Dainik Navajyoti Logo
Saturday 5th of December 2020
 
खास खबरें

आईआईटी दिल्ली का कमाल, पेड़ पर लगेंगे शाकाहारी अंडे, असली जैसे होंगे गुणकारी

Tuesday, November 03, 2020 09:00 AM
पेड़ पर उगाए शाकाहारी अंडे।

सेन्ट्रल डेस्क। अब अंडे भी पेड़ पर लगेंगे! नहीं हो रहा है न यकीन। मगर, यह हकीकत है। देश में यह कमाल आईआईटी दिल्ली ने कर दिखाया है। हालांकि इससे पहले अमेरिका और इसके बाद इटली इसे ईजाद कर चुका है। आश्चर्य यह भी कि इस अंडे को सभी खा सकेंगे। यानी, यह शुद्ध शाकाहारी होगा और उसकी तासीर बिल्कुल मुर्गी के अंडे जैसी होगी। इस अंडे में अंदर की पीली जर्दी भी मिलेगी। दिल्ली आईआईटी में ग्रामीण विकास तकनीकी विभाग की असिस्टेंट प्रोफेसर काव्या दशोरा के अनुसार उनकी टीम दो साल से शाकाहारी अंडे पर काम कर रही थी। इसका मुख्य उद्देश्य अंडों और मीट के लिए पशुओं के कत्ल को रोकना ही नहीं बल्कि शाकाहारी लोगों को भी मांसाहारी भोजन का स्वाद मुहैया कराना है। उनकी टीम ने जब इस पर काम करना शुरू किया तो उनके सामने एनवायरमेंट फ्रेण्डली उत्पाद पैदा करने का उद्देश्य भी था। इसके बाद बर्ड फ्लू जैसी घातक बीमारी के बाद भी लोग अंडे खाना बंद नहीं करेंगे। उनकी योजना इस शोध को किसानों तक पहुंचा कर उनकी आय में इजाफा करना भी है।

प्रोटीन से भरपूर होगा
टीम के एक शोधार्थी राहुल धवन के मुताबिक शाकाहारी अंडे की खासियत यह होगी कि इसमें प्रोटीन और दूसरे फायदे वैसे ही होंगे जो असली अंडे में होते हैं। यह पूरी तरह से कैलोस्ट्रॉल मुक्त होगा। इस शोध की औपचारिकताएं पूरी होने के बाद इस पर पेटेंट आदि को पूरा किया जाएगा। इससे भारतीय किसानों को भी फायदा होगा। सबसे बड़ी बात यह है कि बर्ड फ्लू होने पर आपको अंडा खाना बंद नहीं करना पड़ेगा।

यूं किया तैयार
असली अंडे के इस विकल्प को मटर की अद्भुत प्रजातियों, सोयाबीन, ज्वार और 11 अन्य तरह के पौधों की मदद से किया गया है। इसमें मूंग के पौधों की मदद भी ली गई है। उनकी टीम के चार और शोध छात्र इस पर दिन-रात काम कर रहे थे। प्रो. दशोरा की टीम ने इसके लिए एक साल किसानों के साथ गुजारा। उन्होंने लगातार खेतों में काम कर वहां अपने शोध को व्यवहारिक धरातल दिया।

अब मीट के विकल्प की तैयारी
आईआईटी दिल्ली की यह टीम अब शाकाहारी मीट की तैयारी कर रही है। टीम के मुताबिक दुनिया में मांसाहारी लोग अब शाकाहारी भोजन की तरफ लौट रहे हैं। शाकाहारी भोजन करने वालों को मांसाहारी स्वाद मिल सके और मांसाहारियों द्वारा मीट आदि छोड़ने के बाद वही स्वाद देना भी उनका उद्देश्य है। यह एन्वायरमेंट फ्रेण्डली भी होगा, क्योंकि इसमें करोड़ों जानवरों को काटने से रोका जा सकेगा।

अमेरिका और इटली भी कर चुके तैयार
फॉक्स न्यूज डॉटकॉम की रिपोर्ट के मुताबिक अमेरिका के एग्रीकल्चर रिसर्च फीजियोलॉजी डिपार्टमेंट ने सबसे पहले शाकाहारी अंडा तैयार किया है। इसकी वजह यह बताई गई कि यूरोपीय और अमेरिकी देशों में मांसाहारी लोग बहुत ज्यादा हैं। इसके लिए करोड़ों जानवरों को मारा जाता है। परोक्ष रूप से यह ग्लोबल वार्मिंग को भी बढ़ावा देता है। लिहाजा इसके लिए मांसाहारी भोजन को बिना जानवरों को मार कर तैयार किया गया है। इटली की उड़ीन यूनिवर्सिटी ने पौधा बनाकर शाकाहारी अंडे बना लिए हैं।

यह भी पढ़ें:

राजस्थान में 805 किलर प्वॉइंट, हमेशा रहता है हादसे का खतरा

लापरवाही या यातायात नियमों की अनदेखी की वजह से प्रदेश में हर रोज कोई न कोई सड़क हादसा होता है। हादसे के पीछे वाहनों की तेज रफ्तार, बिना हेलमेट और सीट बेल्ट ना लगाना प्रमुख कारण हैं।

18/10/2019

एक कॉल पर मोबाइल वैन घर पहुंचाएगी पौधे, जयपुर से शुरुआत

प्रदेश में पहली बार मोबाइल वैन की शुरूआत जयपुर से की गई है। इसके तहत अगर किसी व्यक्ति को पौधों की आवश्यकता है तो वे डिविजनल ऑफिस के फोन नम्बर पर कॉल कर पौधे मंगवा सकते हैं।

08/08/2019

इंदिरा गांधी ने की थी कांग्रेस अधिवेशन में शिरकत

पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी यूं तो गुलाबी नगर में कई बार आर्इं थी, लेकिन 1966 में उनकी जयपुर यात्रा विशेष महत्व रखती है।

29/04/2019

इंडियन आइडल सीजन-11 में शानदार परफॉर्मेंस दे रहे जयपुर के अजमत

पॉपुलर सिंगिंग रियलिटी शो इंडियन आइडल सीजन-11 के टॉप-15 प्रतिभागियों में अपनी जगह बना चुके जयपुर के अजमत हुसैन बेहतर परफॉर्मेंस कर रहे हैं।

12/11/2019

किसान ने बनवाया पीएम मोदी का मंदिर, 8 महीने में 1.20 लाख रुपए की लागत से तैयार

तमिलनाडु के तिरुचिरापल्ली जिले के ईराकुडी गांव में किसान पी शंकर ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को समर्पित मंदिर का निर्माण कराया है। पी शंकर ने गरीबों और वंचितों के लिए विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं को शुरू करने के लिए मोदी का आभार व्यक्त करते हुए अपनी जमीन पर इस मंदिर का निर्माण कराया है।

26/12/2019

जयपुर की ईशा गुप्ता ने किया SMS मेडिकल कॉलेज टॉप

राजस्थान स्वास्थ्य विज्ञान विश्वविद्यालय, जयपुर (आरयूएचएस) के एमबीबीएस फाइनल वर्ष के परिणाम में एसएमएस मेडिकल कॉलेज, जयपुर की छात्रा इशा गुप्ता ने प्रदेश में द्वितीय स्थान प्राप्त किया है तो कॉलेज में प्रथम स्थान प्राप्त करके प्रदेशभर में कॉलेज और अपने परिवार का नाम रोशन किया है।

05/04/2019

आमजन के लिए जेडीए जल्द ही तैयार करेगा मोबाइल एप

आर्थिक संकट के समय सीट संभालने वाले जयपुर विकास प्राधिकरण आयुक्त टी. रविकांत के नवाचारों का परिणाम यह रहा कि आम लोगों को काम कराने के लिए जेडीए कार्यालयों में चक्कर नहीं काटने पड़ रहे हैं।

01/01/2020