Dainik Navajyoti Logo
Wednesday 28th of October 2020
 
खास खबरें

गहलोत सरकार कर रही अच्छा काम, वसुंधरा की भाजपा में हो रही अनदेखी: महेश जोशी

Wednesday, January 08, 2020 10:45 AM
सरकारी मुख्य सचेतक महेश जोशी ने दैनिक नवज्योति के फेस-टू-फेस कार्यक्रम में दिए विशेष साक्षात्कार में कई सामाजिक और राजनीतिक पहलुओं पर अपने विचार रखे।

जयपुर। सरकारी मुख्य सचेतक डॉ. महेश जोशी ने भाजपा नेताओं की राज्य सरकार के खिलाफ बयानों को खारिज करते हुए कहा है कि भाजपा नेता नॉन इश्यू को इश्यू बना रहे हैं। एक साल के कार्यकाल में सरकार ने विपक्ष को एक भी मुद्दा ऐसा नहीं दिया, जिस पर वे राजनीति कर सकें। जोशी ने दैनिक नवज्योति के फेस-टू-फेस कार्यक्रम में दिए विशेष साक्षात्कार में कई सामाजिक और राजनीतिक पहलुओं पर अपने विचार रखे।

सवाल : राज्य सरकार के एक साल के कार्यकाल में क्या उपलब्धि रही?
जवाब :  नॉन इश्यू को इश्यू बनाने की बात छोड़ दें तो एक साल में एक भी मुद्दा राज्य सरकार ने विपक्ष को नहीं दिया। हमने चुनाव घोषणा पत्र को आधार बनाकर काम किया। पानी सहित कई मुद्दों पर गहलोत सरकार ने ठीक काम किया अन्यथा सरकार जनता के बीच नहीं जा पाती। हमने एक साल में काम भी किए हैं और जनता में भरोसा भी बढ़ाया है। स्मार्ट सिटी जैसे कार्यों में हम सोच बदल रहे हैं।

सवाल : पूर्व मुख्यमंत्री वसुधंरा राजे ने प्रदेश में अपराध बढ़ोतरी के राज्य सरकार पर आरोप लगाए हैं?
जवाब : उन आरोपों पर सहमत नही हूं, पुलिस के आंकड़े मैंने भी देखें हैं। भाजपा के आरोप राजनीति से प्रेरित हैं। हमें अपराधों के सामाजिक कारणों को जानना होगा। अपराधी को पकड़ने के साथ साथ अपराधी की मानसिकता को भी पकड़ना होगा। पूर्व मुख्यमंत्री राजे के लिए ऐसे बयान देना इसलिए जरूरी है कि उनकी स्वयं की पार्टी में उनकी अनदेखी हो रही है, इसलिए वे ऐसे मुद्दों पर चोट करने में लगी हैं।

सवाल : कांग्रेस के कई मंत्री जनसंख्या नियंत्रण की जरूरत बता रहे हैं, सरकार इस मामले में क्या चाहती है?
जवाब : जनसंख्या नियंत्रण की बात पूरा देश मान रहा है। जनसंख्या नियंत्रण कांग्रेस पार्टी का ही कार्यक्रम है। कांग्रेस नेता संजय गांधी के समय यह कार्यक्रम शुरू हुआ था और आज के समय में इसकी जरूरत बढ़ गई है। कई देशों में अलग परिस्थितियां हैं, लेकिन भारत की परिस्थितियों के हिसाब से और भविष्य को ध्यान में रखते हुए जनसंख्या नियंत्रण की जरूरत है।

सवाल : आर्मी चीफ के राजनीतिक बयानों को कांग्रेस किस नजरिए से देखती है?
जवाब : देश के लोकतंत्र में पहली बार ऐसा देखा जा रहा है कि मोदी राज में फौज के पीछे छिपकर राजनीति की जा रही है। देश के आर्मी चीफ राजनीतिक बयान दे रहे हैं। यह दखलअंदाजी की नई अवधारणा स्थापित की जा रही है। भाजपा लाख कोशिश कर ले, जनता देश के लोकतंत्र को कमजोर नहीं होने देगी। पिछले दिनों चार पांच राज्यों के चुनावों में जनता ने यह बता दिया है।

सवाल : एनआरसी और सीएए पर कांग्रेस नेता इतना विरोध क्यों जता रहे हैं?
जवाब : कांग्रेस पार्टी के हिसाब से सीएए और एनआरसी की कोई जरूरत ही नहीं है। नागरिकता देने के नियम पहले से बने हुए हैं तो इनको ये बिल लाने की क्या जरूरत पड़ गई। भाजपा नेताओ को देश में गरीबी, भूख, बेरोजगारी की चिंता नहीं है और एनआरसी और सीएए से लोगों को बांटने का काम कर रहे हैं। ये किसानों की चिंता नहीं करते, केवल ध्यान बंटाने की राजनीति करते हैं। इस समय देश की अर्थव्यवस्था बहुत खराब है।

सवाल : कोटा के जेके लोन अस्पताल में इन दिनों राजनीति गरमाई हुई है। भाजपा भी सरकार को घेर रही है?
जवाब : भाजपा को राज्य सरकार के खिलाफ मुद्दे तो मिलते नहीं हैं तो वो लाशों की राजनीति करने लग जाती है। मेरा मानना है कि इस तरह की मौतें दुर्भाग्यूपूर्ण हैं और मौतों पर सियासत करना उससे भी ज्यादा दुर्भाग्यपूर्ण है। भाजपा यह बताए कि उनके शासन में वे कौनसी चीजें या सुविधाएं कोटा अस्पताल में देकर गए, जो अब हमने हटा ली। पूर्ववर्ती सरकार में निवर्तमान चिकित्सा मंत्री राजेन्द्र राठौड़ ने अव्यवस्थाओं को लेकर शर्म आने का बयान दिया था। हमारी सरकार प्रदेश के सभी अस्पतालों में बच्चे और बड़े सबको अच्छे से अच्छा इलाज देने की कोशिश में जुटी हुई है।

सवाल : विधानसभा के बजट सत्र में विपक्ष की घेराबंदी से सरकार कैसे निपटेगी?
जवाब : हमारे एक साल में काम ऐसे रहे हैं कि विपक्ष कोई कमी निकाल ही नहीं सकता। हमारी पार्टी के सदस्य पूरी तरह मुस्तैद हैं और विपक्ष की घेराबंदी का जबाव देने के लिए पूरी तरह तैयार हैं। हमें उम्मीद है कि विपक्ष को घेराबंदी करने का कोई मौका ही नहीं मिलेगा।

सवाल : आप जयपुर शहर के विधायक भी हैं। हेरिटेज शहर के लिए क्या विशेष प्लानिंग है?
जवाब : हम सत्ता का विकेन्द्रीकरण कर रहे हैं। यहां दो नगर निगम बनाए हैं, क्योंकि हेरिटेज की अलग समस्याए हैं। जयपुर हैरिटेज नगर निगम में पांच विधानसभा क्षेत्र मिलाए गए हैं। हम काम बांटेंगे और निगम के माध्यम से लोगों को अच्छी सेवाएं देंगे। स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के माध्यम से अच्छे काम कराएंगे। भाजपा के समय में तो एक किमी सड़क 18 करोड़ रुपए में बनाई गई।

सवाल : क्या आप पिछली सरकार के कार्यों में अनियमितताओं की जांच कराएंगे?
जवाब :
फिलहाल हम पिछली सरकार के कार्यों की जांच में नहीं उलझेंगे। हमारा ध्यान शहर की साफ-सफाई व्यवस्था को सही करने और सुविधाएं बढ़ाने पर रहेगा। जयपुर शहर में लोगों की सुविधाओं के लिए एलीवेटेड रोड बनाने और मेट्रो का द्वितीय फेज शुरू करने का काम हम जल्दी करेंगे।

नवज्योति : मकर संक्रांति पर चाइनीज मांझे से हर साल मौतें होती हैं, सरकार इस पर अंकुश के लिए क्या कदम उठाएगी?
जवाब : मैं किसी की धार्मिक भावनाओं में दखल नहीं देना चाहता, मगर मैं इस पक्ष में हूं कि पतंग उड़ाने का समय और दिन निश्चित किया जाना चाहिए। चाइनीज मांझा तो बहुत ही खतरनाक है, कई बार तो सामान्य मांझा भी राहगीरों को चोटिल कर देता है। ऐसी दुर्घटनाओं पर अंकुश के लिए पतंग उड़ाने के तरीके पर ध्यान देते हुए जगह और समय तय होना चाहिए। चाइनीज मांझे से घायल होने की घटनाएं दुखद हैं और इसके लिए राज्य सरकार को जरूरत के हिसाब से एक्शन लेना चाहिए।

जेएनयू दिल्ली में जारी विवाद पर कांग्रेस की क्या राय है?
जिस तरह की खबरें सामने आ रही हैं, उससे पता चलता है कि इस मामले में केन्द्र सरकार में बैठे लोगों का पूरा संरक्षण है। यह भाजपा के इशारे पर ही हो रहा है। भाजपा में जिसे देखो पाकिस्तान चले जाने की बात करता है। ये चीन जाने की बात क्यों नहीं करते। पाकिस्तान से बड़ा दुश्मन तो चीन है। भाजपा नेता केवल भावनाओं को भड़काने का काम करते हैं।
 

यह भी पढ़ें:

भारतीय रेल ने पुराने डिब्बों का किया रचनात्मक इस्तेमाल, मैसूर में खोले क्लास रूम

भारतीय रेल ने पुराने और बेकार पड़े डिब्बों का रचनात्मक तरीके से इस्तेमाल किया है। भारतीय रेल ने शिक्षा को बढ़ावा देने और स्कूल के प्रति बच्चों की रुचि बढ़ाने के लिए रेलवे के पुराने डिब्बों को कचरा बनाने की बजाय उसमें नए क्लासरूम खोले हैं।

21/02/2020

स्वदेशी तकनीक से ऐसे रिचार्ज किए बोरवेल

तमिलनाडु के चेन्नई क्षेत्र में पानी की भारी कमी एक बड़ी समस्या के रूप में उभरी है। इस चिंताजनक स्थिति के कारण पानी की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए नये समाधानों को ढूंढना अनिवार्य हो गया है।

22/08/2019

FathersDay: मेरी ताकत मेरी पहचान हैं मेरे पिता...!!

मां बच्चों के लिए लाड़-दुलार, संस्कार देने की खान होती है तो पिता एक बरगद की तरह होता है। जिसके तले बच्चा सुरक्षित रहने के साथ उसे जीने की दिशा, अच्छे कामों के लिए मार्गदर्शन और उद्देश्य मिलता है। पिता के रहने से संतान खुद को बेहतर सुरक्षित महसूस करती है।

13/06/2019

24 कैरेट गोल्ड में बनाया राजसी साफा, 7 महीने में 40 कारीगरों ने किया तैयार

राजपूताना की 100 साल पुरानी परम्परा को फिर से जीवंत करने के लिए जयपुर के डिजाइनर भूपेन्द्र सिंह शेखावत ने 24 कैरेट गोल्ड में 10 गज लम्बा 530 ग्राम का साफा बनाया है।

05/10/2019

जानिए, कितना है इंफोसिस के सीईओ का सैलरी पैकेज

आईटी कंपनी इन्फोसिस के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) सलिल पारेख को बीते वित्त वर्ष 2018-19 में 24.67 करोड़ रुपए का सैलरी पैकेज मिला।

21/05/2019

'बच्चों को ढाल बनाते हैं उपद्रवी, 95 प्रतिशत कश्मीरी शांति से चाहते हैं हल'

गृहमंत्री राजनाथ सिंह और जम्मू-कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने संयुक्त प्रेस कांफ्रेंस में जम्मू-कश्मीर के हालात पर बात की। राजनाथ ने कांफ्रेंस में कहा कि कश्मीर में छोटे बच्चों को बरगलाया जाता है, कुछ लोग बच्चों को पत्थर मारने के लिए तैयार करते हैं। सभी कश्मीर में शांति चाहते हैं, घाटी के हालात को लेकर बहुत दुखी हूं।

25/08/2016

गौर-गौर गोमती ईसर पूजे पार्वती

गौर ए गणगौर माता खोल किंवाड़ी, पूजन हाळी बाहर खड़ी छै कांई कांई मांगी, कान्ह कंवर सूं बीरो मांगू राई सी भोजाई... गौर-गौर गोमती ईसर पूजे पार्वती... जैसे मांगलिक गीतों के बीच सुहागिनों और कुंवारी कन्याओं ने सोमवार को शिव-पार्वती का पूजन ईसर-गणगौर के रूप में किया।

09/04/2019