Dainik Navajyoti Logo
Monday 2nd of August 2021
 
खास खबरें

अलविदा 2019 : आर्थिक संकट से उभरा जेडीए, चला विकास की डगर

Monday, December 16, 2019 12:15 PM
जयपुर विकास प्राधिकरण।

जयपुर। जयपुर शहर के विकास की एक बड़ी कड़ी के रूप में स्थापित जयपुर विकास प्राधिकरण का यह वर्ष आर्थिक मामलों में संकट ग्रस्त ही रहा। वर्ष के शुरुआत में जहां कर्मचारियों के वेतन तक के भी लाले पड़ गए थे। अब धीरे धीरे विकास की राह पकड़ने के साथ ही जेडीए की आर्थिक स्थिति में सुधार हुआ है। इसका सीधा फायदा यह होगा कि पर्यटकों को विकसित शहर देखने को मिलेगा। जेडीए ने एक साल के दौरान लगभग छह सौ करोड़ के विकास कार्य कराए हैं, जिसमें से कुछ कार्य पूरे हो चुके हैं और कुछ प्रगति पर हैं।

जेडीसी टी. रविकांत ने जेडीए की बिगड़ी आर्थिक स्थिति को सुधार करने के लिए शहर के विभिन्न इलाकों में खाली पड़ी जमीनों का लैंड बैक तैयार कराया और उनको बेचकर जेडीए का खजाना भरने का सफल प्रयास किया। जमीन बेचने के लिए जेडीए में अलग से मार्केटिंग विंग बनाकर खरीदारों की सुविधा के लिए हेल्प डेस्क बनाई। इससे जेडीए की जमीनों की नीलामी में अच्छे खरीदार मिले। इसके अलावा एक दर्जन आवासीय योजनाएं लॉन्च की और शहर के नजदीक 11 दिसंबर को शिव एनक्लेव आवासीय योजना लॉन्च कर दी।

ऑनलाइन सिस्टम को दिया बढ़ावा
सिस्टम की खामियों को सुधारने और अधिकारी-कर्मचारियों की नीति से आमजन को राहत देने के लिए ऑनलाइन सिस्टम को बढ़ावा दिया। जेडीए की सहकारिता विंग को बंद कर पट्टे जारी करने के ऑनलाइन सिस्टम सहित अन्य सुविधाओं को भी ऑनलाइन कर दिया।

कोचिंग संस्थानों पर कसा शिकंजा
सूरत में हुए अग्निकांड से सबक लेते हुए जेडीए ने शहर में नियमों का अवहेलना एवं सुरक्षा मापदंडों को दरकिनार कर संचालित किए जा रहे कोचिंग संस्थानों पर शिकंजा कसने का प्रयास किया। जेडीए ने कोचिंग संस्थानों का सर्वे कराया और नोटिस भी दिए, लेकिन इसके बाद मामला फाइलों में ही दबकर रह गया। जिन कोचिंग संस्थानों पर शिकंजा कसा, वह आज भी संचालित हैं।

द्रव्यवती नदी प्रोजेक्ट
वर्ष 2016 में शुरू हुए शहर के ड्रीम प्रोजेक्ट द्रव्यवती नदी सौन्दर्यीकरण आज भी अधूरा पड़ा है। प्रोजेक्ट में निर्धारित अवधि के बाद जेडीए ने आधा दर्जन से अधिक बार इसकी डेडलाइन में विस्तार किया, लेकिन कंपनी इसे पूरा करने का नाम नहीं ले रही है। प्रोजेक्ट में अभी चार स्थानों पर तो किसानों के खातेदारी भूमि को लेकर प्रकरण कोर्ट में है।

ये रहे प्रमुख प्रोजेक्ट

  • रिंग रोड परियोजना: जयपुर शहर में यातायात को सुगम और सुरक्षित बनाने के लिए विभिन्न आरओबी एवं एलिवेटेड रोड परियोजनाएं शुरू की। इनमें झोटवाड़ा एलिवेटेड, दांतली एलिवेटेड, सीतापुरा एलिवेटेड, बस्सी एलिवेटेड, सोढ़ाला एलिवेटेड का कार्य प्रगति पर है।
  • सामोद का रोप वे: गोपालपुरा बाईपास पर गुर्जर की थड़ी से 200 फीट बाईपास पर पंडित पैराडाइज तक एवं पृथ्वीराज नगर (दक्षिण) में न्यू सांगानेर रोड से गोल्यावास तक 6200 मीटर लम्बाई में ड्रेन निर्माण का कार्य।
  • रामबाग चौराहे व मसाला चौक पर पब्लिक स्मार्ट टॉयलेट का निर्माण।
  • बस्सी एवं कानोता क्षेत्र में 8 किलोमीटर लम्बाई में लिंक सड़कों का निर्माण।
  • पाकिस्तान विस्थापितों को भूखण्ड आवंटन।
  • पीआरएन में 1823 पट्टे किए जारी।

परफेक्ट जीवनसंगी की तलाश? राजस्थानी मैट्रिमोनी पर निःशुल्क  रजिस्ट्रेशन करे!

यह भी पढ़ें:

नवी मुंबई में इकट्ठा हुए हजारों प्रवासी राजहंस पक्षियों के झुंड, तस्वीरें आई सामने

कोरोना वायरस की वजह से पूरे देश को लॉकडाउन किया गया है। ऐसे में इंसान खुद को प्रकृति के नजदीक महसूस कर रहा है और नेचर भी लोगों को प्रभावित करने से पीछे नहीं हट रही है। कुछ ऐसा ही नजारा मुंबई में देखा गया, जहां माइग्रेंट (प्रवासी) फ्लेमिंगो (राजहंस) को देखकर ऐसा लग रहा है मानों धरती पर गुलाबी-सफेद चादर बिछ गई है।

20/04/2020

दिल्ली से जयपुर और अहमदाबाद के बीच बुलेट ट्रेन चलाने की तैयारी

रेलवे ने बुलेट ट्रेन के लिए दिल्ली-जयपुर-उदयपुर-अहमदाबाद समेत 6 नए कॉरिडोर चिन्हित किए हैं। इसकी डीपीआर एक साल में तैयार हो जाएगी। इनमें हाई स्पीड कॉरिडोर पर ट्रेन की रफ्तार 300 किलोमीटर प्रति घंटे होगी, जबकि सेमी हाई स्पीड कॉरिडोर पर ट्रेन 160 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चलेगी।

30/01/2020

अजब गजब: दुनिया की सबसे ऊंची वीरान बिल्डिंग, जहां जाने से थरथर कांपते हैं लोग

उत्तर कोरिया में मौजूद होटल की बिल्डिंग ऐसी ही भूतिया जगहों में से एक है। उत्तर कोरिया में एक ऐसा होटल मौजूद है, जिसको शापित और भूतिया कहा जाता है। यह होटल पिरामिड जैसे आकार और नुकीले सिरे वाली गगनचुंबी इमारत के रूप में बनाया गया है। इस होटल का निर्माण कार्य बीच में ही रोक दिया गया और 33 साल बीत जाने के बावजूद इसका निर्माण कार्य आज भी अधूरा ही है।

27/02/2021

बेटे की चाहत में 11 बेटियों को जन्म दे चुकी गुड्डी की अब पूरी हुई इच्छा

जोर-शोर से प्रचार प्रसार तो यही हो रहा है कि बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ या एक बेटी हजार बेटों के बराबर। भले ही कहावतों में हम ऐसी अनेक अच्छी बातें कर लें, लेकिन अभी भी कई ऐसे लोग हैं, जिनकी सोच बेटों और बेटियों में फर्क करती है।

23/11/2019

महिलाओं को घूंघट से मिले आजादी, देशभर में चले अभियान: अशोक गहलोत

सिखों के प्रथम गुरु गुरुनानक देवजी के 550वें प्रकाश पर्व के उपलक्ष्य में मुख्यमंत्री निवास पर आयोजित शबद कीर्तन के कार्यक्रम में गुरुवाणी का अमृत बरसा। श्रद्धामय माहौल में सीएम अशोक गहलोत सहित पूरी संगत भाव विभोर हो उठी।

05/12/2019

स्कूल में मिड डे मील बनाने वाली बबीता ने 'केबीसी' में जीते 1 करोड़

सोनी टीवी पर प्रसारित कौन बनेगा करोड़पति को इस सीजन का दूसरा करोड़पति मिल गया है। सोनी इंटरटेनमेंट टेलीविजन की ओर से सोशल मी‌डिया जारी प्रोमोज में दिखाया जा रहा है कि महाराष्ट्र के अमरावती की रहने वाली बबीता एक करोड़ रुपए के सवाल का सही जवाब में सफल हो जाएंगी।

20/09/2019

एक वोटर के लिए 480 किलोमीटर जंगल की यात्रा कर लगाया था पोलिंग बूथ

यह मामला अरुणाचल प्रदेश का है, जहां मालोगाम इलाके में पहुंचकर चुनाव आयोग की टीम ने यह साहसिक काम किया

19/06/2019