Dainik Navajyoti Logo
Monday 17th of May 2021
 
खास खबरें

अगले साल में कम हैं विवाह मुहूर्त, पूरे साल में केवल 51 बार बजेगी शहनाई

Thursday, December 03, 2020 15:15 PM
प्रतीकात्मक तस्वीर।

जयपुर। अगले साल 2021 में विवाह मुहुर्त कम है। पूरे साल केवल 51 बार ही शहनाई बजेगी। ज्योतिषीय गणना के अनुसार साल 2021 में विवाह मुहूर्त कम हैं। हिन्दू पंचांग के अनुसार साल के पहले माह में केवल एक मुहूर्त है और यह मुहूर्त 18 जनवरी को पड़ेगा, जो नए साल का पहला मुहूर्त होगा। ज्योतिषीय गणना के अनुसार 18 जनवरी के बाद बृहस्पति और शुक्र ग्रह के कारण साल के शुरुआती महीनों में विवाह नहीं हो पाएंगे। दरअसल मकर संक्रांति के बाद 19 जनवरी से 16 फरवरी तक गुरु तारा अस्त है, जिस कारण इस अवधि में विवाह नहीं हो पाएंगे।

पाल बालाजी ज्योतिष संस्थान जयपुर के निदेशक ज्योतिषाचार्य अनीष व्यास ने दैनिक नवज्योति को बताया कि इसके बाद 16 फरवरी से ही शुक्र तारा के अस्त होने से शहनाई नहीं बज पाएंगी। यह अवधि 17 अप्रैल तक रहेगी। ऐसे में इस साल का दूसरा विवाह मुहूर्त 22 अप्रैल को होगा। 22 अप्रैल के बाद से देवशयनी एकादशी 15 जुलाई तक विवाह के मुहूर्त हैं। इस बीच 37 विवाह मुहूर्त पड़ रहे हैं। वहीं, 15 नवंबर को देवउठनी एकादशी से 13 दिसंबर तक विवाह के लिए कुल 13 मुहूर्त होंगे।

साल 2021 में विवाह मुहूर्त-:
जनवरी - 18 तारीख।
अप्रैल - 22, 24, 25, 26, 27, 28, 29, और 30 तारीख।
मई - 1, 2, 7, 8, 9, 13, 14, 21, 22, 23, 24, 25, 26, 28, 29 और 30 तारीख।
जून - 3, 4, 5, 16, 20, 22, 23, और 24 तारीख।
जुलाई - 1, 2, 7, 13 और 15 तारीख।
नवंबर - 15, 16, 20, 21, 28, 29 और 30 तारीख।
दिसंबर - 1, 2, 6, 7, 11 और 13 तारीख।

15 दिसंबर 2020 से 14 जनवरी 2021 तक मलमास
विश्वविख्यात भविष्यवक्ता और कुण्डली विश्ल़ेषक अनीष व्यास ने बताया कि इस महीने के शुरुआती पखवाड़े में भी मात्र चार मुहूर्त पड़ेंगे। इसके बाद 15 दिसंबर से 14 जनवरी तक मलमास रहेगा।

जनवरी से मार्च तक शुभ मुहूर्त नहीं
विश्वविख्यात भविष्यवक्ता और कुण्डली विश्ल़ेषक अनीष व्यास ने बताया कि अगले साल 2021 में जनवरी से लेकर मार्च तक तारा अस्त रहने से विवाह के मुहूर्त नहीं हैं। अप्रैल, मई, जून और जुलाई में कुल 38 मुहूर्त हैं। इसके बाद चातुर्मास शुरू हो जाएगा और फिर चार माह तक विवाह नहीं किया जा सकेगा।

देव गुरु रहेंगे अस्त
विश्वविख्यात भविष्यवक्ता और कुण्डली विश्ल़ेषक अनीष व्यास ने बताया कि नये साल 2021 में 7 जनवरी से 15 फरवरी के बीच देव गुरु अस्त रहेंगे। इसके बाद होलाष्टक और फिर 14 मार्च से 14 अप्रैल तक पुन: मीन मलमास रहेगा। इसलिए अप्रैल के पहले पखवाड़े तक कोई मुहूर्त नहीं है। महज अप्रैल, मई, जून और जुलाई में ही कुछ श्रेष्ठ मुहूर्त होंगे। इसके बाद चातुर्मास शुरू हो जाएगा।

बसंत पंचमी पर भी नहीं हो पाएगी शादी
विश्वविख्यात भविष्यवक्ता और कुण्डली विश्ल़ेषक अनीष व्यास ने बताया कि साल 2021 में बसंत पंचमी 16 फरवरी को है। शास्त्रों में इसे भी शादी जैसे मांगलिक कार्य के लिए अबूझ मुहूर्त माना जाता है, लेकिन इस दिन सूर्योदय के साथ ही शुक्र तारा अस्त हो जाएगा। इस कारण इस दिन भी विवाह का योग नहीं बन रहा है।

विवाह मुहूर्त में लग्न का महत्व
शादी-ब्याह के संबंध में लग्न का अर्थ होता है फेरे का समय। लग्न का निर्धारण शादी की तारीख तय होने के बाद ही होता है। यदि विवाह लग्न के निर्धारण में गलती होती है तो विवाह के लिए यह एक गंभीर दोष माना जाता है। विवाह संस्कार में तिथि को शरीर, चंद्रमा को मन, योग व नक्षत्रों को शरीर का अंग और लग्न को आत्मा माना गया है यानी लग्न के बिना विवाह अधूरा होता है।

यह भी पढ़ें:

आमजन के लिए जेडीए जल्द ही तैयार करेगा मोबाइल एप

आर्थिक संकट के समय सीट संभालने वाले जयपुर विकास प्राधिकरण आयुक्त टी. रविकांत के नवाचारों का परिणाम यह रहा कि आम लोगों को काम कराने के लिए जेडीए कार्यालयों में चक्कर नहीं काटने पड़ रहे हैं।

01/01/2020

बिल गेट्स बने दुनिया के सबसे अमीर व्यक्ति

माइक्रोसॉफ्ट के को फाउंडर बिल गेट्स फिर से दुनिया के सबसे अमीर व्यक्ति बन गए है। इससे पहले अमेजन के सीईओर दुनिया के सबसे अमीर व्यक्ति थे।

16/11/2019

वैज्ञानिकों को मिली बड़ी सफलता, खोजा ऐसा वायरस जो हर तरह के कैंसर का करेगा खात्मा

दुनियाभर के साथ ही भारत में भी कैंसर की बीमारी तेजी से फैल रही है। इस खतरनाक बीमारी की वजह से हर साल करीब 8 लाख लोगों की मौत हो जाती है। ऐसे में वैज्ञानिकों ने एक ऐसा वायरस खोजा है जो हर तरह के कैंसर को खत्म कर सकता है।

11/11/2019

इंजीनियरिंग स्टूडेंट्स ने बनाई 12 किलो की फोल्डेबल साइकिल

शहर के इंजीनियरिंग प्रथम वर्ष के स्टूडेंट्स ने फोल्डेबल बाई साईकिल बनाने में सफलता प्राप्त की है। 12 किलोग्राम की यह साईकिल सिर्फ 4 स्क्वायर फीट क्षेत्रफल से भी कम क्षेत्रफल में आसानी से रखी जा सकती है।

27/02/2020

सोशल मीडिया के जरिए अफसरों पर रखेंगे ध्यान: कलेक्टर डॉ. जोगाराम

जयपुर जिले के नए कलक्टर डॉ. जोगाराम सोशल मीडिया के जरिए जिले के अफसरों पर ध्यान रखेंगे। कल का काम आज और आज का काम अभी की नीति को अपने जीवन में अपना कर चलने वाले कलेक्टर कई तरह के नवाचार करने में माहिर है, जयपुर में भी इस पर अमल करेंगे।

14/12/2019

नव वर्ष के स्वागत के लिए गूगल का खास डूडल, दिखाई 5 अलग-अलग रंगों की आतिशबाजी

नव वर्ष 2020 के आगमन में अब कुछ ही घंटे रह गए हैं और इसके स्वागत के लिए दुनिया के सबसे बड़े सर्च इंजन गूगल ने नव वर्ष की पूर्व संध्या पर आतिशबाजियों वाला खास डूडल बनाया है।

31/12/2019

अब बायोलॉजिकल पार्क में भी हाथी सफारी

गुलाबी नगरी आने वाले देशी-विदेशी पर्यटकों को में हाथी सफारी का क्रेज देखा जा सकता है। आमेर महल में पर्यटक लाइन में लगकर हाथी सफारी में अपने नम्बर आने का इंतजार करते देखे जा सकते हैं।

04/07/2019