Dainik Navajyoti Logo
Wednesday 3rd of March 2021
 
भारत

जामिया हिंसा मामले पर सुप्रीम कोर्ट की सख्त टिप्पणी, कहा- कानून हाथ में नहीं ले सकते हैं छात्र

Monday, December 16, 2019 13:15 PM
सुप्रीम कोर्ट।

नई दिल्ली। नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ जामिया हिंसा मामले में सुप्रीम कोर्ट ने तल्ख टिप्पणी की है। चीफ जस्टिस शरद अरविंद बोबडे ने नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि आप स्टूडेंट हैं, इसका मतलब ये नहीं कि वे कानून-व्यवस्था अपने हाथ में ले लेंगे। अब इस मामले में मंगलवार को सुनवाई होगी, लेकिन हम चेतावनी देते हैं कि अगर प्रदर्शन, हिंसा और सरकारी संपत्तियों को नुकसान पहुंचाया जाता है तो हम सुनवाई नहीं करेंगे। इधर, दिल्ली पुलिस ने जामिया मिल्लिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी में हिंसा के संबंध में दो मामले दर्ज किए हैं। वहीं, दिल्ली हाईकोर्ट ने जामिया यूनिवर्सिटी में छात्रों पर पुलिस कार्रवाई के विरोध में दाखिल याचिका को सुनवाई के लिए तुरंत सूचीबद्ध करने से इनकार कर दिया।

जामिया और अलीगढ़ हिंसा मामले पर वरिष्ठ वकील इंदिरा जयसिंह ने चीफ जस्टिस बोबडे की बेंच को मामले का स्वत: संज्ञान लेने का आग्रह करते हुए कहा कि यह मानव अधिकार हनन का गंभीर मामला है। याचिकाकर्ता ने रिटायर जजों की जांच कमेटी बनाने की मांग की है, ताकि पुलिस कोई कार्रवाई न करे। कोर्ट को एक वकील ने जामिया हिंसा के वीडियो की जानकारी दी। चीफ जस्टिस ने कहा कि हम वीडियो नहीं देखना चाहते हैं, लेकिन अगर हिंसा जारी रहेगी और सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचाया जाता रहेगा तो हम सुनवाई नहीं करेंगे। चीफ जस्टिस ने कहा कि हम अधिकार सुनिश्चित करेंगे लेकिन हिंसा के माहौल में नहीं। यह सब कुछ थमने दीजिए उसके बाद स्वतः संज्ञान लिया जाएगा। हम अधिकारों और शांतिपूर्ण प्रदर्शन के खिलाफ नहीं हैं।

गौरतलब है कि नागरिकता संशोधन कानून के खिलाप जामिया यूनिवर्सिटी और उसके आस-पास के इलाकों में हिंसक प्रदर्शन हुआ। इस दौरान न्यू फ्रेंड्स कॉलोनी में प्रदर्शनकारियों ने डीटीसी की चार बसों और दो पुलिस वाहनों में आग लगा दी। पुलिस ने हिंसक भीड़ को खदेड़ने के लिए लाठीचार्ज किया और आंसू गैस के गोले छोड़े। झड़प में छात्रों, पुलिसकर्मियों और दमकलकर्मी समेत करीब 60 लोग घायल हो गए। छात्रों और पुलिस के बीच हुई झड़प से तनाव की स्थिति उत्पन्न हो गई। सड़कों पर आगजनी और झड़प के बाद दिल्ली पुलिस जामिया यूनिवर्सिटी के परिसर में घुस गई जहां हिंसा में कथित तौर पर शामिल होने को लेकर कई लोगों को हिरासत में ले लिया, हालांकि 6 घंटे हिरासत में रखने के बाद छात्रों को छोड़ दिया गया। जामिया के छात्रों ने पुलिस की इस कार्रवाई के खिलाफ पुलिस हेडक्वार्टर पर देर रात तक प्रदर्शन किया।

यह भी पढ़ें:

कांग्रेस से कॉमन मिनिमम प्रोग्राम पर समझौता, विचारधारा पर नहीं: उद्धव

वीर सावरकर को लेकर राहुल गांधी की ओर से दिए बयान पर महाराष्ट्र की सियासत में बवाल जारी है। उद्धव ने कहा कि सावरकर के मुद्दे पर शिवसेना का स्टैंड आज भी वही है, जो महाराष्ट्र की सरकार बनने से पहले था।

16/12/2019

भारत-पाक में DGMO लेवल की बातचीत, LOC पर संघर्ष विराम का सख्ती से पालन करेंगे दोनों देश

पाकिस्तान से लगती सीमा पर अचानक हुए एक महत्वपूर्ण घटनाक्रम में भारत और पाकिस्तान ने समूची नियंत्रण रेखा तथा उससे लगते सभी सेक्टरों में संघर्ष विराम तथा अन्य सभी समझौतों के पालन पर सहमति व्यक्त की है। भारत और पाकिस्तान के सैन्य अधिकारियों ने सौहार्दपूर्ण माहौल में नियंत्रण रेखा तथा सभी सेक्टरों में स्थिति की समीक्षा की।

25/02/2021

देवेंद्र फडणवीस की प्रज्ञा ठाकुर को नसीहत, करकरे पर ऐसे बयान नहीं देने चाहिए

महाराष्ट्र के सीएम देवेंद्र फडणवीस ने भाजपा उम्मीदवार प्रज्ञा ठाकुर को हेमंत करकरे पर विवादित बयान नहीं देने की नसीहत दी है।

20/04/2019

लालू का नीतीश सरकार पर हमला, कहा- अफसोस है उनपर जो सत्ता में बैठकर भी लाचार है

राष्ट्रीय जनता दल(राजद)अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव ने जन्मदिन की बधाई देने वालों को धन्यवाद ज्ञापित करने के बहाने प्रवासी श्रमिकों को लेकर एक बार फिर बिहार की नीतीश सरकार पर हमला बोला और कह कि मुझे अफसोस होता है उनपर, जो आजाद हैं, सत्ता में बैठकर भी लाचार हैं।

12/06/2020

सरकारी स्कूल के बच्चों से मिलेगी मिलेनिया ट्रंप

अमेरिका की प्रथम महिला एवं राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की पत्नी मिलेनिया ट्रंप भारत दौरे के दौरान दिल्ली के सरकारी स्कूलों में छात्र-छात्राओं से मुलाकात करेंगी।

20/02/2020

कांग्रेस विधायक हरदीप सिंह डंग ने CAA को ढंग से समझा, उनका धन्यवाद : शिवराज सिंह चौहान

भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि कांग्रेस विधायक हरदीप सिंह डंग ने सीएए को पढ़ा और ढंग से समझा, इसके लिए उन्हें धन्यवाद।

12/01/2020

भारत और चीन के बीच बैठक में दोनों सेनाओं के पीछे हटने पर बनी सहमति

भारतीय सेना और चीन की पीपुल्स लिब्रेशन आर्मी के बीच कोर कमांडर स्तर की बैठक के बाद दोनों सेनाएं टकराव वाले क्षेत्रों से पीछे हटने पर सहमति बन गई हैं।

23/06/2020