Dainik Navajyoti Logo
Monday 19th of April 2021
 
भारत

सुप्रीम कोर्ट ने कोयला खदान नीलामी मामले में झारखंड की याचिका पर केंद्र से किया जवाब तलब

Tuesday, July 14, 2020 17:00 PM
सुप्रीम कोर्ट।

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने कोयला खदानों की नीलामी के केंद्र के फैसले को चुनौती देने वाली झारखंड सरकार की याचिका पर मंगलवार को केंद्र सरकार से जवाब तलब किया। मुख्य न्यायाधीश शरद अरविंद बोबडे, न्यायमूर्ति आर सुभाष रेड्डी और न्यायमूर्ति ए एस बोपन्ना की खंडपीठ ने राज्य सरकार की एक रिट याचिका और एक मूल वाद (ऑरिजिनल सूट) की सुनवाई के दौरान केंद्र सरकार को नोटिस जारी करके 4 सप्ताह के भीतर जवाब दाखिल करने को कहा। राज्य सरकार ने दलील दी कि केंद्र सरकार ने बगैर किसी सलाह-मशविरे के ही एकपक्षीय निर्णय लेकर कोयला ब्लॉकों की नीलामी की है, जो अनुचित है।

गौरतलब है कि कोयला ब्लॉकों के वाणिज्यिक खनन के लिए नीलामी प्रक्रिया शुरू करने के केंद्र सरकार के फैसले के खिलाफ झारखंड सरकार ने 18 जून को सुप्रीम कोर्ट में एक याचिका दायर की थी। इसके बाद पिछले दिनों राज्य सरकार ने संविधान के अनुच्छेद 131 के तहत भी मूल वाद दायर कर दिया। केंद्र के साथ विवाद होने पर राज्य सरकार इसी अनुच्छेद के तहत सीधे सुप्रीम कोर्ट में मामला दायर करती है। वकील तपेश कुमार सिंह की ओर से दायर रिट याचिका में झारखंड की हेमंत सोरेन सरकार ने कहा कि क्या यह जरूरी नहीं था कि पहले से बंद पड़े उद्योग-धंधों की जरूरतों का आकलन कर लिया जाता। याचिका में कहा गया कि राज्य में हमेशा खनन एक ज्वलंत विषय रहा है। इसे लेकर अब नई प्रक्रिया अपनाई जा रही है। उसके फिर पुरानी व्यवस्था में जाने की आशंका है, जिससे देश बाहर आया था।

याचिकाकर्ता ने कहा कि नीलामी प्रक्रिया को कानूनी तौर पर वैध नहीं कहा जा सकता, क्योंकि खनिज कानून संशोधन कानून, 2020 गत 14 मई को समाप्त हो गया, जिसके बाद कानूनी रिक्तता आ गई है। झारखंड सरकार का आरोप है कि केंद्र सरकार ने उससे परामर्श के बगैर ही राज्य की कोयला खदानों की नीलामी की एकतरफा घोषणा की है।

यह भी पढ़ें:

तेलंगाना के विकाराबाद में विमान दुर्घटना में दो पायलटों की मौत

तेलंगाना के विकाराबाद जिले में सुल्तानपुर गांव के निकट एक विमान के खेत में गिर जाने से रविवार को दो प्रशिक्षु पायलटों की मौत हो गई। मारे गए पायलटों में से एक की पहचान प्रकाश विशाल के रूप में हुई है। दूसरे पायलट की पहचान की जा रही है।

06/10/2019

मजदूरों की बदहाली मामला: SC ने विस्तृत ब्योरा पेश नहीं करने पर महाराष्ट्र सरकार को लगाई फटकार

सुप्रीम कोर्ट ने प्रवासी मजदूरों की समस्याओं एवं बदहाली को लेकर स्वत: संज्ञान मामले में विस्तृत हलफनामा न दायर करने के लिए महाराष्ट्र सरकार को गुरुवार को आड़े हाथों लिया और अगले सप्ताह तक फंसे हुए मजदूरों की वास्तविक स्थिति को लेकर विस्तृत ब्योरा पेश करने का निर्देश दिया।

09/07/2020

सुशांत सिंह राजपूत सुसाइड केस: CBI ने रिया चक्रवर्ती के खिलाफ दर्ज की एफआईआर

बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह की मौत फिलहाल एक मिस्ट्री बनी हुई है। सीबीआई ने गुरुवार को रिया चक्रवर्ती, इंद्रजीत चक्रवर्ती, शोविक चक्रवर्ती, संध्या चक्रवर्ती, सैम्युअल मिरांडा और श्रुति मोदी सहित कई अन्य के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है।

07/08/2020

साध्वी प्रज्ञा ठाकुर भाजपा में शामिल, दिग्विजय के खिलाफ लड़ेंगी चुनाव

मालेगांव विस्फोट मामले में लंबे समय तक कानूनी प्रक्रिया का सामना कर चुकीं साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के भारतीय जनता पार्टी में औपचारिक तौर पर शामिल होने के बाद अब उन्हें भोपाल संसदीय क्षेत्र से पार्टी प्रत्याशी घोषित किए जाने की संभावनाएं और प्रबल हो गई हैं।

17/04/2019

पश्चिम बंगाल और असम में पहले चरण के लिए मतदान, बंगाल में कुछ जगहों पर हिंसा की छिट-पुट घटनाएं

पश्चिम बंगाल और असम में विधानसभा चुनाव के पहले चरण का मतदान चल रहा है। पश्चिम बंगाल की कुल 294 सीटों में से पहले चरण में 5 जिलों की 30 सीटों और असम में 12 जिलों की 47 सीटों के लिए मतदान हो रहा है। मतदान के लिए व्यापक सुरक्षा व्यवस्था का इंतजाम किए गए है।

27/03/2021

व्यवसायी ने पत्नी, बेटी और बेटे को मारी गोली, फिर खुद ने किया सुसाइड

बिहार में राजधानी पटना के कोतवाली थाना क्षेत्र के किदवईपुरी मुहल्ला से पुलिस ने कपड़ा व्यवसायी निशांत सर्राफ के परिवार के तीन लोगों का शव बरामद किया गया है।

11/06/2019

राहुल गांधी ने केंद्र सरकार पर साधा निशाना, कहा- भारत में लोकतंत्र कल्पना में, वास्तविकता में नहीं

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि हाल में पारित कृषि संबंधी तीनों कानून किसान विरोधी हैं और इनको वापस लेने के बाद ही दिल्ली दरबार के सामने आंदोलन कर रहे किसान अपने घरों को लौटेंगे। राहुल गांधी ने कहा कि देश का किसान इन कानूनों के खिलाफ खड़ा है और सरकार उनकी मांग नहीं मानने पर अड़ी है।

24/12/2020