Dainik Navajyoti Logo
Monday 2nd of August 2021
 
खास खबरें

परफेक्ट जीवनसंगी की तलाश? राजस्थानी मैट्रिमोनी पर निःशुल्क  रजिस्ट्रेशन करे!

यह भी पढ़ें:

जयपुर का परकोटा हर कोई देखता ही रह जाता है

करीब 300 साल पहले जयपुर शहर की स्थापना की गई। लंबी चौड़ी और ऊंची प्राचीरों से घिरे इस नगर में प्रवेश कीजिए तो पहली झांकी से ही लगता है जैसे अरावली पर्वतमाला में कैनवास पर किसी सिद्धहस्त कलाकार ने अपनी तूलिका से यह दृश्यांकन किया है।

07/07/2019

अगले साल में कम हैं विवाह मुहूर्त, पूरे साल में केवल 51 बार बजेगी शहनाई

अगले साल 2021 में विवाह मुहुर्त कम है। पूरे साल केवल 51 बार ही शहनाई बजेगी। ज्योतिषीय गणना के अनुसार साल 2021 में विवाह मुहूर्त कम हैं। हिन्दू पंचांग के अनुसार साल के पहले माह में केवल एक मुहूर्त है और यह मुहूर्त 18 जनवरी को पड़ेगा, जो नए साल का पहला मुहूर्त होगा।

03/12/2020

ये है एशिया का सबसे स्वच्छ गांव, जो भारत में है, जहां सड़क पर नजर नहीं आता कचरा

मेघालय में एक गांव मावलिननोंग स्थित है, जिसे 2003 से लगातार एशिया महाद्वीप के सबसे स्वच्छ ग्राम का दर्जा मिल रहा है।

14/06/2019

रणथम्भौर किले में पर्यटकों के लिए बनाया बेबी फिडिंग कक्ष

प्रदेश के किले-महल पर्यटकों को आकर्षित करते हैं। इसी का नतीजा है कि हर साल लाखों की संख्या में देशी-विदेशी पर्यटक मरु प्रदेश की ओर रूख करते हैं।

05/02/2020

तीन साल की बच्ची बनी सबसे कम उम्र की प्रतिभागी

जयपुर मैराथन में इस साल भाग लेकर वैरोनिका कुमारी चंद्रावत सबसे कम उम्र की प्रतिभागी बन गई है। यह जानकारी देते हुए पिता रिपुदमन सिंह चंद्रावत ने बताया कि वे बेटियों को आगे बढ़ाने और मिसाल के तौर पर स्थापित कर समाज के लिए एक उदाहरण स्थापित करना चाहते हैं।

10/04/2019

आसमान से खेत में गिरा रहस्यमयी पत्थर, देखने आ रहे लोग

बिहार के मधुबनी जिले के लौकही प्रखंड के कोरियाही गांव के एक खेत में आसमान से एक रहस्यमयी पत्थर गिरने का मामला चर्चाओं में है।

23/07/2019

गणेश चतुर्थी 2020: विधि-विधान से गणपति बप्पा की पूजा करने पर पूरी होगी हर मनोकामना

भाद्रपद के शुक्ल पक्ष की चतुर्थी को गणेश चतुर्थी मनाते हैं। इस साल यह तिथि 22 अगस्त 2020 को है। इस तिथि को भगवान गणेश की पूजा का विशेष महत्व है। गणेश चतुर्थी को विनायक चतुर्थी के नाम से भी जानते हैं। गणेश चतुर्थी के दिन गणपति को स्थापित किया जाता है। इस पर्व को दो ये दस दिन तक मनाया जाता है।

19/08/2020