Dainik Navajyoti Logo
Monday 1st of March 2021
 
जोधपुर

बोनस की मांग को लेकर विरोध पर उतरे रेलकर्मी

Monday, October 19, 2020 01:25 AM
एनडब्ल्यूआरईयू मंडल व कार्यशाला ब्रांच ने किया विरोध प्रदर्शन

जोधपुर । रेलमंत्रालय द्वारा बोनस की घोषणा नहीं करने के विरोध में नार्थ वेस्टर्न रेलवे एम्पलाइज यूनियन ने ऑल इंडिया रेलवे मैंस फेडरेशन के आह्वान पर सोमवार से आर पार की लडाई छेड़ दी है। यूनियन के मंडल अध्यक्ष महेन्द्र व्यास ने बताया, सन् 1974 की ऐतिहासिक रेल हड़ताल के बाद रेल कर्मचारियों को बोनस मिलना शुरू हुआ। अध्यक्ष व्यास यूनियन के आव्हान पर मनाए जा रहे बोनस अधिकार पखवाड़े के तहत रेलवे स्टेशन के बाहर गेट सभा को संबोधित कर रहे थे।इस अवसर पर व्यास ने कहा, केन्द्र सरकार अब रेलवे कर्मचारियों के साथ तानाशाही करने लगी है। जिसे रेलकर्मी बर्दाश्त नहीं करेंगे ।


व्यास ने कहा, कि रेलमंत्रालय कर्मचारियों की मांगे नहीं मानता है तो रेल का चक्का जाम करने में रेलकर्मी पिछे नहीं हटेंगे। मंडल उपाध्यक्ष कॉ. जसबीरसिंह चौधरी ने कहा, कोरोना महामारी की आड़ में सरकार मजदूरों की ताकत और मजदूर आंदोलन को कमजोर करने के लिए नित नए प्रयोग कर रही है। इस अवसर पर मंडल उपाध्यक्ष कॉ. जगदीश शर्मा ने रेल कर्मचारियों को संबोधित करते हुए कहा, सरकार रेल कर्मचारियों के लिए बोनस की शीघ्र घोषणा करे वरना रेल कर्मचारी बड़ा ओदोलन करने की तैयारी में है।  यूनियन के सहा.मं.सचिव कॉ. बजरंग सिंह राठौड़ ने कहा, सभी रेल कर्मचारी एकजूट होकर अपने अधिकारों की रक्षा के लिए संघर्ष करेंगे हमें तभी सफ लता मिल पाएगी ।


विरोध प्रदर्शन
आल इंडिया रेलवे मैंस फेडरेशन के आह्वान पर  मनाए जा रहे राष्ट्रव्यापी अभियान के तहत नार्थ वेस्टर्न रेलवे एम्पलायज यूनियन वर्कशॉप ब्रांच की ओर से भोजन अवकाश के दौरान विरोध प्रदर्शन किया। वर्कशॉप शाखा के सचिव राणापूर्णचंद्र दीपसिंह ने कहा, रेलमंत्रालय बोनस की घोषणा नहीं करती है तो रेलकर्मचारी चक्का जाम करने से पीछे नहीं हटेंगे। सिंह ने बताया, रेलवे में रेलमंत्रालय द्वारा  रेलवे में निजीकरण का प्रयास किया जा रहा है। जिसे रेलकर्मी सफल नहीं होने देंगे। इस प्रदर्शन में कार्यशाला  शाखा सचिव कामरेड राणा पूर्ण चन्द्र दीपसिंह, लाखन सिंह,  प्रदीप मांकड़, सैय्यद मोइन हुसैन, ओमपुरी, प्रेमप्रकाश बोहरा, मदन गुर्जर, कौशल, बुरहानदीन,  कमलेश थानवी,  कमल, विनोद पंवार, जितेन्द्र, प्रवीण सिंह, अशोक, राकेश बोड़ा, राजेन्द, नाथूसिंह  जोधा, रमेश गोयल,  सौभागसिंह, कमल, नाथूसिह रामा व दौलाराम  ने भाग लिया।

यह भी पढ़ें:

जोधपुर में योग का उजास

रिमझिम हलकी हलकी फुहारों के बीच शहरवासियों ने शुक्रवार को उम्मेद स्टेडियम में पांचवें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर आयोजित जिला स्तरीय राजकीय समारोह में योग कर स्वस्थ भारत मजबूत भारत का संदेश दिया।

21/06/2019

नव नियुक्त सीजे ने मुख्यपीठ में की सुनवाई

राजस्थान हाईकोर्ट के नवनियुक्त 36वें मुख्य न्यायाधीश एस रविन्द्र भट्ट सोमवार को जोधपुर हाईकोर्ट मुख्यपीठ पहुंचे

06/05/2019

जोधपुर में गुब्बारा गैंग पकड़ी, गुब्बारे पर ध्यान डायवर्ट कर काट लेते थे गले में पहने आभूषण

शहर में इन दिनों मेलों का आयोजन चरम पर है। लोक देवता बाबा रामदेव की दशमी पर धवा गांव में भी मेला भरा था। मेले में कई महिलाओं और बच्चों के गले से सोने के मादलिया उड़ा लिए गए। करीब एक दर्जन से ज्यादा मामले सामने आए थे। सोमवार रात को एक प्रकरण झंवर थाने में दर्ज हुआ।

10/09/2019

प्रति स्टूडेंट्स सेनेटाइज का बजट एक रूपया, बोर्ड परीक्षा का करिश्माई बजट

राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने एक ऐसा करिश्माई बजट जारी किया है, जो ने केवल गुरुजी के लिए चैलेंज हैं। या यूं कहें अगर गुरुजी इस करिश्माई बजट में बोर्ड के निर्देशानुसार कार्य कर देते हैं तो ये बजट देश के लिए नजीर साबित हो सकता हैं।

09/06/2020

नाबालिग को गर्भपात करवाने की मंजूरी नहीं

राजस्थान हाईकोर्ट ने सोमवार को सोलह वर्षीय नाबालिग को 26 सप्ताह का गर्भ गिराने की अनुमति देने से इनकार कर दिया है। एमडीएम अस्पताल के तीन सदस्यीय स्त्री रोग विशेषज्ञों के बोर्ड ने गर्भवती लड़की के मेडिकल परीक्षण की रिपोर्ट कोर्ट में पेश की, जिसमें गर्भपात करवाने की स्थिति में जान को ख़तरा बताया गया।

27/05/2019

फौजी ने चाकू की नोक पर नव विवाहिता के साथ दुष्कर्म किया

एक नौजवान फौजी ने अपने ही पड़ोस में रहने वाली नवविवाहिता 20 वर्ष की विवाहिता के साथ चाकू की नोक पर बलात्कार किया। थानाधिकारी पुलिस निरीक्षक मनीष देव ने बताया कि सिंधी नगर कापरड़ा गांव की नवविवाहिता ने रिपोर्ट दी कि वह उसके सगे फूफा फतु खां के इंतकाल होने से वहां गयी तथा वहां से पुन: अपने घर जा रही थी।

19/05/2020

अब मालगाड़ी में सामान की रक्षा करेंगे निजी गार्ड

रेलवे बोर्ड ने पहली बार निजी एजेंसियों के सशस्त्र सुरक्षाकर्मियों को मालगाड़ियों में लदे मालगाडी की सुरक्षा की जिम्मेदारी दी है। प्रायोगिक तौर पर पूर्वी रेलवे पर इसे लागू किया गया है। आशानुरूप परिणाम आने पर दूसरे जोनों में भी योजना लागू की जाएगी।

02/02/2020