Dainik Navajyoti Logo
Friday 18th of June 2021
 
खास खबरें

वैज्ञानिकों को मिली बड़ी सफलता, खोजा ऐसा वायरस जो हर तरह के कैंसर का करेगा खात्मा

Monday, November 11, 2019 11:25 AM
प्रतीकात्मक तस्वीर।

सिडनी। वैज्ञानिकों ने एक ऐसा वायरस खोजने का दावा किया है, जो हर तरह के कैंसर को खात्म करने में सक्षम है। मेडिकल के क्षेत्र में इसे एक बड़ी सफलता के तौर पर देखा जा रहा है। इस वायरस को वैक्सीनिया सीएफ-33 नाम दिया गया है। इस समय दुनियाभर में 100 से भी ज्यादा प्रकार के कैंसर पाए जाते हैं। किसी भी तरह के कैंसर का पता तीसरे या चौथे स्टेज में चलने पर इलाज की संभावना बहुत कम हो जाती है। वैज्ञानिक अब इस सफलता के बाद उम्मीद कर रहे हैं कि जल्द ही कैंसर को जड़ से खत्म किया जा सकेगा। अगर टेस्ट में सबकुछ ठीक रहा तो अगले साल ही इसे दवा के तौर पर ब्रेस्ट कैंसर के मरीजों पर टेस्ट किया जाएगा।

रिपोर्ट के मुताबिक यह एक ऐसा वायरस है, जो शरीर में कॉमन कोल्ड मतलब सर्दी-जुकाम का कारण बनता है। मगर इसे कैंसर सेल्स के साथ इन्फ्यूज कराने के बाद वैज्ञानिक हैरान थे। टेस्ट के दौरान इस वायरस ने पेट्री डिश में सभी प्रकार के कैंसर को खत्म कर दिया। इसके बाद चूहों पर टेस्ट करने पर भी वैज्ञानिकों ने पाया कि इस वायरस ने ट्यूमर को सिकोड़ कर काफी छोटा कर दिया। इस वायरस को ऑस्ट्रेलियन बायोटेक कंपनी इम्यूजीन ने बनाया है। इसे बनाने का श्रेय यूएस के वैज्ञानिक और कैंसर स्पेशलिस्ट प्रोफेसर युमान फॉन्ग को जाता है।

प्रोफेसर फॉन्ग ने बताया कि काउपॉक्स नाम का एक वायरस होता है, जो पिछले 200 सालों से छोटीमाता को ठीक करने के लिए इस्तेमाल किया जा रहा है और इसका इंसानों के शरीर पर कोई दुष्प्रभाव नहीं पाया गया है। काउपॉक्स नाम के इसी वायरस को कुछ अन्य वायरसों के साथ मिलाकर चूहों के ट्यूमर पर इसका ट्रायल किया है, जिमें देखा गया कि चूहों के शरीर में मौजूद कैंसर सेल्स सिकुड़कर काफी छोटे हो गए और उनका बढ़ना भी बंद हो गया।

प्रोफेसर फॉन्ग ऑस्ट्रेलिया में इस वायरस के क्लिनिकल ट्रायल की तैयारी कर रहे हैं। बाद में इसे अन्य देशों में भी टेस्ट किया जाएगा। इस ट्रायल के दौरान ट्रिपल निगेटिव ब्रेस्ट कैंसर, मेलानोमा, फेफड़ों के कैंसर, ब्लाडर कैंसर, पेट के कैंसर के मरीजों पर टेस्ट किया जाएगा। हालांकि चूहों पर हुए इस शोध की सफलता इस बात को पूरी तरह आश्वस्त नहीं करती है कि इंसानों में भी इसके परिणाम वैसे ही देखने को मिलेंगे। अभी इंसानों पर इस वायरस का टेस्ट होना बाकी है, जिसके दौरान इसके दुष्प्रभावों की भी जांच करनी पड़ेगी। फिर भी प्रफेसर फॉन्ग और मेडिकल साइंस से जुड़े सभी वैज्ञानिक इस शोध को लेकर काफी उत्साहित हैं और इसे बड़ी सफलता के रूप में देख रहे हैं।

परफेक्ट जीवनसंगी की तलाश? राजस्थानी मैट्रिमोनी पर निःशुल्क  रजिस्ट्रेशन करे!

यह भी पढ़ें:

ये है मैक्सिको का 700 साल पुराना सिक्का

शौकिया तौर पर शुरू किए गए संग्रह से पहचान मिली है। सिक्कों का संग्रह केवल संग्रह ही नहीं बल्कि भारत के विभिन्न राज्यों के पुराने समय की कला, सभ्यता और इतिहास की जानकारी भी देते हैं।

06/04/2019

ग्रह-नक्षत्रों के दुर्लभ योग में मनाई जाएगी दीपावली, 1521 में बना था गुरु, शुक्र और शनि का ऐसा संयोग

कार्तिक माह में कृष्ण पक्ष की अमावस्या तिथि को दीपावली का त्योहार मनाया जाता है। यह तिथि सर्वार्थसिद्धि देने वाली मानी गई है। इस वर्ष दीपावली का त्योहार 14 नवंबर को हर्षोल्लास के साथ मनाया जाएगा। दीपावली पर धन की देवी मां लक्ष्मी का पूजन होता है। माना जाता है कि इस दिन मां लक्ष्मी स्वयं पधारती हैं। इस दिन पूरे विधि-विधान के साथ पूजन करने पर सुख-समृद्धि बनी रहती है।

13/11/2020

अलविदा 2019 : प्रदेश के होनहारों ने दिखाया दम, देशभर में रहे अव्वल

बीत रहे 2019 में देश की प्रतिष्ठित परीक्षाओं में राजस्थान के कई होनहारों ने अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाया है। पिछले सालों के मुकाबले प्रदेश से टॉप आने वाले विद्यार्थियों के आंकड़े भी काफी बढ़े हैं। ऐसे में आने वाला समय प्रदेश के स्टूडेंट्स के लिए और भी बेहतर होने वाला है।

27/12/2019

जयपुर में हिस्टोरिकल मॉन्यूमेंट्स से लेकर वाइल्ड लाइफ तक सब कुछ

मरुप्रदेश आने पर देशी-विदेशी पर्यटकों को किले, महल देखने के साथ ही वन्यजीवों को देखने का मौका मिलता है। टूरिज्म के लिहाज से बात करें तो प्रदेश में गुलाबी नगरी ऐसी सिटी है, जहां पर्यटकों को लॉयन सफारी और हाथी सवारी का लुत्फ उठाने का मौका मिलता है।

27/09/2019

अपनी गर्लफ्रेंड को लेकर IAS टॉपर कनिष्क कटारिया ने कहीं ये चौंकाने वाली बातें

संघ लोक सेवा आयोग की ओर से शुक्रवार को घोषित सिविल सर्विस 2018 के नतीजों में देशभर में टॉपर रहे जयपुर निवासी कनिष्क कटारिया ने अपने इंटरव्यू में इसका श्रेय अपनी गर्ल फ्रेण्ड को भी दिया है।

07/04/2019

स्वदेशी तकनीक से ऐसे रिचार्ज किए बोरवेल

तमिलनाडु के चेन्नई क्षेत्र में पानी की भारी कमी एक बड़ी समस्या के रूप में उभरी है। इस चिंताजनक स्थिति के कारण पानी की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए नये समाधानों को ढूंढना अनिवार्य हो गया है।

22/08/2019

एक वोटर के लिए 480 किलोमीटर जंगल की यात्रा कर लगाया था पोलिंग बूथ

यह मामला अरुणाचल प्रदेश का है, जहां मालोगाम इलाके में पहुंचकर चुनाव आयोग की टीम ने यह साहसिक काम किया

19/06/2019