Dainik Navajyoti Logo
Wednesday 4th of August 2021
 
जोधपुर

फलौदी जेल से फरार कैदियों का कोई सुराग नहीं, एडीजी अग्रवाल को दिलाया भरोसा, तीन दिन में कर लेंगे जांच पूरी

Wednesday, April 07, 2021 02:35 AM
48 घंटे बाद भी पुलिस के हाथ खाली, जिस स्कॉपिर्यो में भागे सीसी टीवी में वो भी पुलिस को कहां गई नहीं दिख रही, पुलिस की टीमें कई स्थानों पर दे रही है दबिश

फलोदी । एसडीएम कार्यालय परिसर में स्थित उप कारागृह फलोदी से सोमवार शाम करीब 8.30 बजे भोजन के समय 16 विचाराधीन कैदियों द्वारा ड्यूटी पर तैनात सुरक्षा कर्मियों से मारपीट कर जेल से फरार होने के 48 घंटे बाद भी पुलिस के हाथ खाली है। एक भी फरार कैदी पुलिस की पकड़ में अभी तक नही आया है। उल्लेखनीय है कि सोमवार शाम को भोजन के समय जेल में तैनात महिला सुरक्षाकर्मी पर सब्जी फैंक कर 16 कैदी मुख्य दरवाजे से फरार हो गये थे। पुलिस ने फलोदी शहर तथा सभी थाना क्षेत्रों में कड़ी नाकेबंदी करवाई हुई है, लेकिन फरार कैदी हाथ नही आये।


बुधवार को लगातार दूसरे दिन फलोदी डिप्टी एसपी पारस सोनी के नेतृत्व में पुलिस की आठ टीमें आरोपियों की गिरफ्तारी के लिये विभिन्न स्थानों पर छापेमारी करती रही लेकिन 48 घंटे बाद भी फरार कैदी पुलिस के हाथ नहीं लगे हैं। बुधवार दोपहर को राज्य के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक एवं जोधपुर रेंज प्रभारी संजय अग्रवाल एवं पुलिस अधीक्षक जोधपुर ग्रामीण अनिल कयाल फलोदी पहुंचे तथा स्थानीय पुलिस अधिकारियों की बैठक लेकर फरार कैदियों को पकड़ने के संबंध में आवश्यक दिशा-निर्देश दिये। इस दौरान एडीजी अग्रवाल एवं एसपी कयाल ने जेल का भी निरीक्षण किया।


जेल डीआईजी सुरेंद्रसिंह शेखावत ने बताया कि वे इस मामले की जांच अगले तीन दिन में पूरी कर लेंगे। उल्लेखनीय है कि फलोदी उप कारागृह में डीजीपी, कारागार, राजीव दासौत ने निर्देशानुसार 2 अप्रैल को चलाये गये ऑपरेशन फ्लश आउट के तहत ली गई तलाशी में 11 मोबाइल फोन सहित अन्य सामग्री बरामद की थी जिसके बाद जेल प्रशासन ने उप कारपाल सत्येंद्र कुमार को निलंबित कर दिया था। इसके बाद सोमवार शाम को कैदी फ रार होने की घटना घटित हो गई जिसके चलते फलोदी जेल लगातार सुर्खियों में बनी हुई है। वही मंगलवार को जेल प्रशासन ने फलोदी जेल से 17 कैदियों को अन्य जेलो में शिफ्ट कर दिया है।


क्या रोका जा सकता था इस घटना को
विश्वस्त सूत्रों से अनुसार फलोदी जेल में पिछले दिनों मोबाइल का जखीरा मिलने के बाद जेल में क्षमता से ज्यादा रखे कैदियों को अन्य स्थानों पर भेजने तथा मोबाइल मिलने के मामले में जेल कार्मिकों की संदिग्ध भूमिका को लेकर उच्चाधिकारियों को रिपोर्ट भेजी गई थी लेकिन जेल उच्चाधिकारियों ने उस पर ध्यान नहीं दिया। जिसके चलते कैदी फरार होने की सनसनीखेज घटना घटित हुई है।

परफेक्ट जीवनसंगी की तलाश? राजस्थानी मैट्रिमोनी पर निःशुल्क  रजिस्ट्रेशन करे!

यह भी पढ़ें:

जिला प्रशासन का संवाद कार्यक्रम, अब होगी सीधी बात, आमजन करेगा सवाल विभागीय अधिकारी देंगे जवाब

जिला कलक्टर इन्द्रजीत सिंह ने राज्य सरकार के गुड गवर्नेन्स की परिकल्पना को साकार करने की दिशा में आमजन की समस्याओं का त्वरित, सुगम व पारदर्शी तरीके से निस्तारण के लिए नवाचार के रूप में सेवा अभियान के तहत संवाद गतिविधियों का आयोजन किया जा रहा है।

01/03/2021

अरोड़ा सर्किल से पीली टंकी तक थ्री लेन बनाने के निर्देश

राजस्थान हाईकोर्ट में जस्टिस संगीत लोढा व जस्टिस विनीत माथुर की खंडपीठ में मंगलवार को स्व. महेन्द्र लोढा की ओर से दायर जनहित याचिकाओं पर एक दशक पूर्व हाईकोर्ट की ओर से जारी निर्देशों की पालना नहीं किए जाने पर उनकी ओर से दायर अवमानना याचिका जो कि स्व. महेन्द्र लोढा के पुत्र रवि लोढा बनाम सीएस राजन के टाइटल से लंबित हैं, उसकी सुनवाई हुई।

23/07/2019

156 साइट्स पर 8237 लाभार्थियों का वैक्सीनेशन

कोरोना संक्रमण के बचाव हेतु स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से समुदाय स्तर पर कोविड-19 अभियान संचालित किया जा रहा है।

06/06/2021

भ्रष्टाचार का आरोपी, विभाग पर झूठे केस दर्ज कराए और हाईकोर्ट के आदेश की अवहेलना भी की

राजस्थान आवासन मंडल के अधिकारी व कार्मिक अपने एक चहेते अफसर को बचाने के लिए हाईकोर्ट के आदेशों को दरकिनार कर रहे हैं। मामला, परियोजना अभियंता (वरिष्ठ) धर्मेन्द्र माथुर से जुड़ा है। जो कि वर्तमान में राजस्थान आवासन मंडल खंड द्वितीय जोधपुर में पदस्थापित है।

01/03/2020

18 वर्ष से उपर आयु वालों को नहीं मिल रही वैक्सीन, साइट पर भी जानकारी उपलब्ध नहीं

राज्य सरकार की ओर से 18 वर्ष से ज्यादा उम्र वालों के लिए वैक्सीनेशन 1 मई से शुरू तो कर दिया पर सही जानकारी के अभाव में युवा अपना स्लॉट बुक नहीं करवा पा रहें है। इसके अलावा पिछले दो दिनों से 18 वर्ष से ज्यादा आयु वालों के लिए स्लॉट ही ओपन नहीं हो रहें है।

08/05/2021

मजदूर से कुकर्म करने के बाद में हत्या का आरोपी साथी श्रमिक गिरफ्तार

डांगियावास क्षेत्र में रहने वाले दो श्रमिक ने पहले साथ बैठकर शराब पार्टी की। इसके बाद विवाद में साथी श्रमिक ने मारपीट के बाद कुकर्म करने के बाद हत्या कर दी।

25/05/2021

अब सिर्फ उड़ता पंजाब ही नहीं, राजस्थान भी, ड्रग्स से 153 मौतों से हमारा राज्य देशभर में अव्वल

राजधानी में 3 करोड़ से ज्यादा तो जोधपुर में एक करोड़ से ज्यादा की खेप पकड़े जाने के बाद दैनिक नवज्योति स्पेशल रिपोर्टिंग टीम ने इस कारोबार की पड़ताल की तो चौंकाने वाले तथ्य सामने आए। दरअसल, नशे के मामले में पंजाब-हरियाणा के नक्शे कदम पर चल पड़ा है राजस्थान। ये दोनों राज्य तो यूं ही बदनाम है।

04/02/2020