Dainik Navajyoti Logo
Friday 14th of May 2021
 
भारत

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के सार्वजनिक स्थानों को कीटाणुमुक्त करने के दिशानिर्देश जारी

Monday, March 30, 2020 16:00 PM
फाइल फोटो।

नई दिल्ली। केंद्र सरकार ने कोरोना वायरस के मद्देनजर कार्यालयों सहित आम सार्वजनिक स्थानों को कीटाणुमुक्त करने के दिशानिर्देश जारी किए हैं। चूंकि वायरस अलग-अलग समय तक वस्तुओं पर जीवित रहता है, इसलिए इसे मारने के लिए रसायनों के साथ इसे कीटाणुरहित करना जरूरी हो जाता है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के दिशानिर्देशों के अनुसार सेमिनार हॉल सहित कार्यालयों के सभी स्थानों को सुबह और शाम को साफ किया जाना चाहिए।

केंद्रीय मंत्रालय के दिशा-निर्देशों में कहा गया है, अगर संपर्क वाली सतह भी गंदी दिखाई देती है तो उसे कीटाणुशोधन से पहले साबुन और पानी से साफ किया जाना चाहिए। साथ ही श्रमिकों को भी काम करते समय डिस्पोजेबल रबर के जूते, दस्ताने और तीन परतों वाला मास्क पहनने के लिए निर्देशित किया गया है। चूंकि बाहरी क्षेत्रों में हवा और सूर्य की रोशनी के कारण घर के अंदर की तुलना में कम जोखिम होता है, ऐसे में कीटाणुशोधन के प्रयासों में केवल बार-बार छुए जाने वाली गंदी सतहों पर ही फोकस किया जाना चाहिए। निर्देश में कहा गया है, इसमें बस स्टॉप, रेलवे प्लेटफॉर्म, पार्क और सड़कें शामिल हैं।

इसके साथ ही दिशानिर्देशों में कहा गया है कि सार्वजनिक शौचालयों की सफाई के लिए, सफाई कर्मचारियों को शौचालय, सिंक और कमोड के लिए अलग-अलग सफाई उपकरणों का उपयोग करना चाहिए। इन जगहों पर मोप्स, नायलॉन स्क्रबर के अलग-अलग सेट उपयोग में लाया जाना चहिए। साथ ही श्रमिकों को शौचालय की सफाई करते समय हमेशा डिस्पोजेबल सुरक्षात्मक दस्तानें पहनने चाहिए।

बुजुर्गों को सर्वाधिक खतरा होने को लेकर कोरोना से बचाव के लिए केंद्र सरकार के स्वास्थ्य मंत्रालय ने परामर्श जारी किया है। मंत्रालय द्वारा जारी किए गए स्वास्थ्य परामर्श में बताया गया है कि इस वायरस के संक्रमण से बचने के लिये बुजुर्गों को क्या करना चाहिए और क्या नहीं करना चाहिए।
 

  • उम्रदराज लोगों को संक्रमण से बचाव के सभी संभव उपाय अपनाते हुये घर पर ही नियमित रूप से व्यायाम करने की सलाह दी गई है। साथ ही घर पर रहते हुये भी संक्रमण का खतरा कम करने के लिए उन्हें नियमित अंतराल पर साबुन से हाथ और चेहरा धोते रहना चाहिए।
  • घर से बाहर नहीं निकलने के परामर्श का सख्ती से पालन करते हुये बुजुर्गों को बाहर से आने वाले लागों से नहीं मिलने को कहा गया है। अगर आगंतुकों से मिलना बहुत जरूरी हो तो कम से कम एक मीटर की दूरी बना कर मिलना सुरक्षित होगा।
  • बुजुर्गों को घर में बना ताजा पोषण युक्त आहार लेना चाहिए। उन्हें गर्म खाना खाने, बार बार पानी पीने और नियमित तौर पर ताजे फलों का रस पीने की सलाह दी गई है।
  • उम्रदराज लोगों से पहले से चल रही दवाओं का नियमित रूप से सेवन करना चाहिए। मोतियाबिंद, घुटना प्रत्यारोपण जैसी शल्य चिकित्सा को फिलहाल टालने का परामर्श दिया गया है।
  • बुजुर्गों को सर्दी-जुकाम, खांसी या बुखार से पीड़ित लोगों के पास नहीं जाना चाहिए। बुजुर्गों को बुखार, जुकाम या सांस लेने में तकलीफ की समस्या होने पर तत्काल नजदीकी चिकित्सा सेवा से संपर्क करना चाहिए।
यह भी पढ़ें:

पुरुलिया में पीएम मोदी का TMC पर हमला, कहा- दीदी बोले खेला होबे और भाजपा बोले सोनार बांग्ला होबे

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पुरुलिया में एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कहा कि पश्चिम बंगाल में टीएमसी के दिन अब गिनती के रह गए हैं और ये बात ममता दीदी भी अच्छी तरह समझ रही हैं, इसलिए वो कह रही हैं, खेला होबे। 10 साल के तुष्टिकरण के बाद, लोगों पर लाठियां-डंडे चलवाने के बाद, अब ममता दीदी अचानक बदली-बदली सी दिख रही हैं। ये हृदय परिवर्तन नहीं है, ये हारने का डर है।

18/03/2021

देश में बढ़ सकता है लॉकडाउन, राज्यों के अनुरोध पर विचार कर रही है केंद्र सरकार

देश में कोरोना वायरस के चलते 14 अप्रैल तक 21 दिनों का लॉकडाउन लागू है। बावजूद इसके कोरोना संक्रमण के मामले लगातार निकल कर सामने आ रहे हैं। ऐसे में पहले से ही कई विशेषज्ञों की राय थी कि लॉकडाउन को बढ़ाया जाना चाहिए। अब खबर है कि कई राज्य सरकारों ने भी केंद्र सरकार से आग्रह किया है कि लॉकडाउन को बढ़ाया जाए। सरकार इस दिशा में विचार कर रही है।

07/04/2020

गुजरात में करीब 10 महीने बाद फिर खुले स्कूल और कॉलेज, पहले दिन स्टूडेंट्स में दिखा उत्साह

गुजरात में सोमवार से स्कूलों में कक्षा 10वीं, 12वीं और कॉलेज तथा विश्वविद्यालयों में स्नातक और स्नातकोत्तर के अंतिम वर्ष का शैक्षणिक कार्य शुरू हो गया, हालांकि छात्रों के लिए उपस्थिति अनिवार्य नहीं रखी गई है। राज्य के अहमदाबाद, सूरत, राजकोट और वडोदरा समेत सभी स्थानों पर ये कक्षाएं फिर शुरू हो गई। पहले दिन स्कूल पहुंचने पर बच्चों में खासा उत्साह नजर आया।

11/01/2021

MEA ने किसान आंदोलन पर विदेश से टिप्पणियों को बताया गैरजिम्मेदाराना, कहा- पहले तथ्यों को समझें

भारत ने अंतरराष्ट्रीय हस्तियों द्वारा किसान आंदोलन की लेकर की गई टिप्पणियों को गैरजिम्मेदाराना करार दिया है और उन्हें सलाह दी है कि ऐसे आंदोलन भारत की लोकतांत्रिक राजनीति के संदर्भ में देखे जाने चाहिए और कोई भी टिप्पणी करने से पहले तथ्यों को अच्छे से समझना चाहिए।

03/02/2021

अब चुनावी रणनीति नहीं बनाएंगे प्रशांत किशोर, सच हुई भविष्यवाणी फिर भी लिया संन्यास

पश्चिम बंगाल में इस बार हैट्रिक जीत की ओर बढ़ रही ममता बनर्जी की टीएमसी की चुनावी प्रचार से लेकर रणनीति बनाने तक में अहम भूमिका निभाने वाले प्रशांत किशोर अब चुनावी रणनीतिकार के रूप में काम नहीं करेंगे। बंगाल में भाजपा 100 के अंक छूने से काफी पीछे है, बावजूद इसके पश्चिम बंगाल चुनाव में तृणमूल कांग्रेस के रणनीतिकार रहे प्रशांत किशोर ने चुनावी कामकाज को छोड़ने का ऐलान कर दिया है।

02/05/2021

राहुल-प्रियंका का मोदी सरकार पर हमला, कहा- किसानों को पूंजीपतियों का गुलाम बना देगा नया कृषि कानून

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी तथा पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने संसद के मानसून सत्र में पारित कृषि संबंधी विधेयक को लेकर शुक्रवार को मोदी सरकार पर हमला करते हुए कहा कि इस कानून के जरिए किसानों को पूंजीपतियों का गुलाम बनाने की व्यवस्था की गई है।

25/09/2020

मणिपुर में 3 बीजेपी विधायकों के इस्तीफ से राजनीतिक संकट, कांग्रेस को सरकार बनाने का भरोसा

मणिपुर में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के 3 विधायकोें के इस्तीफे से सरकार के सामने आसन्न राजनीति संकट के बीच कांग्रेस ने अपनी सरकार बनाने का भरोसा जताया है। कांग्रेस नेता एवं पूर्व मुख्यमंत्री ओ. इबोबी सिंह ने कहा कि उनकी पार्टी राज्यपाल डॉ. नजमा हेपतुल्लाह से बीरेन सिंह सरकार को सदन में बहुमत साबित करने का आदेश देने के लिए गुजारिश करेगी।

18/06/2020