Dainik Navajyoti Logo
Thursday 27th of February 2020
 
भारत

भारत-ब्राजील के बीच 15 समझौतों पर हस्ताक्षर, मोदी ने ब्राजील को बताया एक महत्वपूर्ण साझीदार

Saturday, January 25, 2020 16:20 PM
ब्राजील के राष्ट्रपति जायर बोलसोनारो और पीएम नरेंद्र मोदी हाथ मिलाते हुए।

नई दिल्ली। भारत और ब्राजील ने जैविक ईंधन और देसी गायों की प्रजाति के संवर्धन समेत परस्पर सहयोग के 15 समझौतों एवं संधि पर शनिवार को हस्ताक्षर किए तथा अपनी रणनीतिक साझेदारी को विस्तार देने के उद्देश्य से एक वृहद् कार्ययोजना की घोषणा की। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और ब्राजील के राष्ट्रपति जायर बोलसोनारो ने हैदराबाद हाउस में द्विपक्षीय बैठक में ये फैसले किए। इस दौरान विदेश मंत्री एस. जयशंकर के अलावा पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल भी मौजूद रहे। दोनों देशों में पेट्रोलियम पदार्थों में एथेनॉल के मिश्रण संबंधी प्रौद्योगिकी के हस्तांतरण एवं भारत में बायो एनर्जी संस्थान की स्थापना, तेल एवं प्राकृतिक गैस के उत्खनन, आपराधिक मामलों में विधिक सहयोग, स्वास्थ्य एवं औषधि, आयुर्वेद एवं होम्योपैथी, सांस्कृतिक आदान प्रदान, साइबर सुरक्षा, वैज्ञानिक एवं तकनीकी सहयोग, भूगर्भविज्ञान एवं खनिज संसाधन, पशुपालन एवं डेयरी के समझौतों पर हस्ताक्षर किए गए। साथ ही दोनों देशों ने निवेश सहयोग एवं सुविधा संधि तथा निवेश एवं व्यापार संवर्धन एजेंसी के गठन के समझौते पर भी दस्तखत किए।

बैठक के बाद मीडिया से बात करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि भारत और ब्राजील की रणनीतिक साझेदारी हमारी समान विचारधारा और मूल्यों पर आधारित है। भौगोलिक दूरी के बावजूद हम विश्व के अनेक मंचों पर साथ हैं और विकास में एक-दूसरे के महत्वपूर्ण साझीदार भी हैं। इसलिए राष्ट्रपति बोलसोनारो के साथ हमारी बैठक में हमारी रणनीतिक साझेदारी को और मजबूत करने के लिए एक वृहद् कार्ययोजना तैयार की गई है। वर्ष 2023 में दोनों देशों के बीच राजनयिक संबंधों की प्लैटिनम जयंती होगी, तब तक यह कार्ययोजना हमारी रणनीतिक साझेदारी, जनता के बीच संबंधों और व्यापारिक सहयोग को और गहरा बनाएगी। मोदी ने कहा कि हमने आज कई महत्वपूर्ण समझौते किए हैं। निवेश हो या आपराधिक मामलों में कानूनी सहायता ये समझौते हमारे सहयोग को नया आधार देंगे। बायो एनर्जी, पशुनस्ल सुधार, स्वास्थ्य एवं पारंपरिक औषधि, साइबर सुरक्षा, विज्ञान और प्रोद्योगिकी, तेल और गैस तथा संस्कृति में हमारा सहयोग और तेज से आगे बढ़ेगा।

प्रधानमंत्री ने कहा कि गायों की स्वस्थ और उन्नत प्रजातियों पर सहयोग हमारे संबंधों का एक अनूठा और सुखद पहलू है। किसी समय भारत से गीर और कंकरेजी गायें ब्राजील गईं थीं। आज ब्राजील और भारत इस विशेष पशुधन को बढ़ाने और उससे मानवता को लाभ पहुंचाने पर सहयोग कर रहे है। इस सहयोग के आर्थिक, सामाजिक और सांस्कृतिक महत्व को किसी भी भारतीय के लिए शब्दों में बयान कर पाना मुश्किल है। मोदी ने कहा कि परंपरागत क्षेत्रों के अलावा कई नए क्षेत्र भी हमारे संबंधों में जुड़ रहे हैं। हम रक्षा उद्योगों में सहयोग को बढ़ाने के लिए नए तरीकों पर विचार कर रहे हैं। रक्षा सहयोग में हम वृहद् साझेदारी चाहते हैं। इन संभावनाओं को देखते हुए हमें खुशी है कि अगले महीने लखनऊ में डेफेक्सपो 2020 में ब्राजील का एक बड़ा प्रतिनिधमंडल भाग लेगा। बायो एनर्जी, आयुर्वेद और एडवांस कंप्यूटिंग पर शोध में सहयोग बढ़ाने पर हमारे शिक्षाविदों और शोध संस्थानों के बीच सहमति बनी है।

मोदी ने कहा कि भारत के आर्थिक बदलाव में ब्राजील एक महत्वपूर्ण साझीदार है। खाद्य और ऊर्जा के क्षेत्रों में हमारी आवश्यकताओं के लिए हम ब्राजील को एक विश्वसनीय स्रोत के रूप में देखते हैं। हमारा द्विपक्षीय व्यापार हालांकि बढ़ रहा है। दोनों बड़ी अर्थव्यवस्थाओं के बीच सेतु को देखते हुए हम इसे बहुत अधिक बढ़ा सकते हैं। उन्होंने विश्वास जताया कि बोलसोनारों के साथ आए ब्राजील के प्रभावशाली कारोबारी समूह और भारतीय उद्यमियों एवं व्यापारियों के बीच मुलाकातों के अच्छे परिणाम आएंगे। उन्होंने कहा कि दोनों देशों की ओर से निवेश को सुगम बनाने के लिए आवश्यक कानूनी ढांचा तैयार किया गया है। आज के विश्व में भारत और ब्राजील के बीच सामाजिक सुरक्षा करार पेशेवरों के आसान आवागमन के लिए एक महत्वपूर्ण कदम है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि दो बड़े लोकतांत्रिक और विकासशील देश होने के नाते महत्वपूर्ण वैश्विक और बहुपक्षीय मुद्दों पर भारत और ब्राजील के विचारों में गहरी समानता है, इनमें चाहे आतंकवाद की गंभीर समस्या हो या पर्यावरण का प्रश्न। विश्व के सामने मौजूदा कठिन चुनौतियों पर हमारा नजरिया बहुत मिलता-जुलता है। ब्राजील और भारत के हित समान है। विशेष रूप से ब्रिक्स और इब्सा में हमारी साझीदारी भारत की विदेश नीति का एक महत्वपूर्ण पहलू है। आज हमने तय किया है कि दोनों देश बहुपक्षीय मुद्दों पर अपने सहयोग को और दृढ़ बनाएंगे और हम सुरक्षा परिषद, संयुक्त राष्ट्र और अन्य अंतर्राष्ट्रीय संगठनों में आवश्यक सुधार के लिए मिलकर प्रयासरत रहेंगे।

इससे पहले विदेश मंत्री डॉ. जयशंकर ने ब्राजील के राष्ट्रपति जायर बोलसोनारो से भेंट की और दोनों देशों के संबंधों को सशक्त बनाने के विषय पर बातचीत की। देश के 71वें गणतंत्र दिवस के समारोह के मुख्य अतिथि के रूप से जायर बोलसोनारो शुक्रवार शाम को भारत पहुंचे थे। इस दौरान विदेश राज्य मंत्री वी मुरलीधरन ने उनका गर्मजोशी से स्वागत किया था। बोलसोनारो का सबसे पहले राष्ट्रपति भवन के प्रांगण में रस्मी स्वागत किया गया। इस मौके पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी उपस्थित थे। बाद में बोलसोनारो राजघाट गए और राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की समाधि पर श्रद्धासुमन अर्पित किए।

यह भी पढ़ें:

विस्थापित पंडितों को दोबारा कश्मीर में बसाने के लिए सराकर प्रतिबद्ध : माधव

बीजेपी कश्मीर से विस्थापित पंडितों को फिर से वहां बसाने के प्लान पर आगे काम करेगी। बीजेपी महासचिव राम माधव ने कहा कि उनकी पार्टी विस्थापित पंडितों को दोबारा बसाने को लेकर प्रतिबद्ध है।

13/07/2019

तावी नदी में फंसे लोगों को वायु सेना के जवानों ने बचाया

जम्मू-कश्मीर में तावी नदी का जल स्तर अचानक बढ़ गया। अचानक नदी का बहाव तेज होने के कारण 2 लोग एक पुल पर फंस गए। जानकारी मिलने पर वायु सेना ने हेलकॉप्टर के जरिए दोनों को रेस्क्यू किया।

19/08/2019

साइरस मिस्त्री बहाली मामला: सुप्रीम कोर्ट ने NCALT के आदेश पर लगाई रोक

सुप्रीम कोर्ट ने टाटा संस को बड़ी राहत दी है। कोर्ट साइरस मिस्त्री को टाटा सन्स के कार्यकारी अध्यक्ष के पद पर बहाल किए जाने के राष्ट्रीय कंपनी कानून अपीलीय न्यायाधिकरण के आदेश पर शुक्रवार को रोक लगा दी।

10/01/2020

इसरो का बयान, चांद पर सलामत है लैंडर, संपर्क के प्रयास जारी

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन ने कहा कि चंद्रयान-2 के लैंडर विक्रम से अभी संपर्क नहीं हो पाया है, लेकिन इसके लिए लगातार प्रयास किये जा रहे हैं।

10/09/2019

निर्भया केस: दोषियों की फांसी टालने के फैसले को चुनौती, हाईकोर्ट ने सुरक्षित रखा निर्णय

दिल्ली हाईकोर्ट ने निर्भया मामले के दोषियों को जल्द-से-जल्द फांसी पर लटकाने की मांग वाली केंद्र सरकार की याचिका पर सुनवाई के बाद फैसला सुरक्षित रख लिया। कोर्ट ने कहा कि सभी पक्षों द्वारा अपनी दलीलें पूरी किए जाने के बाद आदेश पारित करेगी।

03/02/2020

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का लिट्‌टी-चोखा प्रेम, हुनर हाट में चखा स्वाद, चाय पर की चर्चा

हुनर हाट विजिट के दौरान मोदी ने बिहार के प्रसिद्ध व्यंजन लिट्‌टी-चोखा का स्वाद लिया और मिट्‌टी कुल्हड़ मे चाय पीकर लोगों से चर्चा भी की।

19/02/2020

अब वाहनों पर होगी सरकार की नजर : गडकरी

मालवाहनों के लिए बिना रुके टोल भुगतान की फास्टैग सुविधा को जीएसटी ई-वे बिल प्रणाली से जोड़ने के लिए भारतीय राजमार्ग प्रबंधन कंपनी लिमिटेड और माल और सेवा कर नेटवर्क ने समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किया।

15/10/2019