Dainik Navajyoti Logo
Saturday 18th of January 2020
 
जयपुर

भारत शिक्षा के क्षेत्र में हमेशा से काफी आगे रहा : थरूर

Sunday, December 15, 2019 11:45 AM
यूनिवर्सिटी के करीब स्टूडेंट्स को डिग्री प्रदान कर सम्मानित किया गया।

जयपुर। पूर्व केन्द्रीय मंत्री, साहित्यकार और तिरुवनंतपुरम से लोकसभा सांसद डॉ. शशि थरूर ने भारत की प्राचीन शिक्षा पद्धति की बात करते हुए कहा कि भारत शिक्षा के क्षेत्र में हमेशा से काफी आगे रहा है। उस दौर में भी यहां नालंदा जैसे समृद्ध विश्वविद्यालय थे। वे शनिवार को पूर्णिमा यूनिवर्सिटी के छठे दीक्षांत समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि अंतरराष्ट्रीय शांति व सद्भाव बरकरार रखने में शिक्षा की सबसे महत्वपूर्ण भूमिका होती है। थरूर ने बच्चों के करियर में पैरेंट्स भी भूमिका पर कहा कि उन्हें बच्चों पर अपने सपने कभी नहीं थोपने चाहिए, बल्कि जो वे करना चाहते हैं। उसके लिए उनको फ्री छोड़ देना चाहिए।

उन्होंने शिक्षा में एक्सीलेंस व एम्प्लॉयबिलिटी पर भी चर्चा की। पूर्णिमा के चेयरपर्सन शशिकांत सिंघी ने कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए डिग्री प्राप्त करने वाले सभी स्टूडेंट्स को उज्ज्वल भविष्य की शुभकामना देते हुए कहा कि अपने इनोवेशन के जरिए वे समाज में अहम योगदान दें। इस दौरान यूनिवर्सिटी के करीब 600 स्टूडेंट्स को डिग्री प्रदान कर सम्मानित किया गया। इनमें दो पीएचडी, 30 एमटेक, 98 एमबीए, 182 बीटेक, 79 बीबीए, 42 बीकॉम, 78 बीसीए, 26 बैचलर आॅफ डिजाइन, 58 बैचलर आॅफ आर्किटेक्चर और 5 बीएफए की डिग्रियां शामिल थीं।

इनको मिला मैडल
दीक्षांत समारोह के दौरान विभिन्न कोर्सेज के एकेडमिक अचीवर्स को गोल्ड व सिल्वर मेडल से सम्मानित किया गया। इस दौरान रंजीत सिंह ठाकुर को चांसलर्स गोल्ड मेडल और प्रतिभा घुसिंगा को एसईएस गोल्ड मेडल प्रदान किया गया। जबकि सिमोंटनी देब को ले कॉर्बुजियर गोल्ड मेडल से सम्मानित किया गया। इनके अलावा 24 अन्य एकेडमिक टॉपर्स को गोल्ड व सिल्वर मेडल व कैश प्राइज प्रदान किए गए। इस मौके पर यूनिवर्सिटी प्रेसीडेंट डॉ. सुरेश चंद्र पाधे, प्रो-प्रेसीडेंट डॉ. मनोज गुप्ता, डायरेक्टर राहलु सिंघी सहित अन्य गणमान्य लोग उपस्थित थे।

 

यह भी पढ़ें:

भाजपा संगठन चुनाव की समीक्षा बैठक, सतीश पूनिया, चंद्रशेखर सहित कई नेता रहे मौजूद

बैठक में प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया, संगठन महामंत्री चंद्रशेखर, संगठन चुनाव अधिकारी राजेन्द्र गहलोत व अन्य वरिष्ठ पदाधिकारी उपस्थित रहे।

11/11/2019

एईएन ने गिरोह संग मिलकर स्क्रैप गोदामों से करोड़ों रुपए के माल में की हेरा-फेरी

किसी भी विभाग में अब ईमानदारी दूर की कौड़ी साबित होती जा रही है। रुपए कमाने के लिए सरकारी कर्मचारी भी अपराध करने से नहीं चूक रहे हैं।

25/04/2019

सरकार जल्द ही नई उद्योग नीति लाएगी, बनाएंगे एक्सपोर्ट प्रमोशन काउंसिल: गहलोत

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि अब राज्य में उद्योग लगाने के लिए एमएसएमई उद्यमियों को तीन साल तक किसी प्रकार की स्वीकृति की आवश्यकता नहीं होगी।

13/06/2019

शिक्षा मंत्री गोविन्द डोटासरा ने 66 बच्चों को यात्रा के लिए किया रवाना

शिक्षा राज्यमंत्री गोविन्द सिंह डोटासरा ने बच्चों को बस से फ्लैग आॅफ कर यात्रा के लिए रवाना किया। इस यात्रा के लिए सभी जिलों से दो-दो मेधावी बच्चों का चयन किया गया है।

23/10/2019

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने भरा नामांकन, गहलोत-पायलट सहित कई नेता रहे मौजूद

पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह राजस्थान से राज्यसभा की एक सीट के लिए होने वाले उपचुनाव के लिए नामांकन दाखिल करने जयपुर आए हैं।

13/08/2019

गहनों की चमक के साथ लौटी रौनक, ज्वैलरी शोरूम भी सजकर तैयार

दिवाली पर बम्पर खरीद की उम्मीद लगाए बैठे सर्राफा कारोबारियों को पिछले फेस्टिव सीजन की बिक्री के आंकड़ों को मात देने की उम्मीद है।

18/10/2019

सतीश पूनिया ने विधानसभा अध्यक्ष को विशेष सत्र बुलाने को लिखा पत्र

भाजपा प्रदेशाध्यक्ष डॉ. सतीश पूनिया ने मंगलवार को विधानसभा अध्यक्ष सीपी जोशी को पत्र लिखकर प्रदेश में कथित रूप से बिगड़ती कानून व्यवस्था एवं बढ़ते महिला व दलित अपराधों को लेकर चर्चा के लिए विशेष सत्र बुलाने की मांग पत्र लिखकर की है।

04/12/2019