Dainik Navajyoti Logo
Thursday 23rd of January 2020
 
खास खबरें

पासपोर्ट सत्यापन की प्रक्रिया थाना स्तर पर होगी ऑनलाइन

Friday, January 10, 2020 13:30 PM
पुलिस मुख्यालय

जयपुर। प्रदेश में थाना स्तर पर पासपोर्ट सत्यापन की प्रक्रिया को ऑनलाइन किया जा रहा है। इसी वर्ष पासपोर्ट सत्यापन की पूरी प्रक्रिया ऑनलाइन कर दी जाएगी। इसके ऑनलाइन होने से समय की बचत के साथ ही पासपोर्ट आवेदकों को थाने और पुलिस अधीक्षक कार्यालय में चक्कर लगाने की आवश्यकता नहीं होगी।

पुलिस मुख्यालय द्वारा राज्य के सभी जिलों के पुलिस अधीक्षक कार्यालय और थाने के कार्मिकों को प्रशिक्षण देकर तथा ऑनलाइन पासपोर्ट सत्यापन की प्रक्रिया का ट्रायल शुरू किया गया है। निर्धारित प्रक्रिया के अनुसार पासपोर्ट के लिए पासपोर्ट अ‍ॅथोरिटी के पोर्टल पर ऑनलाइन आवेदन किया जाता है। अ‍ॅथोरिटी पुलिस अधीक्षक कार्यालय तक आवेदन पत्र को ऑनलाइन भिजवाती है। वर्तमान में पुलिस अधीक्षक कार्यालय से थाना स्तर पासपोर्ट जांच प्रक्रिया ऑफलाइन। पुलिस अधीक्षक की पासपोर्ट जांच पर इन्टेलीजेंस विभाग की जांच प्रक्रिया भी आॅफलाइन है। इस जांच प्रक्रिया में अधिक समय लगता है।

आवेदन पत्र पर होगी ऑनलाइन टिप्पणी
पुलिस विभाग ने थाना स्तर तक पूरी जांच प्रक्रिया को आॅनलाइन करने की कवायद प्रारम्भ कर दी है। इस प्रक्रिया के तहत पासपोर्ट विभाग से आवेदन सीधे संबंधित थाने में पहुंचेगा तथा थाने में आवेदन पत्र पर आॅनलाइन टिप्पणी की जाएगी। थाने की जांच सीधे इन्टेलीजेंस विभाग में ऑनलाइन पहुंचेगी तथा वहां से पुलिस अधीक्षक कार्यालय को जांच टिप्पणी के लिए भेजी जाएगी। पुलिस अधीक्षक कार्यालय से जांच रिपोर्ट पासपोर्ट विभाग में आॅनलाइन पहुंचेगी। इन्टेलीजेन्स विभाग द्वारा पिछले दो माह से पासपोर्ट पोर्टल व साफ्वेयर में ट्रायल रूप में आॅनलाइन पासपोर्ट सत्यापन का कार्य कराया जा रहा है।

 

यह भी पढ़ें:

चंद्रयान-2 के लैंडर विक्रम का मलबा ढूंढ़ने में चेन्नई के इंजीनियर ने की मदद, नासा ने दिया क्रेडिट

अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा के लूनर रिकनैसैंस ऑर्बिटर ने चांद की सतह पर चंद्रयान-2 के लैंडर विक्रम का मलबा ढूंढ लिया है। नासा ने विक्रम का मलबा ढूंढने का क्रेडिट चेन्नई के मैकेनिकल इंजीनियर शनमुगा सुब्रमण्यन को दिया है।

03/12/2019

जयपुर के यूथ को लेनी चाहिए इन दोस्तों से सीख, जो घायलों को बचाने में जुट गए

त्रिमूर्ति सर्किल पर हादसे का शिकार हुए युवकों को बचाने के लिए राहुल और पूजा के साथ उसके दो दोस्तों ने पूरी कोशिश की। उन्होंने घायलों को इलाज के लिए सही समय पर एसएमएस अस्पताल पहुंचाया।

13/08/2019

ये है एशिया का सबसे स्वच्छ गांव, जो भारत में है, जहां सड़क पर नजर नहीं आता कचरा

मेघालय में एक गांव मावलिननोंग स्थित है, जिसे 2003 से लगातार एशिया महाद्वीप के सबसे स्वच्छ ग्राम का दर्जा मिल रहा है।

14/06/2019

इंडियन आइडल सीजन-11 में शानदार परफॉर्मेंस दे रहे जयपुर के अजमत

पॉपुलर सिंगिंग रियलिटी शो इंडियन आइडल सीजन-11 के टॉप-15 प्रतिभागियों में अपनी जगह बना चुके जयपुर के अजमत हुसैन बेहतर परफॉर्मेंस कर रहे हैं।

12/11/2019

वन्यजीव बिता रहे हैं एकाकी जीवन

गर्मी के मौसम ने अपने तेवर दिखाने शुरू कर दिए हैं। इंसानों के साथ ही वन्यजीवों में भी इसका असर देखने को मिल रहा है।

02/05/2019

जर्मनी के पर्यटक जयपुर में लगाएंगे पौधे, मेंटिनेंस का खर्च भी देंगे

प्रदेश के हिस्टोरिकल मॉन्यूमेंट्स पर हर समय देशी-विदेशी पर्यटकों की मौजूदगी देखने को मिलती है, लेकिन पर्यटन सीजन के दौरान इसकी संख्या में बढ़ोतरी देखने को मिलती है।

20/12/2019

राजस्थान: मई में सबसे ज्यादा होते हैं सड़क हादसे, जानिए वजह

तेज गर्मी का कहर, स्कूलों-कॉलेजों की छुट्टियां और वाहनों की तेज रफ्तार के कारण मई माह में सड़कों पर मौत का तांडव होता है।

16/05/2019