Dainik Navajyoti Logo
Saturday 18th of September 2021
 
खास खबरें

दिल्ली से जयपुर और अहमदाबाद के बीच बुलेट ट्रेन चलाने की तैयारी

Thursday, January 30, 2020 16:35 PM
प्रतीकात्मक तस्वीर।

नई दिल्ली। मुंबई-अहमदाबाद के बीच बुलेट ट्रेन सेवा को लेकर फिलहाल निर्माण काम चल रहा है, लेकिन रेलवे ने नई बुलेट ट्रेनों की तैयारियां शुरू कर दी हैं। इसके लिए दिल्ली-आगरा-लखनऊ-वाराणसी समेत 6 नए कॉरिडोर चिन्हित किए गए हैं। इसकी डीपीआर एक साल में तैयार हो जाएगी। इनमें हाई स्पीड कॉरिडोर पर ट्रेन की रफ्तार 300 किलोमीटर प्रति घंटे होगी, जबकि सेमी हाई स्पीड कॉरिडोर पर ट्रेन 160 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चलेगी। ये कॉरिडोर कई महानगरों से होकर गुजरेगा। इनमें दिल्ली, नोएडा, आगरा, लखनऊ, वाराणसी, जयपुर, अहमदाबाद, पुणे, हैदराबाद और बेंगलुरू शामिल है।

रेलवे बोर्ड चेयरमैन वीके यादव ने बताया कि रेलवे ने हाई स्पीड और सेमी हाई स्पीड कॉरिडोर को चिह्नित किया है। इन 6 कॉरिडोर में 865 किलोमीटर लंबे दिल्ली-नोएडा-आगरा-वाराणसी कॉरिडोर के अलावा 459 किलोमीटर लंबा दिल्ली-चंडीगढ़-लुधियाना-जालंधर-अमृतसर कॉरिडोर, 886 किलोमीटर लंबा दिल्ली-जयपुर-उदयपुर-अहमदाबाद कॉरिडोर, 753 किलोमीटर लंबा मुंबई-नासिक-नागपुर कॉरिडोर, 711 किलोमीटर लंबा मुंबई-हैदराबाद और 435 किलोमीटर लंबा चेन्नई-बंगलूर-मैसूर के कॉरिडोर भी शामिल है।

यादव ने कहा कि इन कॉरिडोर की डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट एक साल के अंदर तैयार कर ली जाएगी। डीपीआर में इस बात का अध्ययन किया जाएगा कि इन रूटों पर हाईस्पीड ट्रैक बिछाने में कौन-कौन सी चुनौतियों का सामना करना पड़ेगा। जमीन कहां-कहां और कैसे उपलब्ध होगी। भूमि उपलब्धता के आधार पर ट्रैक का एलाइनमेंट तय होगा। इसके अलावा इन रूटों पर ट्रैफिक क्षमता का अध्ययन कर किराया निर्धारण का भी आकलन किया जाएगा। इसके बाद यह तय किया जाएगा कि कौन हाई स्पीड और कौन सेमी हाई स्पीड कॉरिडोर होगा।

मुंबई-अहमदाबाद हाईस्पीड कॉरिडोर के बारे में पूछे जाने पर यादव ने कहा कि अगले 6 महीनों में प्रोजेक्ट के लिए जरूरी 90 फीसदी जमीन का अधिग्रहण हो जाएगा। हमें प्रोजेक्ट के लिए 1380 हेक्टेयर जमीन की जरूरत है, इसमें से 1005 हेक्टेयर जमीन निजी है। इस निजी जमीन में से 471 हेक्टेयर जमीन का हम अधिग्रहण कर चुके हैं, जबकि 149 हेक्टेयर सरकारी जमीन में से 119 हेक्टेयर का अधिग्रहण किया जा चुका है। शेष 128 हेक्टेयर भूमि रेलवे की है, जो प्रोजेक्ट को दी जा चुकी है।

बता दें कि बुलेट ट्रेन मोदी सरकार का ड्रीम प्रोजेक्ट है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और जापान के पीएम शिंजो आबे ने सितंबर 2017 में मुंबई-अहमदाबाद बुलेट ट्रेन की नींव रखी थी। दिसंबर 2017 से इस प्रोजेक्ट का काम शुरू भी हो गया था। इस प्रोजेक्ट की प्राथमिकता को देखते हुए इसकी डेडलाइन अगस्त 2023 से कम कर अगस्त 2022 कर दी गई थी। बुलेट ट्रेन मुंबई और अहमदाबाद के बीच की 500 किमी की दूरी को 320-350 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से तय करेगी और दोनों शहरों के बीच में 12 स्टेशन होंगे।

परफेक्ट जीवनसंगी की तलाश? राजस्थानी मैट्रिमोनी पर निःशुल्क  रजिस्ट्रेशन करे!

यह भी पढ़ें:

दैनिक नवज्योति के राष्ट्रीय कवि सम्मेलन देश राग में आएंगे गीतकार समीर अंजान

गणतंत्र दिवस की संध्या पर जयपुर शहर और आसपास के वाशिन्दें गुदगुदाएंगे और लोटपोट होंगे। मौका होगा दैनिक नवज्योति की ओर से आयोजित राष्ट्रीय कवि सम्मेलन देश राग का।

21/01/2020

पहली आदिवासी कमर्शियल पायलट बनी अनुप्रिया लाकड़ा, सीएम ने दी बधाई

माओवादी प्रभावित मल्कानगिरी की रहने वाली एक आदिवासी लड़की व्यावसायिक विमान उड़ाने वाली राज्य की पहली महिला बन गई है।

09/09/2019

खरगोश के बाल पर लिखा है गायत्री मंत्र

जब किसी संग्रहालय की रचना करते हैं तो उसका उद्देश्य लोगों को उस युग में ले जाना जहां से उन्हें इतिहास का दर्शन हो सके।

19/05/2019

200 करोड़ की शाही शादी, 5 करोड़ के सजावटी फूल

हिन्दुस्तान के खूबसूरत हिल स्टेशन औली में गुप्ता बंधुओं की शाही शादी की चर्चा दुनिया भर में हो रही है। शादी की रस्में 18 जून से शुरू हो गई हैं।

22/06/2019

ग्रह-नक्षत्रों के दुर्लभ योग में मनाई जाएगी दीपावली, 1521 में बना था गुरु, शुक्र और शनि का ऐसा संयोग

कार्तिक माह में कृष्ण पक्ष की अमावस्या तिथि को दीपावली का त्योहार मनाया जाता है। यह तिथि सर्वार्थसिद्धि देने वाली मानी गई है। इस वर्ष दीपावली का त्योहार 14 नवंबर को हर्षोल्लास के साथ मनाया जाएगा। दीपावली पर धन की देवी मां लक्ष्मी का पूजन होता है। माना जाता है कि इस दिन मां लक्ष्मी स्वयं पधारती हैं। इस दिन पूरे विधि-विधान के साथ पूजन करने पर सुख-समृद्धि बनी रहती है।

13/11/2020

मरने के बाद तीन लोगों को नई जिंदगी दे गया हरीश, लीवर और किडनी की डोनेट

28 साल का हरीश मरने के बाद भी तीन लोगों को नई जिन्दगी दे गया। रोड एक्सीडेंट के बाद ब्रेन डेड हुए जयपुर के हरीश के परिजनों ने ब्रेन डैड के लिए बनी कमेटी और अस्पताल के चिकित्सकों की समझाइश के बाद उसकी दोनों किडनी और लिवर दान करने की रजामंदी दी।

20/12/2019

चांद बावडी में की जाएगी लाइटिंग

दौसा जिले के बांदीकुई में स्थित आठवीं सदी की चांद बावडी का दृश्य है। यहां पर्यटन विभाग की ओर से आभानेरी उत्सव का आयोजन होगा।

26/09/2019