Dainik Navajyoti Logo
Friday 18th of June 2021
 
खास खबरें

दिल्ली से जयपुर और अहमदाबाद के बीच बुलेट ट्रेन चलाने की तैयारी

Thursday, January 30, 2020 16:35 PM
प्रतीकात्मक तस्वीर।

नई दिल्ली। मुंबई-अहमदाबाद के बीच बुलेट ट्रेन सेवा को लेकर फिलहाल निर्माण काम चल रहा है, लेकिन रेलवे ने नई बुलेट ट्रेनों की तैयारियां शुरू कर दी हैं। इसके लिए दिल्ली-आगरा-लखनऊ-वाराणसी समेत 6 नए कॉरिडोर चिन्हित किए गए हैं। इसकी डीपीआर एक साल में तैयार हो जाएगी। इनमें हाई स्पीड कॉरिडोर पर ट्रेन की रफ्तार 300 किलोमीटर प्रति घंटे होगी, जबकि सेमी हाई स्पीड कॉरिडोर पर ट्रेन 160 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चलेगी। ये कॉरिडोर कई महानगरों से होकर गुजरेगा। इनमें दिल्ली, नोएडा, आगरा, लखनऊ, वाराणसी, जयपुर, अहमदाबाद, पुणे, हैदराबाद और बेंगलुरू शामिल है।

रेलवे बोर्ड चेयरमैन वीके यादव ने बताया कि रेलवे ने हाई स्पीड और सेमी हाई स्पीड कॉरिडोर को चिह्नित किया है। इन 6 कॉरिडोर में 865 किलोमीटर लंबे दिल्ली-नोएडा-आगरा-वाराणसी कॉरिडोर के अलावा 459 किलोमीटर लंबा दिल्ली-चंडीगढ़-लुधियाना-जालंधर-अमृतसर कॉरिडोर, 886 किलोमीटर लंबा दिल्ली-जयपुर-उदयपुर-अहमदाबाद कॉरिडोर, 753 किलोमीटर लंबा मुंबई-नासिक-नागपुर कॉरिडोर, 711 किलोमीटर लंबा मुंबई-हैदराबाद और 435 किलोमीटर लंबा चेन्नई-बंगलूर-मैसूर के कॉरिडोर भी शामिल है।

यादव ने कहा कि इन कॉरिडोर की डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट एक साल के अंदर तैयार कर ली जाएगी। डीपीआर में इस बात का अध्ययन किया जाएगा कि इन रूटों पर हाईस्पीड ट्रैक बिछाने में कौन-कौन सी चुनौतियों का सामना करना पड़ेगा। जमीन कहां-कहां और कैसे उपलब्ध होगी। भूमि उपलब्धता के आधार पर ट्रैक का एलाइनमेंट तय होगा। इसके अलावा इन रूटों पर ट्रैफिक क्षमता का अध्ययन कर किराया निर्धारण का भी आकलन किया जाएगा। इसके बाद यह तय किया जाएगा कि कौन हाई स्पीड और कौन सेमी हाई स्पीड कॉरिडोर होगा।

मुंबई-अहमदाबाद हाईस्पीड कॉरिडोर के बारे में पूछे जाने पर यादव ने कहा कि अगले 6 महीनों में प्रोजेक्ट के लिए जरूरी 90 फीसदी जमीन का अधिग्रहण हो जाएगा। हमें प्रोजेक्ट के लिए 1380 हेक्टेयर जमीन की जरूरत है, इसमें से 1005 हेक्टेयर जमीन निजी है। इस निजी जमीन में से 471 हेक्टेयर जमीन का हम अधिग्रहण कर चुके हैं, जबकि 149 हेक्टेयर सरकारी जमीन में से 119 हेक्टेयर का अधिग्रहण किया जा चुका है। शेष 128 हेक्टेयर भूमि रेलवे की है, जो प्रोजेक्ट को दी जा चुकी है।

बता दें कि बुलेट ट्रेन मोदी सरकार का ड्रीम प्रोजेक्ट है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और जापान के पीएम शिंजो आबे ने सितंबर 2017 में मुंबई-अहमदाबाद बुलेट ट्रेन की नींव रखी थी। दिसंबर 2017 से इस प्रोजेक्ट का काम शुरू भी हो गया था। इस प्रोजेक्ट की प्राथमिकता को देखते हुए इसकी डेडलाइन अगस्त 2023 से कम कर अगस्त 2022 कर दी गई थी। बुलेट ट्रेन मुंबई और अहमदाबाद के बीच की 500 किमी की दूरी को 320-350 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से तय करेगी और दोनों शहरों के बीच में 12 स्टेशन होंगे।

परफेक्ट जीवनसंगी की तलाश? राजस्थानी मैट्रिमोनी पर निःशुल्क  रजिस्ट्रेशन करे!

यह भी पढ़ें:

दुनिया का पहला ऐसा संग्रहालय जहां लगेगा अक्षय कुमार का स्टेच्यू

नाहरगढ़ फोर्ट में इन दिनों पर्यटकों की संख्या में वृद्धि देखने को मिल रही है। वहीं जयपुर वैक्स म्यूजियम प्रशासन भी पर्यटकों को आकर्षित करने के लिए कुछ ना कुछ नई एक्टिविटीज करता रहता है।

06/07/2019

शारीरिक दुर्बलता को पीछे छोड़ MBBS की सीढ़ियां चढ़े साजन

साजन कुमार ने अपनी शारीरिक दुर्बलता को पीछे छोड़ते हुए कड़ी मेहनत से खुद को साबित किया और मेडिकल प्रवेश परीक्षा नीट क्रक की।

25/07/2019

अजब गजब: दुनिया की सबसे ऊंची वीरान बिल्डिंग, जहां जाने से थरथर कांपते हैं लोग

उत्तर कोरिया में मौजूद होटल की बिल्डिंग ऐसी ही भूतिया जगहों में से एक है। उत्तर कोरिया में एक ऐसा होटल मौजूद है, जिसको शापित और भूतिया कहा जाता है। यह होटल पिरामिड जैसे आकार और नुकीले सिरे वाली गगनचुंबी इमारत के रूप में बनाया गया है। इस होटल का निर्माण कार्य बीच में ही रोक दिया गया और 33 साल बीत जाने के बावजूद इसका निर्माण कार्य आज भी अधूरा ही है।

27/02/2021

न्यू किम दुनिया का सबसे महंगा कबूतर, जिसे नीलामी में 14 करोड़ रुपए में बेचा गया

हाल ही में एक कबूतर को 14 करोड़ रुपए में बेचा गया। एक न्यूज एजेंसी के मुताबिक, बेल्जियम की दो वर्षीय मादा कबूतर का नाम न्यू किम है, जिसे रिकॉर्ड 19 लाख डॉलर में बेचा गया है। इस मादा कबूतर को पहले 237 डॉलर पर नीलामी के लिए रखा गया था, लेकिन एक चीनी व्यक्ति ने इसे 19 लाख डॉलर यानी करोड़ 14 करोड़ 15 लाख रुपए से ज्यादा में खरीद लिया।

18/11/2020

फिल्म इंडस्ट्री में फ्लॉप मयूरी कांगो बनीं गूगल इंडिया की इंडस्ट्री हेड

बॉलीवुड में फ्लॉप होने के बाद दक्षिण की फिल्मों में नजर आई मयूरी कांगो का वहां भी सिक्का नहीं चला। अब वे गूगल इंडिया के इंडस्ट्री हेड का पद संभाल रही हैं।

05/04/2019

अजब गजब: इस झील को माना जाता है दुनिया की सबसे रहस्यमयी झील, रात में नीला हो जाता है इसका पानी

पूरी दुनिया में रहस्यों की कमी नहीं है, दुनियाभर के वैज्ञानिक भी इन रहस्यों के बारे में आज तक पता नहीं लगा पाए। आज हम आपको एक ऐसे ही रहस्य के बारे में बताने जा रहे हैं जो एक झील में छिपा हुआ है। इस झील का रहस्य यह हैं कि यह झील रात के वक्त किसी नीले रंग के पत्थर की तरह चमकने लगती है।

26/02/2021

दूसरे राज्यों से हमारी ब्यूरोक्रेसी बेहतर, जनहित के फैसले ले रही सरकार: मुख्य सचिव डीबी गुप्ता

किसी भी राज्य की ब्यूरोक्रेसी में ऐसा कम ही देखने को मिलता है कि कोई आईएएस अधिकारी दो सरकारों में मुख्य सचिव की कुर्सी पर काबिज रहा हो, लेकिन 1983 बैच के आईएएस अधिकारी डीबी गुप्ता इस जिम्मेदारी को भली भांति निभा रहे हैं।

15/12/2019