Dainik Navajyoti Logo
Wednesday 3rd of March 2021
 
भारत

कांग्रेस ने जेएनयू में हिंसा को बताया सरकार प्रायोजित, मायावती-अखिलेश ने की न्यायिक जांच की मांग

Monday, January 06, 2020 13:55 PM
रणदीप सिंह सुरजेवाला, मायावती और अखिलेश यादव।

नई दिल्ली। कांग्रेस ने जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी (जेएनयू) में हिंसा के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह को जिम्मेदार ठहराया और आरोप लगाया कि इस तरह से सरकार प्रायोजित हिंसा कर विश्वविद्यालयों में डर का माहौल पैदा किया जा रहा है। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा कि दुनिया में भारत की छवि एक उदार लोकतांत्रिक देश की है। मोदी-शाह के गुंडे विश्वविद्यालयों में तोड़फोड़ कर रहे हैं और अपने उज्ज्वल भविष्य की तैयारियों में जुटे छात्रों में भय पैदा किया जा रहा है।

कांग्रेस संचार विभाग के प्रमुख रणदीप सुरजेवाला ने भी मीडिया से कहा कि जेएनयू में बीती रात सरकार प्रायोजित हिंसा हुई जो मोदी-शाह के इशारे पर हुई है। उन्होंने कहा कि इस हमले में छात्रों को ही नहीं बल्कि अध्यापकों को भी पीटा गया, जिसमें प्रोफेसर सावंत शुक्ल, प्रो. सुचित्रा सेन, प्रो. अतुल सूद, प्रो. एस मजूमदार सहित कई लोग घायल हो गए। कांग्रेस नेता उदित राज ने कहा कि उन्होंने हिंसा के इस मंजर को नजदीक से देखा है। हमलावर 'वामपंथियो को मारो' जैसी बातें कर रहे थे। उदित राज ने दावा किया कि उनके पास घटना का वीडियो भी है।

मायावती, अखिलेश ने की न्यायिक जांच की मांग
बहुजन समाज पार्टी और समाजवादी पार्टी ने जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी में हिंसा में छात्र-छात्राओं के साथ शिक्षकों के भी घायल होने की घटना को शर्मनाक बताया है और इसकी न्यायिक जांच की मांग की है। बहुजन समाज पार्टी की मुखिया मायावती और समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने सोमवार को ट्वीट कर इसे शर्मनाक कहा और न्यायिक जांच की मांग की।  

बसपा अध्यक्ष ने कहा कि जेएनयू में छात्रों व शिक्षकों के साथ मारपीट अति-निन्दनीय व शर्मनाक है। इस घटना को केंद्र सरकार को हर स्तर पर गंभीरता से लेना चाहिए, इसके साथ ही इस घटना की न्यायिक जांच हो जाए तो यह बेहतर होगा। सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि जेएनयू में जिस तरह नकाबपोश अपराधियों ने छात्रों और शिक्षकों पर हमला किया वो बेहद निंदनीय है। इसकी तत्काल उच्च स्तरीय न्यायिक जांच होनी चाहिए।

यह भी पढ़ें:

लोक आस्था के महापर्व छठ के खरना करने की है परम्परा

बिहार में लोकआस्था के चार दिवसीय महापर्व छठ के दूसरे दिन राजधानी पटना सहित राज्य के विभिन्न इलाकों में छठ की छटा छाई हुयी है।

02/11/2019

जम्मू-कश्मीर: बडगाम में CRPF टीम पर ग्रेनेड हमला, 2 जवान और 4 नागरिक घायल

जम्मू-कश्मीर में आतंकियों द्वारा लगातार तीसरे दिन सुरक्षाबलों को निशाना बनाया गया है। आतंकियों ने बडगाम जिले के पाखेरपोरा एरिया में सुरक्षाबलों पर ग्रेनेड से अटैक कर दिया। हमले में सीआरपीएफ की 181वीं बटालियन के 2 जवान और चार स्थानीय नागरिक घायल हो गए।

05/05/2020

देश में कोरोना वायरस के सक्रिय मामले घटकर पहुंचे 6 लाख से नीचे, रिकवरी रेट 91 प्रतिशत के पार

पिछले 24 घंटों के दौरान कोरोना संक्रमण के नए मामलों की तुलना में ठीक होने वाले लोगों की संख्या अधिक होने के कारण देश में सक्रिय मामलों की संख्या 6 लाख के नीचे पहुंच गई है तथा रिकवरी रेट 91 फीसदी से अधिक हो गई है।

30/10/2020

उत्तर प्रदेश के 16 लाख से ज्यादा कर्मचारियों को झटका, सरकार ने डीए पर लगाई रोक

कोरोना वायरस महामारी और लगातार लॉकडाउन के मद्देनजर उत्तर प्रदेश सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। प्रदेश सरकार ने भी केंद्र की तरह अपने कर्मचारियों का जनवरी से प्रस्तावित महंगाई भत्ता व पेंशनरों का महंगाई राहत रोकने का ऐलान किया है। इसके साथ ही सरकार ने 6 तरह के भत्ते भी स्थगित कर दिए हैं।

25/04/2020

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने रखी नए 'थलसेना भवन' की आधारशिला, 5 साल में पूरा होगा निर्माण

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने शुक्रवार को दिल्ली छावनी में नये एवं विशाल 'थल सेना भवन' की आधारशिला रखी, जिसमें थल सेना के सभी विभागों के मुख्यालयों को जगह मिल सकेगी।

21/02/2020

भारत में कोरोना वायरस से चौथी मौत, पंजाब में संक्रमित मरीज ने तोड़ा दम

भारत में कोरोना वायरस तेजी से अपने पैर पसार रहा है। कोरोना संक्रमितों की संख्या तेजी से बढ़ रही है, वहीं देश में कोरोना वायरस से अब तक कुल चार मौतें हो चुकी हैं। पंजाब में इटली से लौटे कोरोना संक्रमित मरीज की मौत हो गई है। इससे पहले दिल्ली, कर्नाटक, महाराष्ट्र में एक-एक मौत का मामला सामने आ चुका है।

19/03/2020

उत्तराखंड की तबाही पर राज्यसभा में व्यक्त की चिंता, सभापति वेंकैया नायडू ने घटना को बताया दुखद

उत्तराखंड में ग्लेशियर टूटने से हुई तबाही पर राज्यसभा में सोमवार को चिंता व्यक्त की गई। सभापति एम वेंकैया नायडू ने शून्यकाल के बाद कहा कि उत्तराखंड की घटना दुखद है। उन्होंने कहा कि आज सुबह ही वहां के मुख्यमंत्री से बात कर उन्होंने इस घटना के बारे में जानकारी ली है।

08/02/2021