Dainik Navajyoti Logo
Tuesday 11th of May 2021
 
भारत

कोरोना से बचाव के लिए मोदी ने की 7 बातों पर ध्यान देने की अपील

Tuesday, April 14, 2020 11:00 AM
पीएम मोदी की देशवासियो से लॉकडाउन का पालन करने की अपील।

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लॉकडाउन के दूसरे चरण में 3 मई तक नियमों का सख्ती से पालन कर कोरोना को हराने के लिए सप्तपदी यानी 7 बातों पर विशेष ध्यान देने की देशवासियो से अपील की है। मोदी ने 21 दिन के पहले चरण के लॉक डाउन के आखिरी दिन मंगलवार को राष्ट्र को सम्बोधित करते हुए कहा कि देशवासी यदि धैर्य बनाकर रखेंगे और नियमों का पालन करेंगे तो कोरोना जैसी महामारी को आसानी से परास्त किया जा सकता है।

उन्होंने लॉकडाउन के दूसरे चरण की घोषणा करते हुए देश की जनता से कोरोना से बचाव के लिए सप्तपदी का सूत्र दिया और इस सप्तपदी के सात सूत्रों का कोरोना को हराने के वास्ते कड़ाई पालन करने का लोगो से आग्रह किया।

कोरोना को हराने के लिए पीएम मोदी के सात सूत्र-:

पहला सूत्र- अपने घर के बुजुर्गों का विशेष ध्यान रखें, विशेषकर ऐसे व्यक्ति जिन्हें पुरानी बीमारी हो, उन्हें कोरोना से बहुत बचाकर रखना है।
दूसरा सूत्र- लॉकडाउन और सामाजिक दूरी की लक्ष्मण रेखा का पूरी तरह पालन करें, घर में बने फेसकवर या मास्क का अनिवार्य रूप से उपयोग करें।
तीसरा सूत्र- अपनी इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए, आयुष मंत्रालय द्वारा दिए गए निर्देशों का पालन करें, गर्म पानी, काढ़ा, इनका निरंतर सेवन करें।
चौथा सूत्र- कोरोना संक्रमण का फैलाव रोकने में मदद करने के लिए आरोग्य सेतु मोबाइल एप जरूर डाउनलोड करें। दूसरों को भी इस एप को डाउनलो करने के लिए प्रेरित करें।
पांचवा सूत्र- जितना हो सके उतने गरीब परिवार की देखरेख करें, उनके भोजन की आवश्यकता पूरी करें।
छठा सूत्र- आप अपने व्यवसाय, अपने उद्योग में अपने साथ काम करे लोगों के प्रति संवेदना रखें, किसी को नौकरी से न निकालें।
सातवां सूत्र- देश के कोरोना योद्धाओं, हमारे डॉक्टर- नर्सेस, सफाई कर्मी-पुलिसकर्मी का पूरा सम्मान करें। पूरी निष्ठा के साथ 3 मई तक लॉकडाउन के नियमों का पालन करें, जहां हैं, वहां रहें, सुरक्षित रहें।

यह भी पढ़ें:

धर्म बदलेंगी मायावती

महाराष्ट्र चुनाव के लिए नागपुर में एक जनसभा को संबोधित करने पहुंचीं बहुजन समाज पार्टी की अध्यक्ष मायावती ने कहा कि वह भी बाबा साहब भीमराव आंबेडकर की तरह बौद्ध धर्म को अपनाएंगी।

15/10/2019

कोरोना संकट के बीच ILO की चेतावनी, 40 करोड़ भारतीय कामगार जा सकते हैं गरीबी रेखा के नीचे

कोरोना महामारी के कारण भारत के 40 करोड़ लोगों के गरीबी रेखा के नीचे जाने का खतरा बढ़ गया है। संयुक्त राष्ट्र ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि कोविड-19 की वजह से इस साल की दूसरी तिमाही में वैश्विक स्तर पर 19.5 करोड़ लोगों की फुलटाइम जॉब जा सकती है।

08/04/2020

कोरोना वायरस को लेकर भारत अलर्ट, ईरान समेत कई देशों के नागरीकों को जारी वीजा किया रद्द

चीन से दुनियाभर में फैले कोरोना वायरस को लेकर भारत भी सतर्क हो गया है। कोरोना वायरस के प्रकोप को देखते हुए भारत ने ईरानी नागरिकों व अन्य देशों के नागरिकों को जारी किए गए वीजा और ई-वीजा को रद्द करने का फैसला किया है।

03/03/2020

भारतीय संसदीय शिष्टमंडल ने मालदीव संसद के अध्यक्ष से की मुलाकात

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला के नेतृत्व में भारतीय संसदीय शिष्टमंडल ने माले में मालदीव की संसदके अध्यक्ष मोहम्मद नशीद से मुलाकात की।

05/09/2019

अर्थव्यवस्था को लेकर प्रियंका का मोदी सरकार पर निशाना, कहा- जनता त्रस्त, शासक अपने में मस्त

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने गुरुवार को मोदी सरकार पर तेज हमला करते हुए कहा कि देश में अर्थव्यवस्था की हालत एकदम पतली है और शासन करने वाला अपने में ही मस्त हैं, जनता हर मोर्चे पर त्रस्त है।

07/11/2019

कृषि क्षेत्र में बजट के कार्यान्वयन पर वेबिनार, PM मोदी बोले- देश को फूड प्रोसेसिंग क्रांति की आवश्यकता

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को कृषि क्षेत्र में बजट के कार्यान्वयन को लेकर हुए वेबिनार को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि लगातार बढ़ते हुए कृषि उत्पादन के बीच 21वीं सदी में भारत को पोस्ट हार्वेस्ट (फसल कटाई के बाद) क्रांति या फिर खाद्य प्रसंस्करण (फूड प्रोसेसिंग) क्रांति और वैल्यू एडिशन (मूल्य संवर्धन) की आवश्यकता है।

01/03/2021

आईपीसी और सीआरपीसी में बदलाव की कवायद कर रही केन्द्र सरकार: अमित शाह

केन्द्र की मोदी सरकार भारतीय दंड संहिता और अपराध प्रक्रिया संहिता में बदलाव की कवायद कर रही है। इसके लिए केन्द्र की ओर से सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों, केन्द्र शासित राज्यों के उप-राज्यपालों से सुझाव मांगे गए हैं।

05/12/2019