Dainik Navajyoti Logo
Wednesday 12th of May 2021
 
भारत

चमोली आपदा: तपोवन टनल में राहत एवं बचाव कार्य फिर शुरू, नदी का जलस्तर बढ़ने पर रुका था काम

Thursday, February 11, 2021 14:45 PM
तपोवन टनल में राहत एवं बचाव कार्य फिर शुरू।

चमोली। देवभूमि उत्तराखंड के चमोली जिले में आई आपदा आज पांचवां दिन है। जिले में तपोवन परियोजना की टनल में फंसे 35 लोगों को निकालने के लिए रेस्क्यू टीमें जुटी हैं। निर्माणाधीन सुरंग में फंसे इन लोगों तक पहुंचने में भारी मात्रा में मलबा बड़ी बाधा बनकर सामने आया है। गुरुवार तड़के टनल में ड्रिलिंग ऑपरेशन शुरू किया गया। इस ड्रिलिंग के जरिए 12 से 13 मीटर लंबा छेद करने की कोशिश की गई, जिससे पता चल सके कि अंदर कोई मौजूद है या नहीं। लेकिन 6 मीटर ड्रिल के बाद लोहे का जाल और कंक्रीट की मजबूत सतह मिलने के चलते और गहराई में ड्रिलिंग संभव नहीं हो पाई, ऐसे में ड्रिलिंग रोककर फिर से मुख्‍य टनल से मलबा हटाने का काम शुरू किया गया।

दोपहर करीब 2.15 बजे तपोवन टनल में अचानक अफरा-तफरी का माहौल हो गया। मौके पर मौजूद एक अधिकारी ने बताया कि ऊपर हमारी दूसरी टीम ने बताया कि अलकनंदा नदी में अचानक बहाव तेज हो गया है। हालांकि, अभी साफ नहीं है कि अचानक पानी का बहाव क्यों बढ़ गया है। फिलहाल रेस्क्यू ऑपरेशन को रोक दिया गया है। जैसे ही पानी कम होगा, रेस्क्यू ऑपरेशन फिर शुरू किया जाएगा। अलकनंदा नदी का जलस्तर अचानक बढ़ने से उसका पानी टनल में भी आ गया है। इस वजह से आनन-फानन में रेस्क्यू टीम और मशीनों को बाहर निकाल लिया गया। साथ ही रेस्क्यू टीम को आधे किलोमीटर तक पीछे ले जाया गया है। अब फिर से राहत कार्य शुरू हो चुका है।

इस बीच उत्तराखंड की राज्यपाल बेबी रानी मौर्य ने तपोवन पहुंचकर आपदा प्रभावित क्षेत्र का निरीक्षण किया और लापता लोगों के परिजनों को ढांढस बंधाया। राज्यपाल के सामने लापता लोगों के परिजनों ने सुरंग में बेहद धीमी गति से कार्य होने की शिकायत की और कहा कि 4 दिनों से सिर्फ 100 मीटर तक ही मलबा हटाया गया है। मौके पर मौजूद अधिकारी गुमराह कर रहे हैं। राज्यपाल ने कहा कि उन्होंने राहत, बचाव कार्य में तेजी लाने के निर्देश दे दिए गए हैं। मलबा हटाने के लिए नई मशीनें लगाई जाएंगी। इस दौरान कई परिजन राज्यपाल बेबीरानी मौर्य के सामने फूट-फूट कर रोए।

बता दें कि 7 फरवरी को चमोली में आए सैलाब में अब तक 30 से ज्यादा लोगों की मौत की पुष्टि हो चुकी है, जबकि 170 से ज्यादा लोग अब ज्यादा लोग अब भी लापता हैं। उधर तपोवन टनल में फंसे 30 से ज्यादा मजदूरों को बचाने के लिए पांचवें दिन भी रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है। इस टनल की लंबाई करीब ढाई किलोमीटर है। इसका ज्यादातर हिस्सा आपदा में आए मलबे से भरा पड़ा है। आईटीबीपी, एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की टीमें टनल में पहुंचने की कोशिश कर रही है। टनल के 120 मीटर अंदर तक मलबा साफ कर लिया गया।

यह भी पढ़ें:

पीएम मोदी ने ब्रिक्स सम्मेलन को किया संबोधित, कहा- आतंकवाद के मददगार देशों को ठहराया जाए दोषी

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आतंकवाद को विश्व के सामने सबसे बड़ी समस्या बताया है। उन्होंने इसका मुकाबला संगठित तरीके से करने का आह्वान करते हुए कहा कि आतंकवाद का समर्थन कर रहे देशों को जवाबदेह ठहराए जाने की आवश्यकता है।

18/11/2020

इकबाल अंसारी और महंत सतेन्द्र दास ने कहा, सुप्रीम कोर्ट के फैसले का सम्मान करें

अयोध्या जमीन विवाद मामले पर सुप्रीम कोर्ट ने फैसला सुना दिया है। बाबरी मस्जिद के पक्षकार इकबाल अंसारी ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद हिन्दू-मुस्लिम विवाद का अंत हो जाएगा।

09/11/2019

सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत हुए सेवानिवृत्त, कहा- संकट की घड़ी में हर कसौटी पर खरी उतरी सेना

सेना प्रमुख के तौर पर तीन वर्ष का कार्यकाल पूरा करने के बाद सेवानिवृत्त हुए जनरल बिपिन रावत ने कहा कि विषम परिस्थितियों में मोर्चों पर तैनात सेना संकट की घड़ी में हर कसौटी पर खरी उतरी है। सेवानिवृत्त होने से पहले जनरल रावत ने परंपरा अनुसार सुबह राष्ट्रीय युद्ध स्मारक जाकर मातृभूमि की रक्षा में प्राण न्यौछावर करने वाले शहीदों को श्रद्धांजलि दी।

31/12/2019

फ्रांस में मोदी का भारतीय समुदाय ने किया स्वागत

पीएम नरेंद्र मोदी तीन देशों की यात्रा पर फ्रांस पहुंचे है। पेरिस एयरपोर्ट पर मोदी का भारतीय समुदाय ने स्वागत किया।

23/08/2019

महाराष्ट्र मामले में सुप्रीम कोर्ट में कल दोबारा सुनवाई, SC ने सभी पक्षों को जारी किया नोटिस

महाराष्ट्र मामले को लेकर सुप्रीम कोर्ट में सोमवार सुबह 10.30 बजे दोबारा सुनवाई होगी। सुप्रीम कोर्ट की ओर से सभी पक्षों को नोटिस जारी किया गया है।

24/11/2019

मिमी चक्रवर्ती और नुसरत जहां ने ली शपथ, ओम बिड़ला से लिया आशीर्वाद

टीएमसी सांसद और अभिनेत्री मिमी चक्रवर्ती और नुसरत जहां ने संसद में शपथ ली। दोनों ने शपथ लेने के बाद स्पीकर ओम बिड़ला से आशीर्वाद लिया।

25/06/2019

कोरोना रोकने के कड़े कदम: अब दफ्तरों में भी लगेगी वैक्सीन, केंद्र ने राज्यों से 11 अप्रैल तक तैयार रहने को कहा

कोरोना वैक्सीन का टीका लगवाने के बाद भी कुछ लोगों के वायरस के शिकार होने की खबरें आने पर मोदी सरकार सतर्क हो गई है। ऐसे लोगों का पता लगाने के लिए मोदी सरकार ने नया कदम उठाया है। वैक्सीनेशन अभियान को गति देने के लिए मोदी सरकार ने कार्यस्थलों पर भी टीका लगाने की सुविधा देने जा रही है।

08/04/2021