Dainik Navajyoti Logo
Thursday 17th of June 2021
 
भारत

चक्रवात अम्फान: ओडिशा सरकार ने 12 जिलों में जारी किया अलर्ट

Sunday, May 17, 2020 17:05 PM
फाइल फोटो।

भुवनेश्वर। ओडिशा सरकार ने रविवार को चक्रवाती तूफान अम्फान के मद्देनजर तटवर्ती इलाकों के 12 जिलाधिकारियों को तूफान में फंसने वाले लोगों को निकालने के लिए अलर्ट जारी किया है। यह चक्रवाती तूफान दक्षिण-पूर्व बंगाल की खाड़ी के ऊपर भीषण रूप ले रहा है। विशेष राहत आयुक्त (एसआरसी) प्रदीप कुमार जेना ने मीडिया को बताया कि भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) की चक्रवाती तूफान अम्फान के विस्तृत जानकारी के बाद तूफान में फंसने वालों लोगों को निकालने पर अंतिम निर्णय लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि सरकार ने चक्रवाती तूफान के प्रभावित जिले से करीब 11 लाख लोगों को निकालने की तैयारी कर ली है। लेकिन चक्रवाती तूफान अम्फान के आगे बढ़ने पर आईएमडी के निर्देश का इंतजार कर रहे हैं।      

जेना ने कहा ओडिशा किसी भी घटना से निपटने के लिए तैयार है और खासकर उत्तर और तटीय ओडिशा के जिलों में पहले से ही तूफान संभावित क्षेत्रों में राष्ट्रीय आपदा मोचन बल और ओडिशा राहत मोचन बल की यूनिटों को तैनात कर दिया गया है। उन्होंने लोगों से नहीं घबराने की अपील की क्योंकि चक्रवाती तूफान अम्फान के पश्चिम बंगाल में सागर द्वीप और बांग्लादेश में हटिया द्वीप के बीच टकराने की संभावना है। अगले 24 घंटों के दौरान तूफान के उत्तर की ओर बढ़ने की संभावना है और फिर उत्तर-पश्चिम बंगाल की खाड़ी में उत्तर-पूर्व की ओर मुड़ने और 20 मई को तेजी से बढ़ता हुआ चक्रवाती तूफान पश्चिम बंगाल के सागर द्वीपों और बांग्लादेश के हटिया द्वीप समूह के बीच शाम तक पार कर सकता है।

जेना ने कहा कि हालांकि हमने 12 जिलों को अलर्ट किया है, लेकिन भद्रक, बालासोर, जगतसिंघौर और केंद्रपाड़ा जैसे चार जिलों में चक्रवाती तूफान का असर अधिक गंभीर हो सकता है। एसआरसी ने कहा कि कुछ स्थानों पर आश्रय घरों को कोविड-19 महामारी के लिए क्वारेंटाइन केंद्र में बदल दिया गया है, फिर भी 542 आश्रय हैं जिन्हें कोरोना मामलों के लिए उपयोग नहीं किया जा रहा है। उन्होंने कहा  चक्रवाती तूफान अम्फान की चपेट में आने वाले जिलों के कलेक्टरों ने पहले ही 1072 भवनों की पहचान की है जिन्हें आश्रय घरों के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है।

परफेक्ट जीवनसंगी की तलाश? राजस्थानी मैट्रिमोनी पर निःशुल्क  रजिस्ट्रेशन करे!

यह भी पढ़ें:

संगठित क्षेत्र में रोजगार को प्रोत्साहन देगी सरकार, आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना को दी मंजूरी

संगठित क्षेत्र में रोजगार को प्रोत्साहन देने के लिए केंद्र सरकार ने 22 हजार 810 करोड़ रुपए की 'आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना' को मंजूरी दी है जिससे 15000 रुपए मासिक से कम वेतन पाने वाले कर्मचारियों को लाभ होगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में बुधवार को हुई केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक में इस आशय के प्रस्ताव का अनुमोदन किया गया।

09/12/2020

भारतीय कृषि कोष किया जा रहा तैयार : मोदी

षमतावान और सामर्थ्यवान बनने में पोषण की भूमिका अत्यंत महत्वपूर्ण है। इसी कारण राष्ट्र और पोषण के बीच बहुत गहरा संबंध होता है।

30/08/2020

तेज बहादुर की याचिका सुप्रीम कोर्ट में खारिज

उच्चतम न्यायालय ने वाराणसी सीट से पर्चा रद्द किये जाने के खिलाफ सीमा सुरक्षा बल के बर्खास्त जवान तेज बहादुर यादव की याचिका गुरुवार को खारिज कर दी।

09/05/2019

राहुल गांधी ने साधा निशाना, कहा- फिर साबित हुआ फेसबुक पर है बीजेपी-आरएसएस का नियंत्रण

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने फेसबुक को लेकर अमेरिकी अखबार वॉल स्ट्रीट जर्नल में छपी एक खबर का हवाला देते हुए कहा कि यह फिर सिद्ध हो गया है कि फेसबुक भारत में स्वच्छंद नहीं बल्कि भाजपा-आरएसएएस के दबाव में काम करता है।

14/12/2020

BSNL को पैकेज देने पर विचार कर रही है सरकार: रविशंकर प्रसाद

सरकार भारत संचार निगम लिमिटेड की आर्थिक स्थिति को सु²ढ करने को लेकर एक पैकेज देने पर विचार कर रही है।

04/07/2019

गुवाहाटी में ग्रेनेड हमला, 12 घायल

असम के गुवाहाटी में बुधवार रात व्यस्त आरजी बरुआ रोड पर एक शॉपिंग मॉल के सामने ग्रेनेड विस्फोट में सशस्त्र सीमा बल के दो जवानों समेत कम से कम 12 लोग घायल हो गए जिनमें से एक की हालत गंभीर है।

15/05/2019

कोरोना काल में यात्रियों की कमी, लखनऊ-नई दिल्ली तेजस एक्सप्रेस आज से अगले आदेश तक बंद

देश की पहली कॉर्पोरेट ट्रेन लखनऊ से दिल्ली के बीच चलने वाली तेजस एक्सप्रेस को सोमवार से अगले आदेश तक के लिए बंद कर दिया गया है। तेजस का संचालन आईआरसीटीसी के जिम्मे था। रेलवे सूत्रों ने बताया कि किराया ज्यादा होने के कारण यात्री इस ट्रेन से टिकट बुक नहीं करा रहे हैं, ऐसे में यात्रियों के अभाव में इसे बंद कर दिया गया है।

23/11/2020