Dainik Navajyoti Logo
Wednesday 12th of May 2021
 
भारत

BJP में शामिल हुए ज्योतिरादित्य सिंधिया, कहा- अब पहले जैसी नहीं रही कांग्रेस पार्टी

Wednesday, March 11, 2020 12:25 PM
जेपी नड्डा ने ज्योतिरादित्य सिंधिया को ग्रहण कराई भाजपा की सदस्यता।

नई दिल्ली। कांग्रेस के दिग्गज नेता, पूर्व केन्द्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने बुधवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) का दामन थाम लिया। भाजपा के केन्द्रीय कार्यालय में पार्टी अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने मीडिया के भारी जमावड़े के बीच सिंधिया को पार्टी की सदस्यता पर्ची सौंपी, अंगवस्त्र पहनाया और गुलदस्ता देकर उनका स्वागत किया। भाजपा अध्यक्ष ने सिंधिया की दादी एवं ग्वालियर राजघराने की राजमाता विजय राजे सिंधिया को याद करते हुए कहा कि उनका भारतीय जनसंघ और भाजपा की स्थापना में बहुत बड़ा योगदान रहा है। उन्होंने कहा कि राजमाता हमारी आदर्श, दृष्टि और दिशानिर्देशक रहीं हैं। उनके पौत्र के इस पार्टी में शामिल होने पर वह बहुत प्रसन्न है और उनका अभिनंदन करते हैं। नड्डा ने कहा कि ज्योतिरादित्य सिंधिया के नेतृत्व की प्रखरता एवं क्षमता से सब परिचित हैं। उनका पार्टी में शामिल होना परिवार में शामिल होने जैसा है। उन्होंने कहा कि सिंधिया को पार्टी में मुख्यधारा में काम करने का मौका मिलेगा। भाजपा भारत को परम वैभव तक ले जाने के लिए एक अस्त्र के रूप काम कर रही है। उन्हें विश्वास है कि सिंधिया को भी योगदान देने का अवसर मिलेगा।

भाजपा में शामिल होने के बाद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह और जेपी नड्डा के प्रति आभार व्यक्त करते हुए कहा कि उन्हें खुशी है कि नरेंद्र मोदी ने उन्हें अपने परिवार में आमंत्रित किया और एक स्थान दिया। उन्होंने कहा कि इन नेताओं के दिखाए रास्ते पर चलकर भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ मिलकर काम करेंगे। उन्होंने भावुक स्वर में कहा कि उनके जीवन में बदलाव के दो महत्वपूर्ण क्षण ऐसे आए जिन्होंने उन्हें पूरी तरह बदल दिया। पहला दिन 30 सितंबर 2001 को उनके पिता माधव राव सिंधिया के देहान्त का दिन था और दूसरा दिन 10 मार्च 2020 का दिन था जो उनके पिता की 75वीं वर्षगांठ का दिन था और उस दिन उन्होंने एक महत्वपूर्ण निर्णय लिया।

उन्होंने कहा कि मैंने सदैव माना है कि हमारा लक्ष्य भारत मां और उसके लोगों की सेवा करना है। राजनीति केवल उस लक्ष्य की पूर्ति का माध्यम भर है और कुछ नहीं। उन्होंने कहा कि उनके पिता और 18 वर्ष के राजनीतिक जीवन में उन्होंने प्राणपण और पूरी श्रद्धा से उसी लक्ष्य की पूर्ति के लिए कांग्रेस के माध्यम से काम किया। पर आज जो स्थिति उत्पन्न हुई है, उससे मन दुखी एवं व्यथित है। उन्होंने कांग्रेस के राष्ट्रीय एवं मध्यप्रदेश के नेतृत्व पर कड़ा प्रहार करते हुए कहा कि आज की कांग्रेस वास्तविकता से इनकार करती है और जड़वत हो गई है, जहां नये नेतृत्व को सही मान्यता नहीं मिल सकती है। उन्होंने कहा कि मैं कह सकता हूं कि जनसेवा के लक्ष्य को अब उस संगठन के माध्यम से हासिल नहीं किया जा सकता है। नयी सोच, नये विचार को सही मान्यता नहीं मिलना, जैसे राष्ट्रीय स्तर पर है, वैसे ही मध्यप्रदेश में भी हो गया है।

सिंधिया ने कहा कि मध्यप्रदेश में नवंबर 2018 में कांग्रेस की सरकार बनने पर एक सपना देखा था, जो 18 माह के भीतर बिखर गया है। किसानों के ऋण माफ नहीं हुए, ओलावृष्टि के मुआवजे और बोनस के भुगतान के बारे में कुछ नहीं हुआ। मंदसौर के किसानों पर गोलीकांड के बाद दर्ज मुकदमे नहीं हटे। युवाओं के लिए रोजगार नहीं है, बेरोजगारी भत्ता देने की बात भूल गए। इसके विपरीत राज्य में भ्रष्टाचार का बड़ा वातावरण बन गया है। ट्रांसफर उद्योग और रेत माफिया हावी है। उन्होंने कहा कि जब सत्य के पथ पर मूल्यों के आधार पर चलेंगे तो ही भारत को प्रगति के रास्ते पर चलाया जा सकेगा। उन्होंने भाजपा नेतृत्व को धन्यवाद देते हुए कहा कि उन्हें जनसेवा और राष्ट्रसेवा के लिए मंच प्रदान करने के लिए वह प्रधानमंत्री मोदी, अमित शाह और जेपी नड्डा का आभार व्यक्त करते हैं।

उन्होंने कहा कि देश के इतिहास में दो बार लगातार ऐसा जनादेश किसी भी नेता को नहीं मिला जैसा नरेंद्र मोदी को मिला है। वह एक सक्रिय, क्षमतावान, पूर्ण समर्पित भाव वाली कार्यक्षमता से काम कर रहे हैं। देश का नाम विश्व स्तर पर ले जाने के लिए भविष्य की चुनौतियों को परख कर योजना बनाना और उसे क्रियान्वित करना मोदी की विलक्षण क्षमता है। भारत का भविष्य उनके हाथों में पूरी तरह से सुरक्षित है। सिंधिया ने कहा कि वह प्रधानमंत्री श्री मोदी, गृह मंत्री शाह और नड्डा के दिखाये रास्ते पर चलेंगे। करोड़ों कार्यकर्ता के साथ मिलकर देश के विकास के लिए काम करने का अवसर देने के लिए वह इन नेताओं के प्रति कृतज्ञ हैं। सिंधिया के भाजपा में शामिल होने के अवसर पर केन्द्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान, पार्टी के उपाध्यक्ष एवं मध्यप्रदेश के प्रभारी विनय सहस्रबुद्धे, उपाध्यक्ष वैजयंत पांडा, महासचिव अरुण सिह और अनिल जैन तथा भाजपा की मध्यप्रदेश इकाई के अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा उपस्थित थे। 

यह भी पढ़ें:

वरिष्ठ कांग्रेसी नेता एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री एस. जयपाल रेड्डी का निधन

कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री एस. जयपाल रेड्डी का निधन हो गया है। वह 77 वर्ष के थे। स्थानीय मीडिया के अनुसार रेड्डी बुखार और निमोनिया से पीड़ित थे।

28/07/2019

पश्चिम बंगाल: बीजेपी का चुनावी घोषणा पत्र जारी, सरकार बनने पर पहली कैबिनेट में CAA लागू करने का वादा

भारतीय जनता पार्टी ने पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनावों में अपना परचम लहराने के लिए पूरी ताकत झोंक दी है। रविवार को पार्टी दफ्तर में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बंगाल चुनावों के लिए भाजपा का घोषणा पत्र जारी किया। बीजेपी ने इसका नाम संकल्प पत्र रखा है।

22/03/2021

कोरोना वायरस: देश में संक्रमितों का आंकड़ा पहुंचा 37 लाख के करीब, अब तक 65 हजार से ज्यादा की मौत

देश में कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रकोप के बीच लगातार 5 दिन तक 75 हजार से अधिक नए मामले सामने आने के बाद पिछले 24 घंटों में संक्रमितों की संख्या में अपेक्षाकृत कमी आई और यह 70 हजार से नीचे आ गई। केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक पिछले 24 घंटों में कोरोना संक्रमण के 69,921 नए मामलों के साथ संक्रमितों का आंकड़ा 36,91,167 हो गया है।

01/09/2020

राहुल गांधी का केंद्र पर आरोप, कहा- किसी भी संकट पर मेरी सलाह सुनने को तैयार नहीं

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा है कि सरकार किसी भी संकट को लेकर उनकी चेतावनी पर गौर करने को तैयार नहीं है और देश की जनता को खतरे में डाल रही है।

24/07/2020

हरियाणा में कांग्रेस प्रवक्ता विकास चौधरी की दिनदहाड़े गोली मारकार हत्या

राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के फरीदाबाद में कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता विकास चौधरी की गुरुवार को कुछ अज्ञात हमलावरों ने दिनदहाड़े गोली मारकर हत्या कर दी।

27/06/2019

नीरज शेखर ने ली राज्यसभा की सदस्यता की शपथ

समाजवादी पार्टी छोड़कर हाल ही में भारतीय जनता पार्टी में शामिल हुए नीरज शेखर ने राज्यसभा के सदस्य के रूप में शपथ ली।

12/09/2019

करतारपुर जाने वाले पहले जत्थे में शामिल होंगे मनमोहन सिंह, स्वीकारा कैप्टन अमरिंदर का न्योता

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह 9 नवंबर को करतारपुर साहिब जाने वाले पहले सिख जत्थे में शामिल होंगे और पाकिस्तान के करतारपुर गुरुद्वारा जाएंगे। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने मनमोहन सिंह को इस जत्थे में शामिल होने का न्योता दिया था, जिसे पूर्व प्रधानमंत्री ने स्वीकार कर लिया है।

03/10/2019