Dainik Navajyoti Logo
Saturday 6th of March 2021
 
भारत

जम्मू-कश्मीर: विदेशी राजनयिकों ने मेयर समेत विभिन्न वर्गों से की मुलाकात, जमीनी हालात का लिया जायजा

Thursday, February 18, 2021 09:35 AM
विदेशी राजनयिकों ने जानी जमीनी हकीकत।

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के जमीनी हालात का आकलन करने के लिए 23 विभिन्न देशों के राजदूतों ने अपने दो-दिवसीय दौरे के दौरान बुधवार को श्रीनगर के मेयर जुनैद जीम मट्टू और जिला विकास परिषद (डीडीसी) के नवनिर्वाचित सदस्यों एवं नगर निकायों के सदस्यों से मुलाकात की। केंद्र की ओर से 5 अगस्त, 2019 को अनुच्छेद 370 और 35 (ए) के अधिकांश प्रावधानों को समाप्त किये जाने, जम्मू-कश्मीर को दो केंद्र शासित प्रदेशों में विभाजित किए जाने तथा तीन पूर्व मुख्यमंत्रियों फारूक अब्दुल्ला, उमर अब्दुल्ला तथा महबूबा मुफ्ती समेत सभी मुख्यधारा के नेताओं को हिरासत में लिए जाने के बाद विभिन्न देशों के दूतों का यह चौथा दौरा है।

घाटी में कड़ी सुरक्षा
अधिकारियों ने बताया कि श्रीनगर अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर पहुंचने के बाद, 23 सदस्यीय विदेशी प्रतिनिधिमंडल को मध्य कश्मीर के बडगाम जिले के एक सरकारी कॉलेज में ले जाया गया, जहां उन्हें पंचायत और डीडीसी सहित स्थानीय निकायों के सुदृढ़ीकरण के बारे में जानकारी दी गई। उन्होंने कहा कि उच्च स्तरीय प्रतिनिधिमंडल की यात्रा के मद्देनजर श्रीनगर शहर और कश्मीर घाटी के अन्य हिस्सों में सुरक्षा बढ़ा दी गई है।

विकास संबंधी मुद्दों पर चर्चा हुई: नजीर अहमद
बडगाम डीडीसी के अध्यक्ष नजीर अहमद खान ने कहा कि सदस्यों ने प्रतिनिधिमंडल के साथ विकास संबंधी विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की। खान ने प्रतिनिधिमंडल के साथ बातचीत के बाद कहा कि हमें निर्वाचित हुए एक महीना हो गया है और यह एक बड़ा सम्मान है कि हमें विदेशी प्रतिनिधिमंडल से मिलने का मौका मिला। हमने प्रतिनिधिमंडल को अपनी विकास योजनाओं पर किए गए काम और प्रगति की जानकारी दी। उन्होंने विदेशी प्रतिनिधिमंडल की प्रतिक्रिया को सकारात्मक बताया और कहा कि हमने केवल विकास पर चर्चा की और कुछ नहीं किया।

इन देशों के प्रतिनिधि शामिल

इस प्रतिनिधिमंडल में आयरलैंड, फ्रांस, मलेशिया, ब्राजील, इटली, फिनलैंड, नीदरलैंड, बेल्जियम, स्पेन, स्वीडन, सेनेगल, क्यूबा, चिली, पुर्तगाल, ताजिकिस्तान, किर्गिस्तान, घाना, एस्टोनिया, बोलीविया, मलावी, इरिट्रिया, आइवरी कोस्ट और बांग्लादेश के प्रतिनिधि शामिल हैं।

यह भी पढ़ें:

सुप्रीम कोर्ट ने कोयला खदान नीलामी मामले में झारखंड की याचिका पर केंद्र से किया जवाब तलब

सुप्रीम कोर्ट ने कोयला खदानों की नीलामी के केंद्र के फैसले को चुनौती देने वाली झारखंड सरकार की याचिका पर मंगलवार को केंद्र सरकार से जवाब तलब किया। राज्य सरकार ने दलील दी कि केंद्र सरकार ने बगैर किसी सलाह-मशविरे के ही एकपक्षीय निर्णय लेकर कोयला ब्लॉकों की नीलामी की है, जो अनुचित है।

14/07/2020

MP के मंत्री के बिगड़े बोल, कहा- सड़कों का हाल जैसे विजयवर्गीय के गाल, हेमा मालिनी के गालों जैसी बनाएंगे

मध्य प्रदेश सरकार में जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा ने राज्य की सड़कों को लेकर विवादित बयान दिया है। उन्होंने प्रदेश की गड्ढा युक्त सड़कों को विपक्षी बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय के गालों जैसा बताते हुए कहा कि हम 15-20 दिन में इन्हें चका-चक कर देंगे और सड़कें हेमा मालिनी के गाल जैसी हो जाएंगी।

16/10/2019

दिल्ली में विश्वविद्यालयों की सभी परीक्षाएं रद्द

दिल्ली सरकार ने कोविड-19 महामारी को देखते हुए शनिवार को बड़ा फैसला करते हुए उसके अधीन किसी राज्य विश्वविद्यालयों में फिलहाल वार्षिक परीक्षा सहित सभी परीक्षाओं को रद्द कर दिया है।

11/07/2020

मनमोहन सिंह का केंद्र सरकार पर हमला, बोले- नोटबंदी और GST के कारण आई आर्थिक मंदी

पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह ने देश की अर्थव्यवस्था में गिरावट को लेकर मोदी सरकार पर तीखा हमला करते हुए कहा कि भारतीय अर्थव्यवस्था में आगे बढ़ने की क्षमता है, लेकिन मोदी सरकार के आर्थिक कुप्रबंधन के परिणामस्वरूप देश मंदी से जूझ रहा है।

01/09/2019

RML अस्पताल में कोरोना संक्रमण के संदेह में 5 और लोग भर्ती, जांच के लिए भेजे नमूने

दिल्ली के राम मनोहर लोहिया अस्पताल में चीन से आए 5 लोगों को कोरोना वायरस से संक्रमित होने के संदेह में भर्ती कराया गया है। अस्पताल प्रशासन ने बताया कि जांच के लिए सभी मरीजों के नमूने भेज दिए गए है और उनकी रिपोर्ट की प्रतीक्षा की जा रही है।

31/01/2020

शिवसेना ने 2014 में भी कांग्रेस को दिया था सरकार बनाने का प्रस्ताव: चव्हाण

शिवसेना और एनसीपी ने 2014 के विधानसभा चुनाव के बाद भाजपा को रोकने के लिए मिलकर सरकार बनाने का प्रस्ताव दिया था। हालांकि, कांग्रेस ने उस समय इससे इनकार कर दिया था। यह खुलासा कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चव्हाण ने किया।

20/01/2020

पश्चिम बंगाल में कांग्रेस और वामपंथी दल मिलकर लड़ेंगे विधानसभा चुनाव, हाईकमान की हरी झंडी

पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव के होने वाले चुनाव में कांग्रेस और वामपंथी दल मिलकर चुनाव लड़ेंगे। लोकसभा में कांग्रेस के नेता एवं पश्चिम बंगाल इकाई के अध्यक्ष अधीर रंजन चौधरी ने गुरुवार को ट्वीट कर इसकी घोषणा की।

24/12/2020