Dainik Navajyoti Logo
Sunday 13th of June 2021
 
खास खबरें

परफेक्ट जीवनसंगी की तलाश? राजस्थानी मैट्रिमोनी पर निःशुल्क  रजिस्ट्रेशन करे!

यह भी पढ़ें:

जब नहीं मिली एंबुलेंस तो पत्नी के शव को कंधे पर रखकर ले गया

अपनी पत्नी के शव को अस्पताल से घर लाने के लिए जब आदिवासी व्यक्ति को एंबुलेंस नहीं मिली तो वह शव को अपने कंधे पर रखकर चलता गया। इस व्यक्ति के साथ बेटी भी पैदल चल रही थी। उड़ीसा के कालाहांडी जिले की इस घटना ने सरकार की व्यवस्था को कठघरे में खड़ा कर दिया है।

25/08/2016

बेटे की चाहत में 11 बेटियों को जन्म दे चुकी गुड्डी की अब पूरी हुई इच्छा

जोर-शोर से प्रचार प्रसार तो यही हो रहा है कि बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ या एक बेटी हजार बेटों के बराबर। भले ही कहावतों में हम ऐसी अनेक अच्छी बातें कर लें, लेकिन अभी भी कई ऐसे लोग हैं, जिनकी सोच बेटों और बेटियों में फर्क करती है।

23/11/2019

गरबा महोत्सव में झलका संस्कृति का अनूठा संगम

नवरात्रि में भक्ति और मनोरंजन से सराबोर, खुशनुमा शाम में डीजे साउण्ड की करतल ध्वनि और रंग-बिरंगी लाइट्स की रोशनियों का संगम ऐसा लग रहा था कि मानो गुजरात की गरबा संस्कृति का कीर्तिमान स्थापित किया हो।

07/10/2019

मंगल ग्रह 24 दिसंबर को मेष राशि में करेगा गोचर, प्राकृतिक आपदा की संभावना

मंगल ग्रह का 24 दिसंबर को सुबह 11 बजे राशि परिवर्तन होगा। मंगल ग्रह मीन राशि से निकलकर अपनी स्वराशि मेष राशि में प्रवेश करेंगे। मंगल ग्रह मेष राशि में करीब 60 दिन रहेंगे यानी 22 फरवरी तक मेष राशि में रहने के बाद शुक्र की वृषभ राशि में चले जाएंगे। मेष राशि में मंगल का यह गोचर ज्योतिष शास्त्र के हिसाब से काफी महत्वपूर्ण है।

21/12/2020

Video: पुष्कर मेले में 15 करोड़ का 'भीम', जिसके साथ हर कोई ले रहा सेल्फी

विश्व प्रसिद्ध पुष्कर पशु मेले का आकर्षक केन्द्र जोधपुर का भैंसा भीम है। जिसकी कीतम 15 करोड़ आंकी गई है। लेकिन इसके मालिक इसे इस कीमत में भी बेचना नही चाहते है।

05/11/2019

आपणी पाठशाला के नन्हे सिंगर अशोक के वीडियो को 11 मिलियन लोगों ने देखा

चूरू की आपणी पाठशाला अब किसी परिचय की मोहताज नहीं है। महिला थाना पुलिस के सिपाही धर्मवीर द्वारा जिला मुख्यालय पर संचालित इस पाठशाला में उन अभावग्रस्त बच्चों को पढ़ाकर समाज की मुख्यधारा से जोड़ने का कार्य किया जा रहा है, जो शहर में कचरा बीनने और भिक्षावृत्ति में संलिप्त हैं।

31/01/2020

शारीरिक दुर्बलता को पीछे छोड़ MBBS की सीढ़ियां चढ़े साजन

साजन कुमार ने अपनी शारीरिक दुर्बलता को पीछे छोड़ते हुए कड़ी मेहनत से खुद को साबित किया और मेडिकल प्रवेश परीक्षा नीट क्रक की।

25/07/2019