Dainik Navajyoti Logo
Tuesday 11th of August 2020
 
खास खबरें

सक्सेस स्टोरी : अखबार बांटने वाले की बेटी बनी अफसर, पहले प्रयास में पास की HCS की परीक्षा

Wednesday, January 15, 2020 10:15 AM
शिवजीत भारती ने पहले प्रयास में पास की हरियाणा सिविल सेवा परीक्षा।

हरियाणा। हरियाणा सिविल सेवा परीक्षा (एचसीएस) का परिणाम जारी हो गया है और इसमें 48 अभ्यर्थियों का चयन हुआ है। इनमें 26 साल की शिवजीत भारती का नाम भी शामिल है। शिवजीत भारती और उनका परिवार हरियाणा के जयसिंहपुरा गांव में रहते हैं। भारती के पिता अखबार विक्रेता की हैं, जबकि मां आंगनबाड़ी में काम करती है। पढ़ाई के दौरान पड़ोस के लोग और रिश्तेदार भारती के माता-पिता पर बेटी की शादी का दबाव बनाते थे, लेकिन भारती ने ऐसा नहीं करने दिया और कड़ी मेहनत एवं दृढ़ इच्छाशक्ति से सिविल सेवा परीक्षा पास की।  

शिवजीत भारती ने बताया कि उनके पिता गुरनाम सैनी सूरज निकलने से पहले जगते हैं और अखबार बांटने का काम करते हैं। उन्‍हें साल में सिर्फ 4 छुट्ट‍ियां ही मिलती हैं। उनकी मां शारदा सैनी आंगनबाड़ी में काम करती हैं। भारती ने बताया कि आज के दौर में कम आय में अच्‍छी शिक्षा प्राप्‍त करना चुनौतीपूर्ण होता है, लेकिन कड़ी मेहनत कर पढ़ाई करना और सरकारी नौकरी हासिल करना उनकी प्राथमिकता थी। भारती ने बताया कि वह यूपीएससी की तैयारी कर रही थी। इसी बीच उन्‍हें हरियाणा सिविल सेवा (एग्‍ज‍िक्‍यूटिव) परीक्षा देने का मौका मिला और पहली ही कोशिश में उन्‍होंने क्‍वालिफाई कर लिया। भारती कहती हैं कि अब उन्‍हें पूरा यकीन है कि वह यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा भी पास कर सकती हैं। उनका अगला लक्ष्‍य यूपीएससी क्‍ल‍ियर करना है।

भारती की छोटी बहन पब्‍ल‍िक एडमिनिस्‍ट्रेशन में पोस्‍ट ग्रेजुएशन कर रही हैं और उनका छोटा भाई स्‍पेशल चाइल्‍ड है। ऐसे में भाई-बहनों की पढ़ाई पर भी खर्च होता है। साल 2015 में पंजाब यूनिवर्सिटी (चंडीगढ़) से मैथ्‍स ऑनर्स से पोस्‍ट ग्रेजुएशन करने वाली भारती अपना खर्च चलाने के लिए घर पर ट्यूशन पढ़ाती हैं। भारती के अनुसार सफलता के लिए कड़ी मेहनत जरूरी है और इसका दूसरा कोई विकल्‍प नहीं है। उन्‍हें किताबों से प्‍यार है और इसी मोहब्‍बत ने उन्‍हें यह सफलता दिलाई। भारती को किताबें, अखबार, मैग्‍जीन पढ़ना और यूट्यूब पर जानकारी से भरे वीडियोज देखना पसंद है। भारती ने बताया कि परीक्षा की तैयारी में ये सभी चीजें खूब काम आईं।

शिवजीत भारती ने बताया कि पढ़ाई के दौरान ही पड़ोसी और रिश्‍तेदार उनके माता-पिता को सुझाव देते थे कि बेटी की जल्‍दी शादी कर दो, लेकिन उनके लिए शिक्षा सबसे ज्यादा जरूरी थी, इसलिए उन्‍होंने सबकी बातों को अनसुना कर पढ़ाई जारी रखी और आज सिविल सेवा परीक्षा पास की। भारती ने कहा कि अगर इच्‍छाशक्‍त‍ि हो तो छोटे से गांव में रहकर भी काफी कुछ हासिल किया जा सकता है। भारती ने कहा कि वह अपने पूरे करियर के दौरान विनम्र बनी रहेंगी और अपनी कामयाबी को सिर पर चढ़ने नहीं देंगी। अपनी बेटी की कामयाबी पर गुरनाम सैनी ने कहा कि मुझे अपनी बेटियों पर गर्व है और उनकी कामयाबी देखकर मैं नौवें आसमान पर हूं।

यह भी पढ़ें:

जल संचय की अनूठी पहल, 'हाफ गिलास वाटर' अभियान की शुरुआत

भीलवाड़ा। जिले में जल संचय के लिए अनूठी पहल करते हुए हाफ गिलास वाटर अभियान की शुरुआत की गई है। जिला कलेक्टर भीलवाड़ा राजेन्द्र भट्ट ने जिले में जब आपको आधे गिलास पानी की प्यास हो तो आप पूरा गिलास पानी क्यों मंगाए और जितना पीएं उतना व्यर्थ क्यों बहाएं।

20/08/2019

महिलाओं को घूंघट से मिले आजादी, देशभर में चले अभियान: अशोक गहलोत

सिखों के प्रथम गुरु गुरुनानक देवजी के 550वें प्रकाश पर्व के उपलक्ष्य में मुख्यमंत्री निवास पर आयोजित शबद कीर्तन के कार्यक्रम में गुरुवाणी का अमृत बरसा। श्रद्धामय माहौल में सीएम अशोक गहलोत सहित पूरी संगत भाव विभोर हो उठी।

05/12/2019

जनता का घोषणापत्र: शहरों की साफ-सफाई और युवाओं के रोजगार पर विशेष फोकस

आज देश के साथ ही प्रदेश के हर शहर में जगह-जगह कचरे का ढेर लगा हुआ है। जबकि राज्य और केन्द्र सरकार की ओर से स्वच्छता के लिए कई अभियान चलाए जा रहे हैं।

22/04/2019

अलविदा 2019 : पंचायत पुनर्गठन से बदला ढांचा, नरेगा में केन्द्र ने थपथपाई पीठ

प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों के लिहाज से यह साल काफी बदलाव भरा रहा। ग्राम पंचायत और पंचायत समितियों के पुनर्गठन और पुनर्सीमांकन प्रक्रिया से ग्रामीण क्षेत्र के ढांचे में बड़ा बदलाव आया तो शैक्षणिक योग्यता की बाधा हटाकर भी राज्य सरकार ने बड़ा परिवर्तन कर दिखाया।

09/12/2019

अंतरराष्ट्रीय संग्रहालय दिवस: इस बार पर्यटन स्थलों पर ना पर्यटक और ना कद्रदान

अंतरराष्ट्रीय संग्रहालय दिवस पर प्रदेश में पुरातत्व विभाग के अधीन आने वाले सभी हिस्टोरिकल मॉन्यूमेंट्स पर पर्यटकों को नि:शुल्क प्रवेश दिया जाता है, लेकिन इस बार ना कोई पर्यटक हैं और ना ही उनके स्वागत के लिए पलक बिछाए बैठे कर्मचारी।

18/05/2020

दो बर्ड्स राजस्थान से पहुंच गए ओमान, मंगोलिया से उड़ा पंछी पहुंचा इथोपिया

मौसम में परिवर्तन के चलते कई विदेशी पक्षी अन्य देशों की ओर रुख करते हैं। ज्यादातर बर्ड्स ठंड के चलते प्रजनन और भोजन-पानी की तलाश के चलते भारत के विभिन्न राज्यों में प्रवास करते हैं। एक ऐसी ही प्रजाति कॉमन कुक्कू (ओनो) मंगोलिया से सितम्बर माह के अंतिम सप्ताह के दौरान भारत के विभिन्न राज्यों से होता हुआ राजस्थान पहुंचा। इसके बाद जयपुर, चाकसू, अजमेर, जोधपुर को पार करता हुआ पड़ौसी मुल्क पाकिस्तान से होता हुआ ओमान और फिर इथोपिया पहुंचा।

03/10/2019

चंद्रयान-2 के लैंडर विक्रम का मलबा ढूंढ़ने में चेन्नई के इंजीनियर ने की मदद, नासा ने दिया क्रेडिट

अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा के लूनर रिकनैसैंस ऑर्बिटर ने चांद की सतह पर चंद्रयान-2 के लैंडर विक्रम का मलबा ढूंढ लिया है। नासा ने विक्रम का मलबा ढूंढने का क्रेडिट चेन्नई के मैकेनिकल इंजीनियर शनमुगा सुब्रमण्यन को दिया है।

03/12/2019