Dainik Navajyoti Logo
Thursday 17th of June 2021
 
भारत

वुहान के लोग अपने देश में ही बने अछूत

Wednesday, February 05, 2020 10:35 AM
फाइल फोटो

गुआंगझाऊ। दुनियाभर में महामारी का रूप लेते जा रहे कोरोना वायरस को किसी भी तरह से रोकने की चीन की हताशाभरी कवायद स्वयं उसके नागरिकों के लिए गंभीर संकट सबब बनती जा रही है। इस वायरस का गढ़ कहे जाने वाले वुहान के लोग अपने ही देश में अछूत बन गए हैं।

यही नहीं वुहान के लोगों की तलाश के लिए चीन सरकार ने इनाम घोषित कर रखा है, जो एक पड़ोसी को दूसरे का दुश्मन बनाता जा रहा है। हालात यहां तक खराब हैं कि वुहान के जिन लोगों में कोरोना वायरस के लक्षण नहीं हैं, उन्हें भी जबरन बाहर किया जा रहा है।

सर्विलांस नेटवर्क से वुहान के लोगों को तलाश रही सरकार
चीन के लाखों लोग अपने आवास नहीं जा पा रहे हैं, क्योंकि उन्हें यह डर सता रहा है कि वे इस रहस्यमयी बीमारी के वाहक बन सकते हैं।

कोरोना वायरस को रोकने के लिए चीन सरकार ने पूरे देश में सर्विलांस नेटवर्क बना रखा है जो चेहरे को पहचान करने वाली तकनीक और उच्च क्षमता के कैमरों से लैस हैं। इससे हर जगह नागरिकों की निगरानी की जा रही है।

आवास से बाहर निकलें तो पड़ोसी दें सूचना
वुहान से लौटे लिनहाई ने जैसे ही सरकारी अधिकारियों को अपनी जानकारी दी। इसके बाद पुलिस उनके आवास आकर धमकी और उसने लिन के कमरे को जबरन टेप से बंद कर दिया और वहां पर साइन बोर्ड लगा दिया। इस बोर्ड में पड़ोसियों को चेतावनी देते हुए लिखा गया है कि यहां पर वुहान से लौटा व्यक्ति रह रहा है। इस बोर्ड में लिखा है कि यदि लिनहाई या उनके परिवार का कोई सदस्य बाहर निकलता है, तो पड़ोसी इसकी सूचना दें। 

चीन के कई हिस्सों में आवागमन पूरी तरह बंद
चीन ने देश के कई हिस्सों में आवागमन को पूरी तरह से बंद कर दिया है। विशेषज्ञों ने चेतावनी दी है कि इस तरह से लोगों को अलग-थलग करने से फायदे की बजाय लोगों को नुकसान होगा। यही नहीं इससे लोगों का विश्वास भी घटेगा और जिन लोगों को यह बीमारी है। वह ऐसी जगह छिपकर रहने लगेंगे, जहां से उन्हें पकड़ना मुश्किल होगा।

 

परफेक्ट जीवनसंगी की तलाश? राजस्थानी मैट्रिमोनी पर निःशुल्क  रजिस्ट्रेशन करे!

यह भी पढ़ें:

आर्थिक पैकेज: 40 हजार करोड़ रुपए बढ़ाया गया मनरेगा का बजट, स्वास्थ्य पर बढ़ेगा निवेश

'आत्मनिर्भर भारत पैकेज' के पांचवें और अंतिम चरण में सरकार ने सभी क्षेत्र को निजी कंपनियों के लिए खोलने, लोकउपक्रमों की संख्या कम करने, मनरेगा के लिए आवंटन और स्वास्थ्य पर निवेश बढ़ाने तथा कंपनी कानून और दिवालिया कानूनों में बड़े बदलावों की घोषणा की।

17/05/2020

कोरोना मरीजों को मिलेगी राहत, DRDO की 2-डीजी मेडिसिन के इमरजेंसी यूज को DCGI की मंजूरी

देशभर में कोरोना संक्रमण के बढ़ते खतरे के बीच शनिवार को कोरोना के खिलाफ लड़ाई में एक और राहत भरी खबर आई है। भारत के औषधि महानियंत्रक ने डीआरडीओ की बनाई 2-डीजी दवा के आपातकालीन इस्तेमाल को मंजूरी दे दी है। मध्यम से गंभीर लक्षण वाले कोरोना मरीजों के इलाज के लिए इस दवा का इस्तेमाल किया जा सकता है।

08/05/2021

महिला तहसीलदार के घर एसीबी का छापा, 93 लाख रुपए बरामद

तेलंगाना में एसीबी ने रेड्डी जिले की महिला तहसीलदार लावन्या के घर और दफ्तरों में छापेमारी छापेमारी की, जिसमें 93.5 लाख रुपए बरामद किए गए।

11/07/2019

राहुल गांधी का मोदी से सवाल, चीन की हमारे सैनिकों को मारने की कैसे हुई हिम्मत

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने भारतीय सैनिकों के शहीद होने पर गहरा शोक व्यक्त करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से सवाल किया कि चीन का साहस कैसे बढ़ा और सीमा पर क्या हुआ इसकी जानकारी देश को देना आवश्यक है।

17/06/2020

राजधानी और शताब्दी ट्रेनें निजी हाथों में सौंप सकता है रेलवे

इसको लेकर आगामी 100 सौ दिनों का एक टारगेट भी तय किया गया है, जिसमें प्रीमियम ट्रेनों को चलाने का परमिट निजी कंपनियों को देने की योजना है।

07/06/2019

दिल्ली: भाजपा का गरीबों को दो रुपए किलो आटा और सबको आवास का वादा

2022 तक सबको आवास और मालिकाना हक, नियमित की गयी कालोनियों के लिए कालोनी विकास बोर्ड, यमुना को साफ करने और दिल्ली के किसानों को 6 हजार रुपए की सम्मान निधि देने का भी ऐलान किया है।

31/01/2020

निर्भया को मिलेगा इंसाफ, जल्द ही फांसी के फंदे पर लटकेंगे दरिंदे!

निर्भया को सात साल बाद आखिरकार इंसाफ मिलेगा। निर्भया मामले के दरिंदों अक्षय, मुकेश, विनय और पवन के जीवन के अब ज्यादा दिन नहीं बचे हैं। दोषियों में से एक की दया याचिका पर राष्ट्रपति की तरफ से कोई फैसला नहीं आया है लेकिन जैसे ही फैसला आएगा इसके बाद मात्र पंद्रह दिन में इन चारों को फांसी पर लटका दिया जाएगा।

13/12/2019