Dainik Navajyoti Logo
Wednesday 4th of August 2021
 
भारत

कांग्रेस समेत एक दर्जन विपक्षी दलों ने मोदी को लिखा पत्र, देशभर में लोगों के मुफ्त वैक्सीनेशन की मांग

Thursday, May 13, 2021 10:55 AM
नरेंद्र मोदी (फाइल फोटो)

नई दिल्ली। प्रमुख विपक्ष दल कांग्रेस समेत एक दर्जन दलों ने बुधवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को पत्र लिखा है। जिसमें मांग की गई है कि कोरोना संक्रमण के संकट में लोगों को मुफ्त में वैक्सीन लगाई जानी चाहिए। साथ ही हजारों करोड़ रुपए की सेंट्रल विस्टा परियोजना का काम तुरंत रोका जाए। पत्र में कहा गया है कि सभी बेरोजगार लोगों को छह हजार रुपए प्रति महीने दिया जाए। सरकार जरूरतमंदों को नि:शुल्क अनाज उपलब्ध कराए। साथ ही पत्र में किसानों को कोरोना महामारी की चपेट में आने से बचाने के लिए नए कृषि कानूनों को निरस्त करने की भी मांग की गई है।

इन्होंने लिखा पत्र
सोनिया गांधी तथा अन्य दलों के जिन नेताओं ने प्रधानमंत्री को पत्र लिखा है उनमें जनता दल-(एस) के एचडी देवगौड़ा, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के शरद पवार, शिवसेना के उद्धव ठाकरे, तृणमूल कांग्रेस की ममता बनर्जी, द्रमुक के एम के स्टालिन, झारखंड मुक्ति मोर्चा के हेमंत सोरेन, नेशनल कांफ्रेंस के फारूक अब्दुल्लाह, समाजवादी पार्टी के अखिलेश यादव, राष्ट्रीय जनता दल के तेजस्वी यादव, भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के डी राजा और मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के सीताराम येचुरी शामिल है।

उम्मीद है सोनिया जी के सुझावों पर केंद्र सरकार कदम उठाएगी: गहलोत
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने प्रमुख विपक्षी दलों के संयुक्त पत्र के संबंध में ट्वीट कर कहा कि अध्यक्ष सोनिया गांधी और अन्य विपक्षी नेताओं ने कोविड संकट के प्रबंधन के बारे में पीएम मोदी को लिखा है। उन्होंने सुझाव दिया है कि केंद्र सरकार वैक्सीन खरीदकर नि:शुल्क मुहैया करवाए और जिनकी नौकरियां जा रही है। उनको कम से कम 6 हजार प्रतिमाह देने सहित कई सुझाव दिए है। सोनिया जी बार-बार उपायों का सुझाव दे रही हैं, जिससे आम लोगों की पीड़ा कम होगी। आशा है कि सरकार सभी को टीका लगाने और जरूरतमंदों को राहत प्रदान करने के लिए कदम उठाएगी।

परफेक्ट जीवनसंगी की तलाश? राजस्थानी मैट्रिमोनी पर निःशुल्क  रजिस्ट्रेशन करे!

यह भी पढ़ें:

कोरोना वायरस: देश में बीते 24 घंटे में आए 58 हजार से ज्यादा नए मामले, संक्रमितों का आंकड़ा 26.47 लाख के पार

देश में कोरोना महामारी के पिछले 24 घंटों में 58 हजार से अधिक मामले सामने आये जिससे संक्रमितों की संख्या 26.47 लाख से अधिक हो गई, जबकि 19.19 से ज्यादा लोग इस बीमारी से अब तक मुक्ति पा चुके है।

17/08/2020

अनलॉक 4.0: 100 नई स्पेशल ट्रेनें चलाने की तैयारी में रेलवे, बस इस मंजूरी का इंतजार

भारतीय रेलेवे लॉकडाउन के खुलने के चौथे चरण की शुरुआत के साथ ही यात्रियों के लिए तकरीबन 100 और विशेष गाड़ियां चलाने पर विचार कर रहा है। सूत्रों ने बताया कि कुछ और विशेष गाड़ियां शुरू करने की योजना बनाई जा रही है और इस बारे में राज्य सरकारों से बातचीत शुरू हो गई है।

01/09/2020

कृषि कानूनों के खिलाफ संसद में कांग्रेस का प्रदर्शन, राहुल गांधी बोले- सरकार की नीतियां किसान और गरीब विरोधी

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी के नेतृत्व में पार्टी सांसदों ने गुरुवार को किसानों की मांगों के समर्थन में संसद भवन के बाहर प्रदर्शन किया और सरकार विरोधी नारे लगाए। कांग्रेस सांसदों ने इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ भी नारेबाजी की और कहा कि उनकी सरकार की नीतियां गरीब, मजदूर, कमजोरों, पिछड़ो तथा किसान विरोधी है।

22/07/2021

पंजाब सरकार ने पूरे राज्य में किया लॉकडाउन, कोरोना से एक की मौत

कोरोना वायरस के खतरे के कारण पंजाब सरकार ने पूरे राज्य में 31 मार्च तक लॉकडाउन करने का फैसला किया है। सीएम अमरिंदर सिंह ने लोगों से लॉकडाउन में प्रशासन का सहयोग करने की अपील की है।

22/03/2020

उत्तर प्रदेश के कानून मंत्री ने जताई चिंता, कहा- लखनऊ में नहीं सुधरे हालात, तो लगाना पड़ेगा लॉकडाउन

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में कोरोना संक्रमितों की बढ़ती संख्या को लेकर राज्य के कानून मंत्री ब्रजेश पाठक ने प्रदेश के अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग व प्रमुख सचिव चिकित्सा शिक्षा को पत्र लिखकर स्थिति को संभालने की अपील की है। उन्होंने पत्र में कहा कि कोविड जनित परिस्थितियों को यदि शीघ्र नियंत्रित न किया गया तो इसकी रोकथाम के लिए लखनऊ में लॉकडाउन लगाना पड़ सकता है।

13/04/2021

सुप्रीम कोर्ट का केंद्र को निर्देश, कोरोना संक्रमण से जान गंवाने वालों के परिजनों को मुआवजा दें सरकार

सुप्रीम कोर्ट ने महामारी के दौर में अपने एक महत्वपूर्ण फैसले में बुधवार को कहा कि कोरोना के कारण जान गंवाने वालों के परिजनों को अनुग्रह राशि देने के लिए सरकार बाध्य है। हालांकि कोर्ट ने अनुग्रह राशि तय करने का फैसला सरकार पर ही छोड़ दिया है।

30/06/2021

गृह मंत्रालय ने राजनीतिक हिंसा पर पश्चिम बंगाल से मांगी रिपोर्ट

केन्द्र ने पश्चिम बंगाल में राजनीतिक हिंसा की बढती घटनाओं पर गहरी चिंता व्यक्त करते हुए राज्य सरकार से इनपर काबू पाने और इनकी जांच के लिए उठाये गये कदमों के बारे में रिपोर्ट देने को कहा है।

15/06/2019