Dainik Navajyoti Logo
Tuesday 11th of May 2021
 
जैसलमेर

बेहतर ढंग से करें पशु शिविरों का संचालन

Wednesday, June 17, 2020 23:45 PM
जिला कलक्टर नमित मेहता

जैसलमेर । जिला कलक्टर नमित मेहता ने जिले में पशु संरक्षण एवं संवर्धन के लिए संचालित किए जा रहे पशु शिविरों के सफल संचालन के लिए पशु शिविर संचालकों सहित सभी संबंधितों को आवश्यक दिशा-निर्देश जारी कर इनकी अक्षरश: पालना सुनिश्चित करने को कहा है। जिला कलक्टर (सहायता) नमित मेहता ने इस सम्बन्ध में निर्देशित किया है कि पशु शिविर में पशुओं को रखे जाने की समुचित व्यवस्था यथा बाड़ा, छाया, पानी, चारा संग्रहण स्थल इत्यादि आवश्यक रूप से हों, इसका पूरा-पूरा ध्यान रखा जाए ।


इसके साथ ही उन्होंने  पशु शिविर में दाखिल किये गये पशुओं का अनिवार्य रूप से विवरण रजिस्टर में इन्द्राज करने के निर्देश दिए । पशु शिविरों के संचालन से संबंधित आदेश में कहा गया है कि एसडीआरएफ नॉर्म्स अनुसार पशु शिविरों में रखे जाने वाले बड़े पशुओं के लिए 70 रुपये प्रति बड़े पशु प्रतिदिन तथा 35 रुपए प्रति छोटे पशु प्रतिदिन की दर से चारा तथा पशु आहार देने के लिए सहायता राशि उपलब्ध करवाई जा सकेगी। पशु शिविरों में संधारित किये जा रहे पशुधन के लिए को पशु शिविर संचालित करने वाली संस्था को एक किलो पशु आहार बड़े पशु को तथा आधा किलो पशु आहार छोटे पशु को प्रति पशु प्रतिदिन के हिसाब से उपलब्ध करवाया जायेगा।


यदि निर्धारित मात्रा में पशुओं को पशु आहार उपलब्ध नहीं करवाया जाता है, तो आरसीडीएफ/राजफैड की प्रचलित बाजार दर से पशु आहार की राशि बड़े पशु तथा छोटे पशु के दर से अनुदान बिलों से कटौती की जाकर अवशेष राशि राहत सहायता स्वरूप स्वीकृत किये जाने के लिए निर्देशित किया गया हैं। आदेश के अनुसार पशु आहार राज्य सरकारी डेयरी फेडरेशन/राजफैड से क्रय किये जाने की स्थिति में ही अनुदान राशि नियमानुसार देय होगी तथा पशु शिविरों के माध्यम से संधारित किये जा रहे पशुओं का शिविर स्थल पर जाकर तहसीलदार उपखण्ड अधिकारी की ओर से समय-समय पर आवश्यक निरीक्षण किया जा सकेगा ।


यह भी सुनिश्चित किया जाएगा कि एक पशु शिविर में न्यूनतम पशु सीमा 100 हो तथा 200 से अधिक होने पर जिला कलक्टर से पूर्व स्वीकृति प्राप्त कर कार्यवाही की जाए। इसी अनुसार पशु शिविर चलाने वाली संचालक समिति में जिला कलक्टर की ओर से मनोनीत प्रतिनिधि को सदस्य रखा जायेगा एवं स्थानीय संचालक समिति की प्रत्येक बैठक की सूचना उस प्रतिनिधि को अनिवार्य रूप से प्रदान की जाएगी ।

यह भी पढ़ें:

कलक्टर मोदी सहित अन्य प्रशासनिक अधिकारियों ने लगवाया कोरोना रोधी टीका

जैसलमेर जिले में कोविड-19 वैक्सीन टीकाकरण के द्वितीय चरण के तहत गुरुवार को जैसलमेर जिला मुख्यालय स्थित जिला अस्पताल श्रीजवाहिर चिकित्सालय में राजस्व एवं उप निवेशन सहित विभिन्न विभागों के अधिकारियों का कोविड वैक्सीन टीकाकरण हुआ।

04/02/2021

गांधीजी की विचारधारा आज भी प्रासंगिक : सालेह मोहम्मद

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ने बिना किसी हथियार के अहिंसा के रास्ते इस देश को आजाद कराया। उन्होंने एक विचारधारा के तहत पूरे देश के लोगों को एकत्र किया।

30/01/2021

गांधी जयंती के सभी कार्यक्रम गरिमामय ढंग से आयोजित करें : मेहता

जिला मुख्यालय पर राष्ट्रपिता महात्मागांधी की 150 वीं जयंती वर्ष के अन्तर्गत रविवार से तीन दिवसीय जिला स्तरीय समारोह आयोजित किया जाएगा। इस दौरान विविध कार्यक्रमों के जरीये गांधीजी के जीवन दर्शन को जीवंत किया जाएगा।

11/09/2019

अधिकाधिक लोगों तक पहुंचाएं जन कल्याण योजनाएं : कल्ला

वर्तमान राज्य सरकार के कार्यकाल का एक वर्ष पूर्ण होने के उपलक्ष्य में जैसलमेर डीआरडीए हॉल व परिसर में ‘वर्ष एक, फैसले अनेक’ शीर्षक से तीन दिवसीय जिलास्तरीय भव्य प्रदर्शनी लगाई गई।

20/12/2019

जैसलमेर मरु महोत्सव 2020 : मनोहारी शोभायात्रा ने कराया मरु संस्कृति और परम्पराओं का दिग्दर्शन

विश्वविख्यात मरु महोत्सव के अन्तर्गत शुक्रवार को जैसलमेर जिला मुख्यालय पर मनोहारी शोभायात्रा, परम्परागत लोक सांस्कृतिक कार्यक्रमों और रोचक एवं आकर्षक प्रतिष्ठित प्रतिस्पर्धाओं की धूम मची रही। महोत्सव के अन्तर्गत ऐतिहासिक सोनार दुर्ग से भव्य शोभायात्रा निकली।

07/02/2020

‘जनभावनाओं के अनुरूप कार्य करें’

जिला कलक्टर नमित मेहता ने सामाजिक एवं आंचलिक सरोकारों तथा सामुदायिक विकास से जुड़ी तमाम गतिविधियों में बेहतरी लाने, राज-काज सम्पादन से जुड़ी तमाम गतिविधियों को सुशासन की भावनाओं के अनुरूप और अधिक जनोन्मुखी बनाने तथा आम जन की अपेक्षाओं को पूरा करने के लिए समर्पित दायित्व निर्वाह का आह्वान अधिकारियों से किया है।

29/05/2020

सरकार अल्पसंख्यकों के विकास के लिए प्रतिबद्ध

अल्पसंख्यक वर्ग के लोगों के सर्वांगीण विकास के लिए राज्य सरकार प्रतिबद्ध है। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने मौजूदा बजट में अल्पसंख्यक बालक-बालिका छात्रावास, आवासीय विद्यालय, मुख्यमंत्री मदरसा आधुनिकीकरण, धार्मिक पवित्र स्थलों को पर्यटक पॉइंट बनाने की घोषणा कर अल्पसंख्यकों के लिए नई सौगातें दी है।

21/03/2021