Dainik Navajyoti Logo
Monday 1st of March 2021
 
खास खबरें

आपणी पाठशाला के नन्हे सिंगर अशोक के वीडियो को 11 मिलियन लोगों ने देखा

Friday, January 31, 2020 10:05 AM
आपणी पाठशाला का नन्हा सिंगर अशोक

चूरू। चूरू की आपणी पाठशाला अब किसी परिचय की मोहताज नहीं है। महिला थाना पुलिस के सिपाही धर्मवीर द्वारा जिला मुख्यालय पर संचालित इस पाठशाला में उन अभावग्रस्त बच्चों को पढ़ाकर समाज की मुख्यधारा से जोड़ने का कार्य किया जा रहा है, जो शहर में कचरा बीनने और भिक्षावृत्ति में संलिप्त हैं। अगर कहा जाए कि सिपाही धर्मवीर जाखड़ आपणी पाठशाला में हीरो को तराशने का काम कर रहे हैं, तो कोई अतिश्योक्ति नहीं होगी।

पाठशाला की बालसभा में 7 साल के बच्चे ने जब शर्माते हुए एक गाना गाया तो सिपाही धर्मवीर ने उसका एक वीडियो बनाया और उसे सोशल मीडिया पर पोस्ट कर दिया। सात साल के इस बच्चे के गाने को 20 दिन में 11 मिलियन यानी 1.10 करोड़ लोग ने देखा हैं। झुग्गी झोपड़ी में रहने वाले अशोक का दूसरे गाने के वीडियो को 2 दिन में 7 मिलियन लोगों (70 लाख) ने देखा। अब आपणी पाठशाला इस नन्हे सिंगर को चमकाने में लग गई है।

संगीत के बारे में पता नहीं होने के बाद भी बिखेरा आवाज का जादू 
सात साल के इस नन्हे बालक ने जन्म के बाद अपने शराबी पिता की प्रताड़ना सही, भूखमरी में दिन निकाले और पेट भरने के लिए मां के साथ कचरा बीना तथा भीख मांगी, लेकिन इस नन्हे बालक के गाये गाने के वीडियो को दो दिन में सात मिलियन लोग देख चुके हैं। फिल्मी गानों को अपने सुरों में पिरो कर 7 साल का अशोक नए आयाम स्थापित कर रहा है। आवाज में कसक और सुरों में डूबकर जब यह नन्हा सिंगर गाना गाता है, तो कोई भी उसकी तारीफ  किए बगैर नहीं रह सकता। संगीत के बारे में पता नहीं होने के बाद भी जब अशोक अपनी आवाज का जादू बिखेरता है, तो हर कोई उसका कायल हो जाता है।

बालसभा में गाए गाने से बनी पहचान
सोशल मीडिया पर अशोक की मीठी आवाज पर इन दिनों लोग झूम रहे हैं। अपनी सधी आवाज में फिल्मी गीतों का ऐसा जादू की इस एक गाने को 15 हजार लोगों ने कमेंट कर तारीफ  की है, तो 24 हजार लोग इसे शेयर कर चुके हैं। बालसभा में गाए इस गाने ने अशोक की अलग ही पहचान बना दी है। आपणी पाठशाला के सिपाही धर्मवीर ने अशोक को नया मोबाइल खरीदकर दिया है, ताकि वह अपने हुनर को निखार सके।

मां ने भिक्षावृत्ति छोड़ शुरू की मजदूरी
अशोक की मां मंजू सरदारशहर के शिमला गांव की है, जिसकी शादी चूरू के थैलासर गांव के कैलाश के साथ 12 साल पहले हुई थी। शराबी पति की मारपीट और प्रताड़ना के बीच मंजू ने भीख मांगकर अपने बच्चों का पालन किया। मंजू बताती है कि पांच साल का अशोक जब गाने गाता था, तो उसका पिता उसकी पिटाई करता था।

शराबी पिता ने अशोक की मां को उसके चार बच्चों के साथ उनके हाल पर छोड़ दिया और फरार हो गया। कच्ची बस्ती में रह रही मंजू ने इसके बाद चारों बच्चों को आपणी पाठशाला भेजना शुरू कर दिया। आपणी पाठशाला में जहां चारों बच्चे पढ़ने लगे वहीं मंजू ने भी भिक्षावृत्ति छोड़कर मजदूरी शुरू कर दी।

 

यह भी पढ़ें:

मरने के बाद तीन लोगों को नई जिंदगी दे गया हरीश, लीवर और किडनी की डोनेट

28 साल का हरीश मरने के बाद भी तीन लोगों को नई जिन्दगी दे गया। रोड एक्सीडेंट के बाद ब्रेन डेड हुए जयपुर के हरीश के परिजनों ने ब्रेन डैड के लिए बनी कमेटी और अस्पताल के चिकित्सकों की समझाइश के बाद उसकी दोनों किडनी और लिवर दान करने की रजामंदी दी।

20/12/2019

आसमान से खेत में गिरा रहस्यमयी पत्थर, देखने आ रहे लोग

बिहार के मधुबनी जिले के लौकही प्रखंड के कोरियाही गांव के एक खेत में आसमान से एक रहस्यमयी पत्थर गिरने का मामला चर्चाओं में है।

23/07/2019

जनता का घोषणापत्र: शहरों की साफ-सफाई और युवाओं के रोजगार पर विशेष फोकस

आज देश के साथ ही प्रदेश के हर शहर में जगह-जगह कचरे का ढेर लगा हुआ है। जबकि राज्य और केन्द्र सरकार की ओर से स्वच्छता के लिए कई अभियान चलाए जा रहे हैं।

22/04/2019

सोशल मीडिया के जरिए अफसरों पर रखेंगे ध्यान: कलेक्टर डॉ. जोगाराम

जयपुर जिले के नए कलक्टर डॉ. जोगाराम सोशल मीडिया के जरिए जिले के अफसरों पर ध्यान रखेंगे। कल का काम आज और आज का काम अभी की नीति को अपने जीवन में अपना कर चलने वाले कलेक्टर कई तरह के नवाचार करने में माहिर है, जयपुर में भी इस पर अमल करेंगे।

14/12/2019

जनता का घोषणापत्र: गांवों में बेहतर शिक्षा व चिकित्सा की जरूरत

आज के दौर में देशभर के शहरी क्षेत्रों के विकास पर सभी सरकारों का पूर्ण रूप से फोकस होता है, लेकिन आज भी देश के कई गांव बेहर शिक्षा और चिकित्सा सुविधाओं से वंचित है

03/05/2019

सोशल मीडिया के जरिए भी किया जा रहा राज्य सरकार की योजनाओं का प्रचार-प्रसार: नीरज पवन

करीब 16 साल की सर्विस में करौली, भरतपुर, पाली जैसे जिलों में कलेक्टर और सरकार के विभिन्न महकमों में रहकर सुर्खियां बटोरने वाले 2003 बैच के आईएएस डॉ. नीरज के पवन की गिनती तेज तर्रार ब्यूरोक्रेट्स में होती है।

10/01/2020

महिलाओं को घूंघट से मिले आजादी, देशभर में चले अभियान: अशोक गहलोत

सिखों के प्रथम गुरु गुरुनानक देवजी के 550वें प्रकाश पर्व के उपलक्ष्य में मुख्यमंत्री निवास पर आयोजित शबद कीर्तन के कार्यक्रम में गुरुवाणी का अमृत बरसा। श्रद्धामय माहौल में सीएम अशोक गहलोत सहित पूरी संगत भाव विभोर हो उठी।

05/12/2019