Dainik Navajyoti Logo
Thursday 21st of October 2021
 
खास खबरें

राजकाज

Monday, September 20, 2021 10:15 AM
कॉन्सेप्ट फोटो

शनि का दोष
इन दिनों कुछ खास राशियों वाले नामों पर शनि का दोष कुछ ज्यादा ही है। नेतागिरी का धंधा करने वालों पर अपना वह असर दिखा भी रहा है। वैसे तो बिना राय मांगे पंडितों ने आगाह भी कर दिया था कि वक्त-बेवक्त शनि महाराज को तेल पिलाते रहोगे, तो ठीक ही रहेगा। अब नेता तो नेता ही ठहरे, बुरे सपने दिखने लगते है, तभी ही शनि की पूजा करते हैं, वरना दर्शन करना तो दूर अपनी जुबान नाम भी नहीं लेते। राज का काज करने वाले भी लंच केबिनों में शनि की दशा को लेकर बतियाये बिना नहीं रहते कि शनि ने पहले शनिवार को तो गुजरात में वृषभ राशि वाले विजय जी पर अपना असर दिखाया और इस शनिवार को नवजोत की आड़ में पंजाब में मेष राशि वाले सरदारजी को अपने लपेटे में लिए बिना नहीं रहे। अब सूबे में अगले शनिवार तक अपना असर मेष और कुंभ राशि वालों पर दिखाए बिना पीछा नहीं छोड़ेंगे।
चर्चा में ताली और थाली
आज हम बात करेंगे ताली और थाली की। दोनों बजाई जाती है, लेकिन उसका मकसद बजाने वालों पर निर्भर करता है। कई लोग ऐसे होते हैं, जो ताली बजाने का धंधा करते हैं। लेकिन थाली बजाने का मौका मिलना, ऊपर वाले पर निर्भर है। लेकिन पड़ोसी सूबे में तो ताली बजा-बजा कर एक सरदारजी ने दूसरे सरदारजी को घर का रास्ता ही दिखा दिया। चर्चा है कि कपिल ने भी कभी नहीं सोचा होगा कि मेरे शो में अपना मुंह खोलने से पहले ताली बजाने वाला शख्स दूसरे के बारह बजाकर ही दम लेगा। ताली बजाने वालों में कितना दम होता है, यह तो समझने वाले समझ गए, ना समझे वो अनाड़ी हैं।
जिद्दी नेताओं से परेशानी
भगवा पार्टी के कई भाई लोग अपनी ही पार्टी के बड़े नेताओं की जिद से काफी परेशान हैं। उनका परेशान होना भी लाजमी है। सिर पर यूपी, पंजाब, उत्तराखंड, मणिपुर और गोवा चुनाव हैं। उन्हें डर है कि जिद की वजह से कहीं मन के लड्डÞ फीके नहीं रह जाएं। जिद का असर साफ दिखाई देने लगा है। यूपी में योगी जी भाईसाहब की जिद परेशान किए हुए हैं, तो शीर्ष स्तर पर गुजरात वाले शाह साहब का पंगा है।
परेशानी में भाईसाहब
इन दिनों भगवा वाली पार्टी के आमेर वाले साहब काफी परेशान हैं। उसका कारण भी काफी गंभीर है। टिकट मांगने वाले उनकी तुलना सीधे नमोजी से करने लगे हैं। अकेले में कह दें तो कोई बात नहीं, लेकिन जब भीड़भाड़ में कहा जाए  कि पीएम तो मोदीजी है, लेकिन जयकारे तो अमित जी के ही लगते हंैं। इसी तरह सूबे में राज तो मैडम  का था, लेकिन ढ़ोक तो आपके ही जरूरी है। अब भाई साहब के पास चुप रहने के अलावा कोई चारा भी नहीं है। वो कैसे कहें कि हम तो नमोजी के सपनों को पूरा करने की कसम खा चुके हैं।
गणित कारोबार की
सूबे में इन दिनों तबादला कारोबार पर कुछ दिनों के लिए ब्रेक तो लग गया, लेकिन किसके हाथ कितना लगा, इस पर मंथन जारी है। राज करने वालों ने न तो किसी नीति को ध्यान में रखा और नहीं पॉलिसी अपनाई। राज की तबादला नीति बनाने की मंशा भी धरी रह गई। राज का काज करने वाले लंच केबिनों में जोड़-बाकी, गुणा-भाग करने में जुटे हैं, लेकिन उनका माथा काम नहीं कर रहा। बस आखिर में एक ही उत्तर मिलता है, कि इस बार तबादला कारोबार ने तो पीछे वाली कई दीवालियों को भी पीछे छोड़ दिया।
अब खयाल आया कि
कहावत है कि सांप निकलने के बाद लकीर पीटने से कोई फायदा नहीं है, लेकिन हमारे पूर्व विधायकों को इस पर कतई विश्वास नहीं है। पांच साल तक सत्ता का सुख भोगते समय तो उनको सूबे की प्रगति के बारे में सोचने का वक्त नहीं मिला। अब प्रगति के बारे में दिन-रात गहन चिन्तन मंथन में जुटे हैं। उनकी रातों की नींद और दिन का चेन गायब है। एक मंच पर आकर जोरदार चिन्ता जता रहे हैं। चिन्तन के लिए अधिवेशन तक बुलाने की तैयारी में हैं। उसका भी बढ़- चढ़कर ढिंढ़ोरा पीटे जाने का प्लान है। राज का काज करने वाले भी कम नहीं हैं, वो भी चटकारे लेने से नहीं चूक रहे। बोल रहे हैं कि रही-सही कसर और पूरी करने के लिए कुछ न कुछ तो करना ही पड़ता है।

      एल. एल. शर्मा
(यह लेखक के अपने विचार हैं)

परफेक्ट जीवनसंगी की तलाश? राजस्थानी मैट्रिमोनी पर निःशुल्क  रजिस्ट्रेशन करे!

यह भी पढ़ें:

दैनिक नवज्योति स्पेशल : ना ‘पाक’ हरकत: हुस्न और रुपयों का लालच देकर करवाते हैं जासूसी

इंटेलीजेंस की सक्रियता से दबोचे गए सूचना देने वाले : तीन साल में जासूसी करते पकड़े गए 17 जासूस : मात्र दस हजार से लेकर 30 हजार रुपए में ही बेच दिया ईमान और दी जानकारी

18/10/2021

डिफरेंट थीम पर सेलिब्रेट होगा क्रिसमस

क्रिसमस और न्यू-ईयर सेलिब्रेशन के लिए होटलों और रेस्टोेरेंट्स ने तैयारियों शुरू कर दी हैं। हर बार नई थीम के साथ इन दिनों को सेलिब्रेट किया जाता है।

02/12/2019

वर्ली आर्टिस्ट हेमा विजय ठाकुर का नाम गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज

मुंबई की वर्ली आर्टिस्ट हेमा विजय ठाकुर का नाम गिनीज बुक आॅफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में हाल ही में दर्ज हुआ है।

03/01/2020

नाहरगढ़ फोर्ट में पर्यटकों को मिलेगी ऑडियो गाइड की सुविधा

पर्यटकों की सुविधार्थ पुरातत्व एवं संग्रहालय विभाग के अधीन आने वाले जयपुर के आमेर महल, अल्बर्ट हॉल संग्रहालय, हवामहल स्मारक और जंतर-मंतर स्मारक में आॅडियो गाइड की सुविधा उपलब्ध है।

17/10/2019

हिस्टोरिकल मॉन्यूमेंट्स: फोटोज क्लिक करते समय कीमती सामान भूल जाते हैं पर्यटक, भारतीयों की तादाद ज्यादा

हिस्टोरिकल मॉन्यूमेंट्स को निहारते हुए कई बार पर्यटक अपना कीमती सामान जैसे, मोबाइल फोन, एटीएम कार्ड, बैग, ज्वैलरी, कैमरा आदि यहां भूल जाते हैं। मॉन्यूमेंट्स प्रशासन के कर्मचारियों और होमगार्ड के जवानों को यह कीमती सामना मिलता है तो वे इन्हें कार्यालय में जमा करवा देते हैं।

03/02/2020

अंतरराष्ट्रीय संग्रहालय दिवस: इस बार पर्यटन स्थलों पर ना पर्यटक और ना कद्रदान

अंतरराष्ट्रीय संग्रहालय दिवस पर प्रदेश में पुरातत्व विभाग के अधीन आने वाले सभी हिस्टोरिकल मॉन्यूमेंट्स पर पर्यटकों को नि:शुल्क प्रवेश दिया जाता है, लेकिन इस बार ना कोई पर्यटक हैं और ना ही उनके स्वागत के लिए पलक बिछाए बैठे कर्मचारी।

18/05/2020

मां भगवती को क्यों प्रिय है जौ

आज गुरुवार से शारदीय नवरात्रि का पर्व प्रारंभ हो रहा है। इस पर्व में कलश और घटस्थापना के साथ ही एक घट में जवारे अर्थात जौ या गेहूं बोये जाते हैं। माता दुर्गा को यह बहुत पसंद हैं।

07/10/2021