वक्त लगेगा...जब तक कि दो पदकवीर लड़कियों के गले में डलीं मालाओं के फूल सूख नहीं जाते, इसके बाद अगले ओलंपिक तक आप उनके सिर्फ नाम याद रखेंगे कि हैदराबाद की पीवी सिंधु ने बैडमिंटन में रजत और हरियाणा के रोहतक जिले के एक गांव की लड़की साक्षी मलिक ने महिला कुश्ती में कांसे का पदक अपने गले में पहना था...इससे ज्यादा आपको कुछ याद नहीं रहने वाला है...

25/08/2016