Dainik Navajyoti Logo
Monday 21st of September 2020
 
खास खबरें

हिस्टोरिकल मॉन्यूमेंट्स: फोटोज क्लिक करते समय कीमती सामान भूल जाते हैं पर्यटक, भारतीयों की तादाद ज्यादा

Monday, February 03, 2020 13:45 PM
पर्यटकों को उनका सामान लौटाते हुए स्मारक के अधिकारी।

जयपुर। पर्यटन सीजन के चलते देशी-विदेशी पर्यटक गुलाबी नगरी की ओर रूख करते हैं। यहां आकर वे किलों-महलों की सुंदरता को अपने कैमरों में कैद करते हैं। वहीं सालों पुरानी दुर्लभ वस्तुओं को समेटे म्यूजियम के दीदार भी करते हैं। लेकिन आमतौर पर रोजाना ही देखा जाता है कि हिस्टोरिकल मॉन्यूमेंट्स को निहारते हुए कई बार पर्यटक यहां अपना कीमती सामाना जैसे, मोबाइल फोन, एटीएम कार्ड, बैग, ज्वैलरी, कैमरा आदि भूल जाते हैं। मॉन्यूमेंट्स प्रशासन के कर्मचारियों और होमगार्ड के जवानों को यह कीमती सामना मिलता है तो वे इन्हें कार्यालय में जमा करवा देते हैं। पर्यटक इन्हें ढूंढ़ते हुए कार्यालय में सम्पर्क करते हैं, तो पूरी जांच पड़ताल करने के बाद उन्हें सामना वापस लौटाया जाता है।

भारतीय पर्यटकों की संख्या ज्यादा
पिंकसिटी के हिस्टोरिकल मॉन्यूमेंट्स की विजिट के दौरान पर्यटक अपनों के साथ फोटोज खींचने में इतने मशगूल हो जाते हैं कि अपने साथ लाए कीमती सामना स्मारक परिसर में रखकर भूल जाते हैं। जयपुर के आमेर महल, जंतर-मंतर स्मारक, हवामहल स्मारक, अल्बर्ट हॉल संग्रहालय, नाहरगढ़ फोर्ट आदि में मोबाइल फोन, पर्स, कैमरा, जैकेट, एटीएम आदि कीमती सामनों को स्मारक परिसर में रखकर भूल जाने में भारतीय पर्यटकों की संख्या ज्यादा देखने को मिलती है। जंतर-मंतर स्मारक से मिले आंकड़ों के अनुसार दिसम्बर 2019 से जनवरी, 2020 तक (दो महीनों) के मिले आंकड़ों के अनुसार 14 पर्यटकों में से 10 पर्यटक भारतीय थे। जो स्मारक विजिट के दौरान इस तरह के सामान परिसर में ही भूल गए थे। इसके अतिरिक्त आमेर महल, अल्बर्ट हॉल आदि मॉन्यूमेंट्स पर भी कीमती सामान भूल जाने में भारतीय पर्यटकों की संख्या ज्यादा ही देखने को मिली।

आमेर महल के अधीक्षक डॉ. पंकज धरेंद्र ने बताया कि पर्यटक मॉन्यूमेंट विजिट के दौरान फोटोज क्लिक करने के चक्कर में सामान परिसर में रख देते हैं, जिसे वे फिर साथ ले जाना भूल जाते हैं। जब याद आती है तो मोबाइल फोन, पर्स आदि कीमती सामानों को ढूंढ़ते हुए कार्यालय में सम्पर्क करते हैं। जहां पूरी जानकारी लेने के बाद उन्हें खोया हुआ सामान वापस दिया जाता है। मॉन्यूमेंट घूमने के दौरान कीमती सामना खोने में भारतीय पर्यटकों की संख्या ज्यादा रहती है।

जंतर-मंतर स्मारक के सहायक प्रशासनिक अधिकारी गोपाल शर्मा ने बताया कि स्मारक परिसर में करीब दो माह के दौरान देशी-विदेशी पर्यटकों के मोबाइल फोन, बैग, जैकेट, कैमरा आदि खोए, जिन्हें वापस लौटाया गया है। साथ ही करीब एक लाख रुपए से ज्यादा की खोई राशि स्मारक परिसर में मिलने के बाद पर्यटकों को वापस लौटाई गई है। कीमती सामानों को स्मारक परिसर में रखकर भूल जाने के मामले में भारतीय पर्यटकों की संख्या ज्यादा है।

यह भी पढ़ें:

डोनाल्ड ट्रंप की भारत में है मूर्ति, ये प्रशंसक रोजाना करता है पूजा

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भारत दौरे पर आने वाले हैं। इससे पहले ट्रंप के प्रशंसक बुसा कृष्णा ने केंद्र सरकार से ट्रंप से मिलवाने की अपील की है।

19/02/2020

राजस्थान: मई में सबसे ज्यादा होते हैं सड़क हादसे, जानिए वजह

तेज गर्मी का कहर, स्कूलों-कॉलेजों की छुट्टियां और वाहनों की तेज रफ्तार के कारण मई माह में सड़कों पर मौत का तांडव होता है।

16/05/2019

खरगोश के बाल पर लिखा है गायत्री मंत्र

जब किसी संग्रहालय की रचना करते हैं तो उसका उद्देश्य लोगों को उस युग में ले जाना जहां से उन्हें इतिहास का दर्शन हो सके।

19/05/2019

87 वर्षीय 'सुपर फैन' से मिले विराट कोहली

मैच के दौरान 87 वर्षीय सुपर फैन चारुलता पटेल पूरे मैच के दौरान टीम इंडिया को चीयर करती रहीं।

03/07/2019

चाय बागानों की सैर कराएगा आईआरसीटीसी

गर्मी की छुट्टियों में अब आईआरसीटीसी पर्यटकों को पूर्वोत्तर के इलाकों की सैर कराने की योजना बना रहा है। आईआरसीटीसी से मिली जानकारी के अनुसार इसके लिए जयपुर से हवाई यात्रा का पैकेज बनाया गया है।

10/05/2019

जयपुर आया 'हिप्पो', देखना हो तो जाइए एग्जोटिक पार्क

एसीएफ जगदीश गुप्ता ने बताया कि दिल्ली जू से दरियाई घोड़े का जोड़ा लाया जाएगा। अभी नर हिप्पो लाया गया है, अगले हफ्ते मादा हिप्पो को भी लाया जाएगा।

13/08/2019

बाघ ने दी भालू को चेतावनी

रणथम्भौर टाइगर रिजर्व में विभिन्न प्रजातियों के वन्यजीवों का संसार बसता है। जहां पर्यटकों को बाघ, पैंथर, नील गाय, भालू आदि वन्यजीवों को देखने का मौका मिलता है।

21/05/2019