Dainik Navajyoti Logo
Wednesday 30th of September 2020
 
खास खबरें

भाई-बहन के पवित्र प्रेम का प्रतीक पर्व रक्षाबंधन आज, जानें शुभ मुहूर्त

Monday, August 03, 2020 11:35 AM
प्रतीकात्मक तस्वीर।

जयपुर। श्रावण शुक्ल पूर्णिमा सोमवार को भाई बहन के पवित्र प्रेम का प्रतीक पर्व रक्षाबंधन मनाया जा रहा है। वेद वेदांग अनुशीलन संस्थान के अधिष्ठाता पं. दुर्गादत्त शिवदत्त शास्त्री के अनुसार इस दिन रक्षाबंधन का शुभ मुहूर्त इस प्रकार रहेगा। सोमवार को भद्रा प्रात: 9.29 बजे तक है। इसके बाद मध्यान्ह 1.35 बजे से शाम 4.35 बजे तक श्रेष्ठ समय है। सायंकाल में 7.30 बजे से रात्रि 9.30 बजे तक भी अच्छा मुहूर्त रहेगा।

रक्षा बंधन पर आज सोमवार और पूर्णिमा का योग भगवान महादेव की विशेष कृपा दिलाएगा। इस बार रक्षा बंधन पर शताब्दी में पहली बार चतुर्योग में रक्षा बंधन आ रहा है। सर्वार्थ-सिद्धि योग आयुष्मान योग के चलते दीर्घायु का वर प्रदान करेगा। इस बार भद्रा और राहुकाल 9.30 से पहले ही समाप्त हो रहे हैं। इस योग में भाई-बहन की सभी इच्छाएं पूरी होंगी। हिन्दू पंचांग की गणना के अनुसार रक्षाबंधन के दिन आज दिनभर तीन शुभ मुहूर्त बताए जा रहे हैं। शुभ मुहूर्त में भाई की कलाई में राखी बांधना बेहद शुभ होता है।

यह भी पढ़ें:

अलविदा 2019: कमजोर रहा खेती-किसानी के लिए बीता साल, राजस्थान कल्याण कोष का शुभारम्भ

प्रदेश की खेती-किसानी के लिए गुजरा हुआ साल कमजोर ही रहा। प्रदेश में नई सरकार बनने के बाद सरकार के वादे के अनुसार किसानों में उम्मीद जगी थी कि सरकार किसानों के सभी तरह के कर्जे माफ कर देगी, लेकिन मात्र सहकारी बैंकों के ही कर्जे माफ हो पाए।

30/12/2019

पढ़िए, अयोध्या मामले का पूरा घटनाक्रम, कब-क्या हुआ?

अयोध्या के राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद जमीन विवाद में उच्चतम न्यायालय का फैसला आ गया है। सदियों पुराने इस विवाद के महत्वपूर्ण घटनाक्रम इस प्रकार हैं।

09/11/2019

जानिए, कितना है इंफोसिस के सीईओ का सैलरी पैकेज

आईटी कंपनी इन्फोसिस के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) सलिल पारेख को बीते वित्त वर्ष 2018-19 में 24.67 करोड़ रुपए का सैलरी पैकेज मिला।

21/05/2019

'बच्चों को ढाल बनाते हैं उपद्रवी, 95 प्रतिशत कश्मीरी शांति से चाहते हैं हल'

गृहमंत्री राजनाथ सिंह और जम्मू-कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने संयुक्त प्रेस कांफ्रेंस में जम्मू-कश्मीर के हालात पर बात की। राजनाथ ने कांफ्रेंस में कहा कि कश्मीर में छोटे बच्चों को बरगलाया जाता है, कुछ लोग बच्चों को पत्थर मारने के लिए तैयार करते हैं। सभी कश्मीर में शांति चाहते हैं, घाटी के हालात को लेकर बहुत दुखी हूं।

25/08/2016

जोधपुर जिले का एक ऐसा गांव जहां 68 वर्ष से नहीं मनी दीपावली

जोधपुर जिले का एक गांव ऐसा भी है जो अपने 18 मृतक किसान भाइयों की याद में पिछले 68 वर्षों से केवल प्रतीकात्मक दीपावली मनाते हैं। जोधपुर जिले का भुण्डाना गांव ऐसा है जहां गांववासी पिछले 68 वर्ष से दीपावली के दिन डाकुओं के हाथ मारे गये।

31/10/2019

जनता का घोषणापत्र : सरकारी क्षेत्र में बढ़े नौकरियों का ग्राफ

वर्तमान दौर में देश के साथ ही प्रदेशभर के सरकार क्षेत्र में सरकारी नौकरी में गिरावट आ रही है, जिसके ग्राफ को युवाओं की जरूरत के अनुसार बढ़ाने की आवश्यकता है।

26/04/2019

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी से जुड़ी कई योजनाएं आज भी अधूरी

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जीवन भर हिंदी के लिए लड़ते रहे, लेकिन पिछले 10 वर्षों से 'गांधी वांग्मय' हिंदी में उपलब्ध नहीं है और उनके 150वें जयंती वर्ष में यह फिर से प्रकाशित नहीं हो पाया है।

02/10/2019