Dainik Navajyoti Logo
Tuesday 20th of October 2020
 
खास खबरें

अमिताभ बच्चन को मिलेगा 'दादा साहेब फाल्के' सम्मान

Tuesday, September 24, 2019 19:25 PM
अमिताभ बच्चन (फाइल फोटो)

नई दिल्ली। बॉलीवुड के शहंशाह और महानायक अमिताभ बच्चन को भारतीय फिल्मों में महत्वपूर्ण योगदान के लिए देश के सबसे प्रतिष्ठित दादा साहेब फाल्के पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा। सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने ट्वीट कर कहा कि हिंदी फिल्मों में ‘लीजेंड’ बन गए अमिताभ बच्चन को सर्वसम्मति से दादा साहेब पुरस्कार के लिए चुना गया है। उन्होंने दो पीढ़ियों को अपने अभिनय और मनोरंजन से न केवल प्रभावित किया है बल्कि प्रेरित भी किया है। बच्चन को यह सम्मान मिलने से न केवल देश में बल्कि विदेशों में भी उनके प्रशंसकों में खुशी की लहर दौड़ी है।

उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद में 11 अक्टूबर, 1942 को जन्मे बच्चन ने अपने फिल्मी करियर की शुरुआत सात हिंदुस्तानी फिल्म से की थी और उन्होंने जंजीर, दीवार और शोले जैसी फिल्मों से एंग्री यंग मैन की भूमिका से लोगों के दिलों पर राज करना शुरू कर दिया था। बच्चन ने आनंद, मिली, नमक हराम, अभिमान जैसी फिल्मों से अपनी विशिष्ट पहचान बनाई और अपनी प्रतिभा से सबका मन मोह लिया।

4 बार राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार, 15 बार फिल्म फेयर अवॉर्ड मिले 
बच्चन को सर्वश्रेष्ठ अभिनेता के रूप में 4 बार राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार और 15 बार फिल्म फेयर अवॉर्ड मिल चुका है। उन्हें 1984 में पद्मश्री और 2001 में पद्मभूषण तथा 2015 में पद्मविभूषण भी दिया जा चुका है। इसके अलावा फ्रांस का सर्वोच्च नागरिक सम्मान ‘लीजन ऑफ हॉनर’ भी मिल चुका है। हिंदी के प्रख्यात कवि हरिवंश बच्चन के पुत्र इलाहाबाद से लोकसभा का चुनाव जीतकर सांसद भी बने थे लेकिन बाद में उन्होंने राजनीति से संन्यास ले लिया था। पिछले कुछ वर्षों से कौन बनेगा करोड़पति कार्यक्रम से उनकी लोकप्रियता एक बार फिर शिखर पर पहुंची। वह आठवें और नौंवें दशक में हिंदी फिल्मों के सबसे अधिक लोकप्रिय अभिनेता रहे और उन्होंने डॉन, कसमे वादे, मुकद्दर का सिकंदर, अग्निपथ, सिलसिला, अमर अकबर एंथनी जैसी अनेक यादगार फिल्में दी और बाद में ब्लैक, पीकू, पा जैसी फिल्मों से भी एक बार फिर अपने अभिनय के शिखर को स्पर्श किया। 

आपको बता दें कि यह भारतीय सिनेमा का सबसे बड़ा सम्मान है। फिल्म जगत में जीवनभर के योगदान के बाद इस सम्मान से किसी कलाकार को सम्मानित किया जाता है।
 

 

 

यह भी पढ़ें:

जयपुर की शिल्पा मित्तल बनी मिसेज इंडिया यूनिवर्स

जयपुर की प्रसिद्ध ज्वैलरी डिजाइनर शिल्पा मित्तल ने जहां एक ओर ज्वैलरी जगत में अपनी अलग पहचान बनाई है।

05/12/2019

रणथम्भौर टाइगर रिजर्व की 'मछली' पर बनी फिल्म को बेस्ट एनवायरनमेंटल अवॉर्ड

रणथम्भौर टाइगर रिजर्व की फेमस बाघिन रही मछली को मैंने करीब आठ साल तक फॉलो किया था। तब जाकर एक बेस्ट वाइल्ड लाइफ फिल्म बनी। यह कहना है वाइल्ड लाइफ फिल्म मेकर नल्ला मुत्थु का।

10/08/2019

राजस्थान: मई में सबसे ज्यादा होते हैं सड़क हादसे, जानिए वजह

तेज गर्मी का कहर, स्कूलों-कॉलेजों की छुट्टियां और वाहनों की तेज रफ्तार के कारण मई माह में सड़कों पर मौत का तांडव होता है।

16/05/2019

स्कूलों में बढ़ रही है काउंसलिंग की जरूरत

बदलते शिक्षा व्यवस्था के चलते बच्चों की सोच को और अधिक विकसित करने की जरूरत है। इसके लिए बच्चों को स्कूलों में पढ़ाई के साथ ही बेहतर परामर्श की आश्यकता पड़ती है, लेकिन अधिकांश निजी स्कूल प्रशासन इस तरफ कोई ध्यान नहीं देते है और स्कूलस्तर पर खानापूर्ति करते रहे है।

11/06/2019

वर्ल्ड लॉयन डे आज: नाहरगढ़ जैविक उद्यान में 4 एशियाटिक और एक हाइब्रीड शेरनी

आज वर्ल्ड लॉयन डे है। देश में शेरों की संख्या 29 फीसदी बढ़ी है। गिर वन क्षेत्र में एशियाई शेरों का एकमात्र ठिकाना है। मई, 2015 में गणना के अनुसार गिर में एशियाई शेरों की संख्या 523 थी। 2010 से 2015 के बीच इनकी संख्या में 27 प्रतिशत की वृद्धि हुई। वहीं 2020 में यहां शेरों की संख्या बढ़कर 674 बताई गई है।

10/08/2020

मदर्स डे विशेष : मां ये जीवन ही तुमसे है

मां एक शब्द ही नहीं है, इस शब्द में पूरा संसार समाया हुआ है। मां की परिभाषा का क्षेत्र सीमित नही है वो तो असीमित है किसी समंदर की तरह।

09/05/2019

तियानमेन चौक नरसंहार में 10 हजार लोगों को टैंकों से कुचल डाला था

तियानमेन चौक नरसंहार की 30वीं बरसी है। तीस साल पहले 4 जून 1989 को कम्युनिस्ट पार्टी के उदारवादी नेता हू याओबैंग की मौत के खिलाफ हजारों छात्र तियानमेन चौक पर प्रदर्शन कर रहे थे।

04/06/2019