Dainik Navajyoti Logo
Wednesday 12th of May 2021
 
जोधपुर

कलेक्टर ने उम्मेद अस्पताल में शिशु वार्ड और आईसीयू की आकस्मिक व्यवस्थाएं देखी

Sunday, January 05, 2020 01:25 AM
उम्मेद अस्पताल में शिशु वार्ड और आईसीयू की आकस्मिक व्यवस्थाएं देखते जिला कलक्टर प्रकाश राजपुरोहित

जोधपुर। कलेक्टर प्रकाश राजपुरोहित रविवार को उम्मेद अस्पताल की आकस्मिक व्यवस्थांए देखने पहुंचे। उन्होंने शिशु वार्ड, लेबर रूम, नियोनेटल आईसीयू, पिडिएट्रिक आईसीयू , जननी सुरक्षा वार्ड की व्यवस्थाएं देखीं। कलक्टर अस्पताल के वार्ड में भर्ती बच्चों व महिलाओं के अलावा उनके परिजनों से मिलकर जानकारी ली। उन्होंने अधीक्षक डॉ. रंजना देसाई को व्यवस्थाओं को लेकर आवश्यक दिशा निर्देश दिए।

इसके साथ ही पिडिएट्रिक आईसीयू में 25 बेड्स के साथ रिनोवेशन के लिए  पीडब्ल्यूडी विभाग के साथ प्रस्ताव तैयार कराने के निर्देश दिए। कलक्टर दोपहर करीब एक बजे उम्मेद शिशु एवं महिला अस्पताल निरीक्षण करने पहुंचे। उन्होंने पूरे अस्पताल में घूम कर व्यवस्थाएं देखी। कलक्टर ने अस्पताल अधीक्षक व अधिकारियों को आईसीयू व लेबर रूम में एंटी माइक्रोबियल पेंट करवाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा, जिस किसी चिकित्सकीय उपकरणों की ओर भी आवश्यकता हो,उनकी सूची बनाकर भेजने के निर्देश दिए ।


यहां देखी व्यवस्थाएं
कलक्टर ने उम्मेद शिशु एवं महिला अस्पताल की नियोनेटल आईसीयू, पीडीयाट्रीक आईसीयू के साथ पीडियाट्रिक वार्ड, जननी सुरक्षा वार्ड का निरीक्षण किया। उन्होंने ओपीडी व इंडोर मरीजों की संख्या, आॅपरेशन की संख्या के संबंध में अस्पताल अधीक्षक से जानकारी ली। कलक्टर अस्पताल में भर्ती बच्चों, महिलाओं, व उनके परिजनों से मिले और अस्पताल की व्यवस्थाओं की जानकारी ली। कलक्टर के सामने मरीजों के  परिजनों ने अस्पताल की व्यवस्थाओं पर संतोष व्यक्त किया। निरीक्षण के दौरान डॉ. मोहन मकवाना, आरसीएचओ डॉ. कौशल दवे साथ थे।


क्या कहते हैं कलक्टर
कलक्टर ने मौके पर मीडिया को बताया, कि उम्मेद शिशु और महिला अस्पताल का आकस्मिक निरीक्षण कर व्यवस्थाएं देखी है। जो कमियां है या सुविधाओं की जरूरत है, उनको इंप्रुव किया जाएगा। यहां काफी अच्छी सुविधाएं देखने को मिली है। इसके बावजूद जो कमियां है, नोट कर अधिकारियों को प्रस्ताव बना कर सरकार को भेजने के निर्देश दिए हैं। एक सवाल के जवाब में कहा, पिछले दो तीन साल में काफी सुधार हुआ हैं। आईसीयू की व्यवस्थाएं सही है। निरीक्षण में हर स्तर पर व्यवस्थाओं को जांचा गया है। डेथ रेट को लेकर भी निर्देश दिए हैं। डिलेवरी को लेकर भी बात की है और अगर कोई चूक हुई है तो उसके लिए जांच में दोषी पाए जाने वाले के खिलाफ एक्शन होगा।


शिशु मृत्युदर की मासिक रिपोर्ट साझा करने के दिए निर्देश
कलक्टर ने  मेडिकल कॉलेज के प्रिंसीपल से तीनों अस्पतालों की शिशु मृत्यु दर की रिपोर्ट प्रति माह चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग से साझा करने को कहा। कलक्टर ने अस्पताल में स्टाफ की आवश्यकता बताए जाने पर अस्पताल अधीक्षक को निर्देश दिए की वे यूटीबी बेसिस पर स्टाफ की रिक्तियों की पूर्ति करने के लिए प्रस्ताव बनाएं।

यह भी पढ़ें:

वकीलों को आर्थिक सहायता देने में शर्तें लगाने के मामले में नोटिस जारी

राजस्थान हाईकोर्ट में जस्टिस संदीप मेहता व जस्टिस देवेन्द्र कच्छवाहा की खंडपीठ में शनिवार को कोविड19 महामारी के दौरान जरूरत मंद अधिवक्ताओं को वकीलों के कल्याण कोष के माध्यम से आर्थिक सहायता प्रदान करने के मामले में ट्रस्ट की ओर से शर्तें लागू करने को चुनौती देने वाली जनहित याचिका की सुनवाई हुई।

30/05/2020

कुलपति गुलाब सिंह चौहान ने सौंपा इस्तीफा, राज्यपाल ने देर शाम ही कर लिया स्वीकार

व्यास विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो.गुलाब सिंह चौहान ने कथित तौर पर सरकार के साथ पटरी नहीं बैठने के बाद बुधवार को राज्यपाल को इस्तीफा दे दिया। वहीं कुलपति के इस्तीफा भेजने के साथ ही राज्यपाल कल्याणसिंह ने देर शाम को ही इस्तीफा स्वीकार दिया।

31/07/2019

कोहरे व सर्दी से थमा जन जीवन

प्रदेश के अधिकांश हिस्सों में शनिवार को हुई बारिश से मारवाड़ में मौसम ने बेजा पलटी मारी है। अब तक शीत लहर से जूंझ रहे मारवासियों को रविवार को घने कोहरे का सामना करना पड़ा। दोपहर तक घना कोहरा छाए रहने और सर्दी से मानो जीवन ठहर सा गया है ।

03/01/2021

जोधपुर में गैंगवार, फिल्मी स्टाइल में कार रोक नौ राउंड फायर

शहर के निकटवर्ती डालीबाई मंदिर चौराहा के समीप गुरूवार की दोपहर में एक हिस्ट्रीशीटर ने कार में बैठे दूसरे हिस्ट्रीशीटर पर फायरिंग की। इससे वह घायल हो गया। कमर के बायीं तरफ नीचे पसली में गोली लगने से वह लहूलुहान हो गया।

11/03/2021

आखिर मां का दिल नहीं पसीजा...हाईकोर्ट में तीन संतान को साथ रखने से इंकार कर प्रेमी संग गई युवती

एक युवती ने राजस्थान उच्च न्यायालय के समक्ष साफ तौर से अपनी ही तीन संतान को साथ रखने के लिए इंकार कर दिया। युवती महिला ने पति एवं तीन अबोध संतान को छोड़कर प्रेमी के साथ ही जाने की इच्छा जताने पर उच्च न्यायालय ने बंदी प्रत्यक्षीकरण याचिका को निस्तारित कर दिया।

10/03/2021

मालगाड़ी से सामान चढ़ाने-उतारने में अनुचित देरी करने वाले ग्राहकों से रेलवे वसूलेगा जुर्माना

रेलवे ने अपने उन ग्राहकों पर जुर्माना लगाने का फैसला किया हैं जो अपना सामान मालगाड़ियों से उतारने या उनमें चढ़ाने में अनुचित देरी कर रहे हैं। रेलवे ने यह फैसला इसलिए लिया, क्योंकि लॉकडाउन के दौरान उसे देश भर में अत्यावश्यक सामान पहुंचाने के लिए अधिक से अधिक रेल डिब्बों की जरूरत है।

27/04/2020

विभाग ने छापे में पकड़ी 21 लाख की कर चोरी

स्टेट जीएसटी डिपार्टमेंट की एंटी इवेजन टीम ने मंडोर कृषि मंडी के तीन चीनी कारोबारियों के अलग-अलग ठिकानों पर छापे मारकर एक कारोबारी के यहां से 21 लाख रूपए की कर चोरी पकड़ी तो दो अन्य कारोबारियों को 7 दिन के नोटिस दिए हैं ।

05/11/2020