Dainik Navajyoti Logo
Tuesday 9th of March 2021
 
जोधपुर

जोधपुर में आत्मनिर्भर योजना शुरू : 92 हजार परिवार के 3.49 लाख लोगों को निशुल्क मिलेंगे 3890 एमटी गेहूं व 213 एमटी चना

Friday, June 12, 2020 00:45 AM
रसद विभाग को गेहूं व चना मिल गए है और राशन डीलरों को सप्लाई करनी शुरू

जोधपुर । आत्मनिर्भर योजना के तहत जोधपुर जिले में 92 हजार से अधिक परिवार के 3 लाख 49 हजार 373 लोग लाभांवित होंगे। इन सबको 3890.27 मैट्रिक टन गेहूं व 213.10 मैट्रिक टन चने की दाल वितरित की जाएगी। रसद विभाग को गेहूं व चना मिल गए है और राशन डीलरों को सप्लाई करनी शुरू कर दी गई है। जोधपुर शहर में 65 वार्ड में एक-एक डीलर को गेहूं व चना देन की जिम्मेदारी दी गई हैं। जबकि ग्रामीण क्षेत्रों में ब्लॉक वाइज एक-एक डीलर राशन देगा। कई डीलरों को रसद सामग्री मिल चुकी हैं और वे शनिवार से माल देना शुरू कर देंगे। 


नवज्योति तत्काल : एक वार्ड में एक ही दुकान, कबीर नगर के लोगों को 2 किमी दूर प्रताप नगर से लाना पड़ेगा गेहूं-चना
इस योजना के तहत शहर के 65 वार्ड में एक-एक डीलर को गेहूं व चना देने के लिए चिह्नित किया है। इस कारण से ज्यादातर लोगों को दूसरे वार्ड में जाकर गेहूं व चने की दाल लानी पड़ेगी। उदाहरण के तौर पर कबीर नगर के लोगों के लिए प्रताप नगर के डीलर को जिम्मेदारी सौंपी गई है। ऐसे में कबीर नगर के लोगों को दो किमी दूर जाकर गेहूं व चना दाल लानी पड़ेगी। ऐसे कई वार्ड हैं, जिनकी व्यवस्था दूसरे वार्ड में हुई। 


एक दुकान होने से भीड़ पड़ेगी, 2 होमगार्ड या 2 जवान मांगे
एक वार्ड में एक दुकान देने से गेहूं व चना लेने लेगों की भीड़ उमड़ने की संभाना है। अभी राशन की दुकानों पर वैसे ही भीड़ आ रही है। ऐसे में आत्मनिर्भर योजना में भीड़ आने से सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ सकती है। इसको देखते हुए उचित मूल्य की दुकानों पर 2 होमगार्ड या 2 जवान डीएसओ की ओर से लगाने की मांग भी की गई है। ताकि वितरण के दौरान सोशल डिस्ंटेसिंग की पालना कराई जा सके। 


आत्मनिर्भर योजना...
जोधपुर में डीलरों के यहां चना व गेहूं पहुंचा, कई डीलरों ने योजना के तहत गेहूं-चना देना शुरू किया, ज्यादातर आज से देंगे 


फैक्ट फाइल
शहर : 65 वार्ड में एक-एक डीलर।
ग्रामीण : 20 तहसील में एक-एक डीलर।
कुल परिवार: 92403
सदस्य : 3.49 लाख
शहर : 23088 परिवार के 88774 लोग।
ग्रामीण में : 2.61 लाख लोग और 69 हजार परिवार।
गेंहू : 3890.27 एमटी
चना : 213 एमटी


योजना क्या है
राज्य सरकार ने आत्मनिर्भर योजना के तहत प्रवासी और विशेष श्रेणी के लोगों को जो खाद्य सुरक्षा योजना में आते हैं उनके लिए दो माह तक निशुल्क गेहूं व चना देने जा रही है। इसके तहत 70 फीसदी केंद्र व 30 फीसदी रसद सामग्री राज्य सरकार दे रही है।


इन 4 लोगों को मिल गया योजना का लाभ
1. वीर दुगार्दास कॉलोनी निवासी मो.इमरान अबासी ने शुक्रवार को योजना का लाभ लेते हुए 40 किलो गेहूं 2 किलो चना लिया ।
2. लंगा बस्ती, मसूरिया की सायरा ने 70 किलो गेहूं, 2 किलो चना लिया।
3. बलदेव नगर के रहने वाले प्रतापसिंह ने अपने डीलर भरत जांगिड़ से 40 किलो गेहूं व 2 किलो चना ले गए।
4. शिव बस्ती की निवासी अलका देवी 50 किलो गेहूं व 2 किलो चना ले गई।


डीलर की जुबानी योजना की तैयारी की कहानी
1. आज से देंगे गेहूं और चना : पटेल
खेमें का कुआं में राशन डीलर जयरूपराम पटेल के यहां आत्मनिर्भर योजना के तहत 155 क्विंटल 63 किलो गेहूं व 10 क्विंटल 30 किलो चने मिल गई है। पटेल ने बताया, कि उनके यहां 448 राशन कार्ड हैं। वे शनिवार से लोगों को गेहूं व चना देंगे।


2.थर्मल मशीन से जांच के बाद ही सामग्री देंगे : बालोटिया
भदवासिया में मैसर्स पारसमल बालोटिया को 600 क्विंटल गेहूं व 30 क्विंटल चना करीब 1200 परविार को वितरित करना हैं। इनके पास नागौरी गेट और महामंदिर की दुकानों का भी अतिरिक्त प्रभार है। बालोटिया ने बताया, कि अभी 100 क्विंटल गेहूं मिल चुका है। शनिवार से देना शुरू करेंगे। इसके लिए उन्होंने अपने स्तर पर थर्मल मशीन लगाई है। तापमान चैक करेंगे। इनकी पोतियां इनके काम में सहयोग कर रही है और लोगों की जांच करने में हाथ बंटा रही है।


3. गेहूं-चना देना शुरू किया : भरत
21 नंबर वार्ड के लिए मैसर्स भरत कुमार जांगिड़ को जिम्मेदारी दी गई है। नोन खाद्य सुरक्षा में चयनित नहीं हैं ऐसे  900 परिवारों ने इनके यहां रजिस्ट्रेशन कराया है। गेहूं व चना देना शुरू कर दिया है। भरत ने बताया, कि उनके पास वार्ड 20 की अतिरिक्त जिम्मेदारी डीएसओ ने दी हैं। यहां भी इतने ही परिवार को गेहूं-चना दिया जाएगा। 


जिले में कहां कितने लोग लाभांवित होंगे
ब्लॉक                          परिवार    सदस्य     गेहूं         चना
बिलाड़ा रूरल                6699      23577    259.3     15.4
बालेसर                       2982      10914    120.05    6.86
बाप                           4616       17606    193.6      10.6
बापिणि                      5968       23688    260.5      13.7
भोपालगढ़                  3393        12672   139.3        7.8
देचु                           2760        10451    114.9       6.3
लोहावट                     2994        11824     130.06    6.8
ओसियां                    3522         13048    143.5       8.1
पीपाड़ रूरल               5935         21764    239.03    13.6
फलोदी रूरल              3396         12505    137.5       7.8
सेखाला                    4029          14555    160.1       9.2
शेरगढ़                     2221           7908       86.9       5.1
तिंवरी                     1809            7179       78.9      4.1
बावड़ी                      2895          10688     117.5     6.6
मंडोर                       3463          13333     146.6     7.3
लूणी                        6610           26871    330.2    15.7
बिलाड़ा अरबन          1752           6594       72.5     4.03
जोधपुर                   23088          88774    989.04    53.1
पीपाड़ अरबन           2241           7518       82.9        5.1
फलोदी अरबन         2030            7904       86.9        4.6
कुल                       92403          349373   3890.2    213.1  


डीएसओ का मत
जोधपुर में 92 हजार से ज्यादा परिवार के 3.49 लाख से ज्यादा लोगों को आत्मनिर्भर योजना में लाभ दिया जाएगा। इसके लिए 3890.27 एमटी गेहूं और 213.10 एमटी चना मिल गया और डीलर को देना शुरू कर दिया है। सोशल डिस्ंटेसिंग की पालना कराई जाएगी। - राधेश्याम डेलू,डीएसओ

यह भी पढ़ें:

राजस्थान में 144 न्यायिक अधिकारियों के तबादले

राजस्थान हाईकोर्ट प्रशासन ने जिला जज स्तर के 33, सीनियर सीजे कम सीजेएम स्तर के 36 व सीजे कम जेएम स्तर के 75 न्यायिक अधिकारियों के तबादले किए हैं।

10/05/2019

किसान व व्यापारी पर नहीं पड़ेगा कृषक कल्याण कर का भार

कृषि उपज मंडी में उपज की खरीद बिक्री पर लगाई गई कृषक कल्याण फीस का भार किसान और व्यापारी पर नहीं पड़ेगा। इस फीस से मिलने वाली राशि का पूरा उपयोग मात्र किसान कल्याण के लिए ही किया जाएगा। यह फीस किसानों से नहीं वसूली जाएगी।

10/05/2020

प्रदेश का तीसरा पर्यटक थाना जल्द बनेगा जोधपुर में भी

प्रदेश की सांस्कृतिक और न्यायिक राजधानी के साथ-साथ पर्यटन नगरी के रूप में भी जोधपुर विश्व में अपनी अलग ही पहचान रखता है ऐसे में यहां देश विदेश से पर्यटक जोधपुर की संस्कृति से रूबरू होने और यहां के हैरिटेज लुक को देखने के लिए जरूर आते हैं।

16/12/2019

बिना निमंत्रण नहीं होगा प्रवेश गणतंत्र दिवस की तैयारियां

दस माह तक कोरोना काल के दौरान कई त्यौहार व पर्व नहीं मनाए जा सके। अब जब कोरोना अंडर कंट्रोल तो है फिर भी एहतियात बरतते हुए गणतंत्र दिवस के आयोजन सीमित कर दिए हैं।

21/01/2021

फांसी लगा महिला ने की आत्महत्या

शास्त्रीनगर स्थित सुभाष नगर द्वितीय में रहने वाली एक महिला ने अपने घर में रविवार को फं दा लगा जान दे दी। सोमवार सुबह मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम करवाने के बाद शव परिजन को सौंपा।

14/10/2019

महापौर व आयुक्त ने जलदाय विभाग अधिकारियों के साथ बैठक कर जलापूर्ति सुधारने के दिए निर्देश

शहर की पेयजल सप्लाई व्यवस्थाओं को लेकर आमजन की शिकायतों के मद्देनजर महापौर घनश्याम ओझा ओर निगम आयुक्त सुरेशकुमार ओला ने पार्षदों के साथ जलदाय विभाग के अधिकारियों की बैठक लेकर अधिकारियों को पेयजल व्यवस्थाओं को सुधारने के निर्देश दिए।

20/06/2019

कांटे की टक्कर में देवी सिंह अध्यक्ष और आईपालसिंह उपाध्यक्ष निर्वाचित

व्यास विश्वविद्यालय के सायंकालीन अध्ययन संस्थान में अध्यक्ष और उपाध्यक्ष पद पर कांटे की टक्कर रही। जिसमें अध्यक्ष पद पर देवी सिंह 31 वोटों से जीते। वहीं उपाध्यक्ष पद पर तो महज 4 वोटों के अंतर से आईपाल सिंह निर्वाचित हुए। उपाध्यक्ष पद पर पहले मतगणना के बाद में जीत का अंतर केवल 4 मत होने के कारण उपाध्यक्ष पद के प्रत्याशी ने पुनर्मतगणना करने की मांग रख दी।

28/08/2019