Dainik Navajyoti Logo
Friday 14th of May 2021
 
जोधपुर

औपचारिक साबित हो रहा सर्वे, मौत के बाद हो रही कोरोना की पुष्टि

Sunday, May 17, 2020 02:20 AM
38.88 प्रतिशत ऐसी मौत जिनमें हुई पुष्टि

जोधपुर । कोरोना संक्रमण ने जोधपुर में रविवार तक एक हजार का आंकड़ा पार कर लिया है। जोधपुर में अब तक कोरोना के संक्रमण से 18 लोगों की जान जा चुकी हैं। जिसमें 7 केस ऐसे है उनकी मौत के बाद की कोविड जांच रिपोर्ट में कोरोना की पुष्टि हुई हैं। ऐसी मौत का आंकड़ा कुल 38.88 प्रतिशत हो गया है। इस तरह मौत के बाद पॉजिटिव डिक्लेयर करने पर लोगों के जेहन में यह प्रश्न खड़े हो रहे, कि सीएमएचओ विभाग के टार्गेटेड सैंपलिंग जिसमें वृद्ध, गर्भवती, आईएलआई लक्षण वाले, को-मोरबिड कंडीशन को सर्वे कार्य के दौरान ऐसे लोगों को चिन्हित क्यों नहीं किया गया।


वहीं सीएमएचओ विभाग इस बात का दावा कर रहे है, कि उनकी ओर से ज्यादा से ज्यादा सैम्पलिंग करवाई जा रही हैं। जिसके चलते पॉजिटिव मरीजों का आंकड़ा बढ़ रहा हैं। वास्तव में अगर ऐसा है तो फिर अस्पताल पहुंचने से पहले ही ऐसे मरीजों की मौत कैसे हो रही है। वहीं दूसरी ओर जिन लोगों के मरने के बाद पॉजिटिव होने की रिपोर्ट आ रही है उससे पहले मृतक के संपर्क में आने से ना जाने कितने अन्य लोग संक्रमित हो चुके होंगे। ऐसे में न तो संक्रमण की चैन टूट रही ना ही सर्वे में मरीजों को चिन्हित किया जा रहा हैं।


केस 1
लालचंद्र उम्र 75 वर्ष निवासी सिंधी धर्मशाला प्रतापनगर जिसे 8 अप्रैल को एमडीएम अस्पताल के ट्रोमा सेंटर में सांस की तकलीफ के चलते भर्ती किया गया। जिसकी मौत हो गई, मौत के 12 घंटे बाद 9 अप्रैल को आई रिपोर्ट में मरीज के कोरोना पॉजिटिव होने की पुष्टि हुई। सेटेलाइट प्रताप नगर हॉस्पीटल से महल से 250 से 300 मीटर की दूरी पर मृतक का घर हैं। जबकि प्रताप में सर्वे हुआ ही नहीं जो हुआ तो मात्र कागजी ही था। वर्ना मृतक को समय पर अस्पताल पहुंचा कर उसकी जान बचाई जा सकती थी। चूकि मृतक वृद्ध होने के साथ को-मोरबिड था, उसे अस्पताल भी तब ले जाया गया तब पड़ौसियों ने कंट्रोल रूम पर फोन कर चिकित्सा सेवा की मदद मांगी थी।


केस 2
नई सड़क निवासी मोहम्मद हसन उम्र 72 वर्ष जिसे 1 मई को मथुरादास माथुर अस्पताल की इमरजेंसी में बुखार व सांस में तकलीफ के चलते भर्ती किया गया। पॉजिटिव मरीज को हार्ट डिजिज, हाइपरटेंशन व किडनी की बीमारी से ग्रस्ति था। जिसकी उपचार के दौरान रात को 3 बजे मौत हो गई, मौत के बाद 2 मई को सुबह आई रिपोर्ट में पॉजिटिव होने की पुष्टि हुई। सर्वे में जानकारी का कोई रिकार्ड नहीं और ना ही सीएमएचओ विभाग की सर्वे टीम की  मरीज को समय पर अस्पताल में शिफ्ट नहीं किया गया।


केस 3
मुनबीर बीबी पत्नी असगर अली 85 वर्षीय वृद्धा निवासी व्यापारियों की मस्जिद को 2 मई को सुबह 11 बजे महात्मा गांधी अस्पताल की इमरजेंसी में लेकर आए।  जहां पर डॉक्टर ने जॉच कर उन्हें मृत घोषित कर दिया। दूसरे दिन 3 मई को मौत के बाद आई जांच रिपोर्ट में कोरोना की पुष्टि हुई। वृद्धा की अस्पताल पहुंचने पहले ही मौत हो गई जो सर्वे के दौरान अति वृद्ध होते हुए भी अस्पताल में भर्ती नही करवाई गई। इसी लापरवाही के चलते मुनबीर बीबी से उसका पोता व दुसरे सदस्य भी संक्रमित हो गए।


केस 4
3 मई महात्मा गांधी अस्पताल में उपचार के दौरान मोहम्मद अय्यूब पुत्र अब्दुल गफार उम्र 52 निवासी पन्ना निवास घंटाघर की मौत हो गई जिसकी सोमवार को आई जांच रिपोर्ट में कोरोना की पुष्टि हुई।


केस 5
3 मई साबिर हसन पुत्र गुलाम अहमद उम्र 67 निवासी दर्पण सिनेमा को एमजीएच में उपचार के लिए लाया गया। जहां उपचार के दौरान उनकी मौत हो गई। सोमवार को आई जांच रिपोर्ट में कोरोना की पुष्टि हुई।


केस 6
7 मई को 16 वर्षीय बालक की मौत के बाद हुई कोरोना की पुष्टि , सर्वे के दौरान मृतक चिन्हित नहीं हुआ था।


केस 7
चांदपोल निवासी हरिओम परिहार पुत्र कानाराम उम्र 78 वर्ष को 16 मई को तबीयत खराब होने पर मथुरादास माथुर अस्पताल में लाया गया। जहां पर जांच करने के बाद उन्हें मृत घोषित कर दिया। दूसरे दिन 17 मई को आई जांच रिपोर्ट में कोरोना की पुष्टि हुई।

यह भी पढ़ें:

क्या हुआ था उस युवती के साथ ...? ब्रह्माकुमारी संस्थान के एक मकान में मिला था शव

23 मार्च को लोक डाउन के दौरान तलेटी के एक मकान से बदबू आने की खबर पर सदर थाना पुलिस मौके पर पहुंची तो मकान के अंदर एक युवती का शव नग्न अवस्था मे मिला। जिस कमरे में शव मिला वह कमरा ब्रह्माकुमारी संस्थान का था।

09/09/2020

रावजी की गैर में बिखरे होली के रंग, जोश और उल्लास दिखा चरम पर

अपनी परम्पराओं एवं सामाजिक एकता को संरक्षित करते हुए हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी परंपरागत रूप से चले आ रहे होली के दूसरे दिन रामा-श्यामा को मंडोर क्षेत्र के माली समाज की विशाल रावजी की गैरों का भव्य व विशाल मेला कोविड-19 की गाईड लाईन को ध्यान में रखकर निकाला गया।

30/03/2021

सड़क दुर्घटना में घायल दो की मौत

शहर एवं इसके आसपास हुई सड़क दुर्घटना में घायल हुए दो लोगों की बुधवार सुबह मथुरादास माथुर अस्पताल में उपचार के बीच मौत हो गई। पुलिस ने दोपहर में कार्रवाई कर शव परिजन को सौंपे।

23/10/2019

चोरों ने नहीं छोड़ा थानेदार का भी मकान, सेंध लगा पार कीनकदी व जेवरात

चोरों के लिए क्या साहूकार क्या थानेदार, चोरी की घटना के तहत इस बात को साबित कर दिखाया। शहर के निकटवर्ती मंडोर स्थित वीरेंद्र नगर में रहने वाले एक सब इंस्पेक्टर के मकान में चोरों ने सेंध लगा हजारों के गहनें व नकदी पर हाथ साफ कर दिया।

20/12/2020

प्रशासन के 3 कंट्रोल रूम, फोन करे होगा समाधान

मिशन जीवन रक्षा के तहत कलक्टर इन्इद्रजीत सिंह के निर्देशन में कोविड-19 के चिकित्सकीय व परिचर्य संबंधी संदेहों के निवारण व संक्रमित व्यक्तियों के काउंसलिंग, संक्रमण संबंधी जानकारी तथा आपात स्थिति में तत्काल सहायता प्राप्त करने तथा कोरोना संबंधित महत्वपूर्ण सूचना, समस्या, शिकायत व फीडबैक से अवगत करवाने के लिए कंट्रोल रूम सुचारू रूप से कार्यरत है।

27/07/2020

विवि में कोर्ट के आदेश से आठ शिक्षकों को मिली प्रोफेसर पद पर पदोन्नति की सौगात

व्यास विवि में कोर्ट के आदेश की पालना में करीब पांच घंटे की सिरपच्ची व मशक्कत के बाद शुक्रवार को सिंडीकेट की बैठक में आठ शिक्षकों को प्रोफेसर पद पर सीएएस पदोन्नति की सौगात मिल गई।

27/09/2019

इनकम टैक्स की नामी प्लाईवुड व्यवसायी और कांट्रेक्टर के यहां कार्रवाई पूरी

इनकम टैक्स ने शहर के नामी प्लाइवुड व्यवसायी के तीन ठिकानों और कांट्रेक्टर के एक ठिकानें पर बुधवार शाम सर्वे कार्रवाई पूरी कर ली है। दोनों के यहां से कई अनियमिताएं पकड़ी गई है।

19/02/2020