Dainik Navajyoti Logo
Sunday 15th of December 2019
 
खास खबरें

चंद्रयान-2 के लैंडर विक्रम का मलबा ढूंढ़ने में चेन्नई के इंजीनियर ने की मदद, नासा ने दिया क्रेडिट

Tuesday, December 03, 2019 11:25 AM
शनमुगा सुब्रमण्यन

नई दिल्ली। भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के महात्वाकांक्षी मिशन चंद्रयान-2 के लैंडर विक्रम का मलबा ढूंढ लिया गया है। अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा के लूनर रिकनैसैंस ऑर्बिटर (एलआरओ) ने चांद की सतह पर विक्रम लैंडर का मलबा तलाशा है। नासा ने विक्रम का मलबा ढूंढने का क्रेडिट चेन्नई के एक मैकेनिकल इंजीनियर शनमुगा सुब्रमण्यन को दिया है।

नासा ने अपने बयान में कहा कि उसने 26 सितंबर को क्रैश साइट की एक तस्‍वीर जारी की थी और लोगों को विक्रम लैंडर के मलबे की खोज करने के लिए बुलाया था। नासा ने बताया कि पेशे से मैकेनिकल इंजीनियर शनमुगा सुब्रमण्यन ने विक्रम लैंडर की पहचान के साथ एलआरओ परियोजना से संपर्क किया। शानमुगा ने मुख्य क्रैश साइट के उत्तर-पश्चिम में लगभग 750 मीटर की दूरी पर स्थित मलबे की पहचान की थी।

वहीं शनमुगा ने बताया कि नासा ने 14 -15 अक्टूबर और 11 नवंबर को 2 तस्वीरें जारी की थीं। मैं अपने दोनों लैपटॉप पर 2 तस्वीरों की साइड बाई साइड तुलना कर रहा था। एक तरफ विक्रम लैंडर की पुरानी तस्वीर थी, दूसरी ओर नई फोटो थी, जो नासा ने जारी की थी। मुझे ट्विटर और रेडिट यूजर्स से काफी मदद मिली। उन्होंने कहा कि ये बहुत कठिन था, लेकिन मैं कोशिश करता रहा। नतीजे पर पहुंचने के बाद मैंने इसका ऐलान किया, हालांकि जानकारी सार्वजनिक करने से पहले नासा 100 फीसदी आश्वस्त होना चाहता था। इसलिए नासा ने खुद फैक्ट चेकिंग किया और पूरी तरह से आशवस्त होने के बाद 3 दिसंबर को नासा ने ट्वीट करके विक्रम लैंडर का मलबा मिलने की जानकारी दी।

शनमुगा सुब्रमण्यन का कहना है कि नासा द्वारा अपने दम पर लैंडर को खोजने में असमर्थता ने ही उनकी रुचि जगा दी। उन्होंने एक टीवी चैनल से बातचीत के दौरान कहा कि मैंने विक्रम लैंडर को ढूंढने के लिए कड़ी मेहनत की। मैं बेहद खुश हूं। मेरी हमेशा से स्पेस साइंस में दिलचस्पी रही है। मैं कभी भी किसी उपग्रह के लॉन्च को मिस नहीं करता हूं।

बता दें कि इसरो की तरफ से चंद्रमा की सतह पर चंद्रयान-2 के विक्रम लैंडर की ‘सॉफ्ट लैंडिंग’ का अभियान 7 सितंबर को अपनी तय योजना के मुताबिक पूरा नहीं हो पाया था। लैंडर को देर रात लगभग 1 बजकर 38 मिनट पर चांद की सतह पर उतारने की प्रक्रिया शुरू की गई, लेकिन चांद पर नीचे की तरफ आते समय 2.1 किलोमीटर की ऊंचाई पर जमीनी स्टेशन से इसका संपर्क टूट गया था।

यह भी पढ़ें:

एक्सीडेंट के बाद कार में फंसी महिला, 6 दिन तक पीया बारिश का पानी

महिला की कार का घने जंगलों में एक्सीडेंट हो गया और वह छह दिन तक कार में ही फंसी रही। इस दौरान उसके फोन पर लगातार फोन आ रहे थे, लेकिन वह फोन रिसीव नहीं कर पा रही थी।

03/08/2019

जयपुर के सबसे प्रसिद्ध MI रोड पर ट्रैफिक जाम और पार्किंग की समस्या से बिगड़ते जा रहे हालात

मिर्जा स्माइल (MI Road) पर रोड पर अजमेरी गेट ट्रैफिक पॉइंट पर भारी जाम से राहगीरों को रेंग-रेंग कर चलना पड़ता है।

03/09/2019

गरबा महोत्सव में झलका संस्कृति का अनूठा संगम

नवरात्रि में भक्ति और मनोरंजन से सराबोर, खुशनुमा शाम में डीजे साउण्ड की करतल ध्वनि और रंग-बिरंगी लाइट्स की रोशनियों का संगम ऐसा लग रहा था कि मानो गुजरात की गरबा संस्कृति का कीर्तिमान स्थापित किया हो।

07/10/2019

जयपुर के ये 50 कलाकार यूरोप में करेंगे ढोल वादन

अन्तरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त धोद गु्रप के निर्देशक रहीस भारती ने पहली बार परकशन का एक अनूठा कंसेप्ट बेस्ड शो तैयार किया है, जिसके लिए प्रदेश के विभिन्न शहरों में शादी-पार्टी में ढोल बजाकर जीवन यापन करने वाले पचास कलाकारों को प्रशिक्षित कर उनकी प्रतिभा का निखारा है।

22/05/2019

जयपुर का परकोटा हर कोई देखता ही रह जाता है

करीब 300 साल पहले जयपुर शहर की स्थापना की गई। लंबी चौड़ी और ऊंची प्राचीरों से घिरे इस नगर में प्रवेश कीजिए तो पहली झांकी से ही लगता है जैसे अरावली पर्वतमाला में कैनवास पर किसी सिद्धहस्त कलाकार ने अपनी तूलिका से यह दृश्यांकन किया है।

07/07/2019

जयपुर में हिस्टोरिकल मॉन्यूमेंट्स से लेकर वाइल्ड लाइफ तक सब कुछ

मरुप्रदेश आने पर देशी-विदेशी पर्यटकों को किले, महल देखने के साथ ही वन्यजीवों को देखने का मौका मिलता है। टूरिज्म के लिहाज से बात करें तो प्रदेश में गुलाबी नगरी ऐसी सिटी है, जहां पर्यटकों को लॉयन सफारी और हाथी सवारी का लुत्फ उठाने का मौका मिलता है।

27/09/2019

इंडियन आइडल सीजन-11 में शानदार परफॉर्मेंस दे रहे जयपुर के अजमत

पॉपुलर सिंगिंग रियलिटी शो इंडियन आइडल सीजन-11 के टॉप-15 प्रतिभागियों में अपनी जगह बना चुके जयपुर के अजमत हुसैन बेहतर परफॉर्मेंस कर रहे हैं।

12/11/2019