Dainik Navajyoti Logo
Friday 5th of June 2020
 
जयपुर

8 परिवहन अधिकारी और 7 दलालों ने 600 किलोमीटर के क्षेत्र में चला रखा था अवैध वसूली का गिरोह

Tuesday, February 18, 2020 11:05 AM
एसीबी टीम की गिरफ्त में आरोपी।

जयपुर। भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) की गिरफ्त में आए आठ परिवहन अधिकारी और सात दलालों ने करीब 600 किलोमीटर तक के क्षेत्र में अवैध वसूली का गिरोह चला रखा था। मंथली वसूली के इस खेल का पूरा घूसमैप तैयार था। आरोपी पिंडवाड़ा से सिरोही, सिरोही से पाली, अजमेर से किशनगढ़, किशनगढ़ से जयपुर, जयपुर से चंदवाजी, चंदवाजी से शाहपुरा, शाहपुरा से बहरोड़ तक अवैध वसूली करते थे। इस खेल का संचालक जसवंत सिंह था। जब एसीबी टीम ने इसे पकड़ा तो अन्य परिवहन अधिकारियों से भी इसकी बात कराई। हालांकि वो अधिकारी बाद में फरार हो गए। ट्रांसपोर्ट संचालक मंथली दे देते थे, तो कोड वर्ड जारी होता था। इनके ज्यादातर कोडवर्ड विनायक, गणपति, भारत, निधि मार्का हुआ करते थे। एसीबी टीम ने जांच के बाद सभी आरोपियों को सोमवार को गिरफ्तार कर लिया है। एसीबी के महानिदेशक आलोक त्रिपाठी ने बताया कि सोमवार को एसीबी ने तलाशी में लॉजिस्टिक के कार्यालय की सील खोली, जहां से रिश्वत लेन-देन संबंधी रिकॉर्ड और 16 लाख 91 हजार रुपए नकद बरामद किए। फरार आरोपी श्योजीराम गढ़वाल निवासी दूदू की जब्त स्कॉर्पियो कार की तलाशी में लेन-देन संबंधी रिकार्ड मिला है। एडीजी दिनेश एमएन ने बताया कि परिवहन विभाग में अवैध मंथली वसूली के मामले में अभी जांच जारी है। एसीबी ने इन सभी आरोपियों के कब्जे से रिश्वत लेन-देन संबंधी रिकॉर्ड और कुल 1.5 करोड़ रुपए बरामद किए हैं। एसीबी ने पहली बार परिवहन विभाग में इतनी बड़ी संख्या में गिरफ्तारी की है। इस कारण टीम का पूरा दिन कार्रवाई में गुजरा। ज्यादा लोग होने के कारण टीम ने देर रात मजिस्ट्रेट के घर पेश किया।

सरकार की मंशा के बाद ही एसीबी की कार्रवाई
जयपुर। परिवहन विभाग के अफसरों पर एसीबी की कार्रवाई के बाद परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने सोमवार को परिवहन भवन में आरटीओ और डीटीओ की बैठक ली। बैठक में एसीएस परिवहन राजीव स्वरूप और परिवहन सचिव रवि जैन उपस्थित रहे। बैठक के बाद खाचरियावास ने बातचीत में कहा कि सरकार की मंशा के बाद ही भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ने कार्रवाई की है। विभाग से भ्रष्टाचार दूर होना चाहिए, लेकिन अफसरों को कहा कि किसी को डरने की जरूरत नही है। परिवहन विभाग के अफसर सड़क पर खड़े होकर काम करते हैं, तो आरोप लगते ही हैं। एसीबी की कार्रवाई में केवल एक व्यक्ति गिरफ्तार हुआ है। पूरे विभाग पर सवाल उठाना ठीक नही है। इससे पहले एसीएस परिवहन राजीव स्वरूप ने आरटीओ और डीटीओ को विभाग की छवि सुधारने के निर्देश दिए।

मुख्य सरगना जसवंत करता था उगाही और देता था महेश को
जसवंत सिंह अलवर ट्रेवल एजेंसी का संचालक है। इसकी गोल्ड लाइन ट्रांसपोर्ट कम्पनी के यहां दबिश देकर एक करोड़ 11 लाख रुपए नकद बरामद किए। यह कई जगह से रुपए इकट्ठा करता और महेश शर्मा को पहुंचाता था। यह मुख्य सरगना था।

पकड़े गए आरोपी
- गजेन्द्र सिंह (47) पुत्र प्रकाश चंद यादव निवासी खेड़ली गंज मौहल्ला अटरू बारां हाल किराएदार तरुछाया नगर टोंक रोड जयपुर हाल परिवहन निरीक्षक कर संग्रह केन्द्र शाहजहांपुर अलवर के यहां से 25 हजार रुपए नकद मिले। इसकी भूमिका दलालों के मार्फत कमर्शियल व्हीकल से उगाही करवाना था।


- रतनलाल मीणा (46) पुत्र स्व. बंशीलाल मीणा निवासी झोपड़ा सूरवाल सवाई माधोपुर हाल पुरषार्थ नगर-बी जगतपुरा हाल परिवहन निरीक्षक प्रादेशिक परिवहन कार्यालय जयपुर के यहां से एक लाख 87 हजार रुपए नकद मिले। इसकी भूमिका दलालों के माध्यम से मासिक बंधी लेना था।


- आलोक कुमार बुढ़ानिया (40) पुत्र हनुमान सिंह निवासी महावीर नगर टोंक रोड जयपुर हाल परिवहन उप निरीक्षक जिला परिवहन कार्यालय चौमूं भी अवैध मंथली वसूली में शामिल है।


- विनय बंसल (48) पुत्र विरेन्द्र कुमार बंसल निवासी कीर्ति नगर टोंक रोड जयपुर हाल परिवहन अधिकारी चौमूं के यहां टीम ने 4 लाख 58 हजार रुपए नकद जब्त किए। यह हर माह दलालों के मार्फत बंधी लेता था।


- महेश चन्द शर्मा (51) पुत्र मांगीलाल शर्मा निवासी गली नम्बर 4 गुरू जम्बेश्वर नगर ए गांधी पथ वैशाली नगर हाल कार्यवाहक जिला परिवहन अधिकारी मुख्यालय जयपुर के यहां टीम ने दबिश देकर जांच की।


- शिवचरण मीणा (47) कमल मीणा निवासी मूलत: प्रताप नगर हल्दी घाटी मार्ग सांगानेर हाल गुनसेरा करौली हाल परिवहन निरीक्षक प्रादेशिक परिवहन कार्यालय झालाना डूंगरी जयपुर के यहां दबिश देकर 3 लाख 34 हजार रुपए नकद बरामद किए। इसकी भूमिका दलालों के जरिए वाहनों से मंथली वसूल करना था।


- नवीन कुमार जैन (46) पुत्र धर्मचंद जैन निवासी निर्माण नगर अजमेर रोड जयपुर हाल परिवहन उप निरीक्षक कार्यालय प्रादेशिक परिवहन कार्यालय जयपुर के यहां दबिश देकर एक लाख 45 हजार रुपए नकद मिले। नवीन के लिए भी कई दलाल बंधी इकट्ठी करते हैं।


- ममता शर्मा (28) पत्नी योगेश कुमार शर्मा निवासी बिदूका लक्ष्मणगढ़ अलवर हाल ईडन गार्डन रेवाड़ी हरियाणा अपने पति तनुश्री लॉजिस्टिक को संभालती है। यहां से टीम ने 4 लाख 96 हजार 500 रुपए नकद बरामद किए।


- रणवीर सिंह राठौड़ (26) पुत्र भीम सिंह राठौड़ निवासी धाबड़िया मकराना नागौर के यहां टीम ने जांच की तो पता चला कि यह कॉमर्शिलय वाहन से अवैध मंथली की उगाही करता है।


- पवन शर्मा (33) पुत्र भीमसेन शर्मा निवासी कल्याणपुर अघापुर भरतपुर के यहां पर टीम ने दबिश देकर इसे अवैध वसूली में गिरफ्तार किया है।


- विष्णु कुमार (22) पुत्र रामप्रकाश निवासी नोनेरा कामां भरतपुर के यहां दबिश देकर जांच की। इसका भी संबंध अवैध वसूली से है।


- विष्णु कुमार शर्मा (51) पुत्र सत्यनारायण शर्मा निवासी निवासी चौधरी कॉलोनी कमला नेहरू नगर अजमेर रोड के यहां से 4 लाख 27 हजार 500 रुपए नकद बरामद किए।


- उदयवीर सिंह (48) पुत्र बेणीराम वर्मा निवासी कृष्णा नगर भरतपुर हाल मोटर वाहन निरीक्षक प्रादेशिक परिवहन कार्यालय जयपुर को एसीबी टीम ने 40 हजार रुपयों के साथ ट्रेप किया था।


- मनीष मिश्रा (37) पुत्र नटवर लाल मिश्रा निवासी पिली हवेली आबूरोड सिरोही हाल सुभाष कॉलोनी अजमेर रोड जयपुर हाल कार्यरत ऑपरेशन मैनेजर लॉजिस्टिक अजमेर रोड दूदू के यहां से 1 लाख 20 हजार रुपए नकद मिले हैं। वहीं राजकुमार यादव निवासी जयपुर के यहां से एक लाख 82 हजार रुपए की राशि बरामद की गई है। 

यह भी पढ़ें:

जयपुर: 18 क्विंटल नकली पनीर जब्त, दो गिरफ्तार, पूछताछ जारी

नकली और मिलावटी सिन्थेटिक पनीर से भरी दो पिकअप गाड़ियां पकड़ी हैं। इन गाड़ियों में करीब 18 क्विंटल नकली पनीर भरा हुआ था।

28/11/2019

जीसएसटी को लेकर होगी बैठक, धारीवाल होंगे शामिल

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मल सीतारमण की अध्यक्षता में बुधवार को जीएसटी को लेकर बैठक होगी। इसमें सभी राज्यों के वित्त मंत्री को बुलाया गया है।

19/11/2019

जयपुर के कनिष्क कटारिया UPSC टॉपर, अक्षत जैन का दूसरा स्थान

संघ लोक सेवा आयोग नई दिल्ली ने सिविल सर्विस-2018 परीक्षा के अंतिम नतीजे शुक्रवार शाम को जारी कर दिए हैं, इसमें जयपुर के कनिष्क कटारिया ने आॅल इंडिया टॉप करके देशभर में शहर का नाम रोशन किया है, उनके पिता राजस्थान सरकार के सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के निदेशक (आईएएस) सांवरमल वर्मा हैं।

06/04/2019

आईएएस एसोसिएशन के प्रतिनिधि मण्डल ने की डीबी गुप्ता से मुलाकात

आईएएस एसोसिएशन के प्रतिनिधि मण्डल ने मुख्य सचिव डीबी गुप्ता से शासन सचिवालय में मुलाकात की।

03/01/2020

पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की जयंती पर जयपुर में आयोजित हुई अक्षय ऊर्जा दौड़

पूर्व प्रधानमंत्री स्व. राजीव गांधी के 75वें जयंती समारोह के तहत मंगलवार सुबह रामनिवास बाग के दक्षिणी द्वार से अक्षय ऊर्जा दौड़ को हरी झंड़ी दिखाकर रवाना किया।

20/08/2019

अजमेर में कैब चालक की हत्या से जुड़े मामले में हाईकोर्ट में पेश हुए आईजी और एसपी

हाईकोर्ट में अजमेर में कैब चालक की हत्या से जुड़े मामले में अजमेर आईजी और एसपी पेश हुए। कोर्ट ने कहा कि ऐसे आरोप पत्र पेश क्यों होते हैं, जिनसे आरोपियों को फायदा मिलता है।

04/06/2019

राज्य निर्वाचन आयोग ने निकाय चुनावों की नए सिरे से कवायद शुरू की

राज्य सरकार की ओर से निकाय अध्यक्षों का चुनाव अप्रत्यक्ष प्रणाली से कराने का निर्णय लेने के बाद राज्य निर्वाचन आयोग ने भी नए सिरे से कवायद शुरू कर दी है।

22/10/2019