Dainik Navajyoti Logo
Monday 2nd of August 2021
 
भारत

कोरोना वायरस से निपटने की केंद्र सरकार की रणनीति पर कांग्रेस ने उठाए सवाल

Monday, April 27, 2020 09:55 AM
मनीष तिवारी (फाइल फोटो)

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जब सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों से आज आगे की रणनति बनाने पर बात करेंगे। इससे पहले रविवार को कांग्रेस ने कोरोना-19 महामारी के संक्रमण से निपटने की केन्द्र की रणनीति पर कांग्रेस ने सवाल उठाए है। पार्टी ने पूछा है कि क्या पीएम मोदी मुख्यमंत्रियों से होने वाली बातचीत में आगे की रणनीति का खुलासा करेंगे, क्योंकि कोरोना संक्रमण से निपटने में जहां राज्यों का राजस्व घट रहा है। वहीं उनकी आर्थिक स्थिति में भी लगातार गिरावट आ रही है, जबकि देशव्यापी लॉकडाउन राज्यों से पूछकर लागू नहीं किया गया था।

कांग्रेस प्रवक्ता एवं पूर्व केन्द्रीय मंत्री मनीष तिवारी ने वीसी के जरिए पत्रकारों से बातचीत में कहा कि सभी राज्य सरकारें केन्द्र के दिशा-निर्देशों के अनुरुप ही काम कर रही हैं। उन्होंने याद दिलाया कि लॉकडाउन लागू हुए 36 दिन हो गए। तिवारी ने कहा कि इस लॉकडाउन को नेशनल डिजास्टर मैनजमेंट एक्ट की धारा 6 (आई) और 10 (एल) के तहत निपटा जा रहा है। लेकिन उसी डिजास्टर मैनेजमेंट एक्ट में बताया गया है कि सरकार को किसी भी प्राकृतिक आपदा से निपटने के लिए एक राष्ट्रीय योजना तैयार करने की जरुरत है। वर्तमान में कोविड-19 भी किसी प्राकृतिक आपदा से कम नहीं है। लेकिन इससे लड़ने के लिए पिछले 36 दिनों में केन्द्र सरकार की ओर से ऐसा कोई संकेत नहीं आया है कि उसने किसी राष्ट्रीय योजना का मसौदा तैयार किया है। क्योंकि आगामी 3 मई तक कोवड-19 संक्रमण खत्म हो जाएगा, ऐसा तय नहीं है। ऐसे में हमें इस वायरस के साथ ही जीना पड़ेगा।

तिवारी ने कहा कि हालात ऐसे हैं कि देश लंबे समय तक लॉकडाउन में नहीं रह सकता है। ऐसे में कांग्रेस नेता ने सवाल किया कि अगले तीन महीने सरकार ने इस आपदा से निपटने के लिए क्या राष्ट्रीय योजना तय की है। लेकिन पार्टी उम्मीद करती है कि पीएम मोदी उस रणनीति को सोमवार को मुख्यमंत्रियों के सामने रखेंगे, जो कि एक कानूनी जरुरत है। क्योंकि जब तक राष्ट्रीय रणनीति तैयार नहीं होती है। तब तक नेशनल डिजास्टर मैनजमेंट एक्ट की धारा 23 के तहत प्रदेश सरकारें अपनी खुद की योजनाएं नहीं बना सकती है, ऐसे में केन्द्र सरकार ही कोई समाधान की रणनीति पेश करें।

परफेक्ट जीवनसंगी की तलाश? राजस्थानी मैट्रिमोनी पर निःशुल्क  रजिस्ट्रेशन करे!

यह भी पढ़ें:

संकट में नारायणसामी सरकार, फ्लोर टेस्ट से पहले एक कांग्रेस और एक डीएमके विधायक ने दिया इस्तीफा

पुड्डुचेरी में सत्तारूढ़ कांग्रेस को करारा झटका देते हुए उसके एक और विधायक के. लक्ष्मीनारायणन और डीएमके के विधायक के. वेंकटेशन ने रविवार को इस्तीफा दे दिया, जिससे पार्टी के लिए सोमवार को सदन में बहुमत साबित करना बहुत मुश्किल हो गया है।

22/02/2021

छत्तीसगढ़ : मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में तीन विकास प्राधिकरणों की बैठक

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की अध्यक्षता में मुख्यमंत्री निवास कार्यालय में राज्य ग्रामीण एवं अन्य पिछड़ा वर्ग क्षेत्र, अनुसूचित जाति और मध्य क्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरणों की बैठक आयोजित की गई।

30/11/2019

कश्मीर में जल्द शुरु होगी इंटरनेट सेवा : शाह

सरकार ने आज राज्यसभा में कहा कि कश्मीर, विशेष रुप से घाटी में हालात तेजी से सामान्य हो रहे हैं और क्षेत्र में जल्दी ही इंटरनेट सेवा शुरू कर दी जाएगी।

20/11/2019

कोरोना अपेडटः देश में सक्रिय मामले घटकर हुए 9 लाख से कम, अब तक 1.06 लाख से ज्यादा की मौत

देश में कोरोना वायरस (कोविड-19) के सक्रिय मामलों में गिरावट जारी है और पिछले 24 घंटे के दौरान 8,833 मामले कम हुए, जिससे इनकी संख्या 8,93,592 रह गई है। देश में कुल संक्रमितों का आंकड़ा 69,06,152 हो गया है, जबकि अब तक 1,06,490 लोगों की मौत हो गई है।

09/10/2020

आंतकियों के साथ गिरफ्तार किए गए डीएसपी के आवास पर छापेमारी, एके 47 बरामद

कुलगाम में हिजबुल के आतंकियों के साथ डीएसपी दविंदर सिंह को गिरफ्तार किया गया था। डीएसपी से पुलिस और इंटेलिजेंस अधिकारियों ने पूछताछ की, जिसमें सिंह ने आतंकियों को अपने आवास में रखने के बारे में खुलासा हुआ है।

14/01/2020

लोगों के हित में केंद्र के फैसले : मोदी

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा है कि केंद्र सरकार देश के लोगों के हितों को ध्यान में रखकर फैसले ले रही है और पूरी ईमानदारी से नीतियों को लागू कर रही है।

07/11/2019

पहले स्वदेशी युद्धपोत 'विक्रांत' के कम्प्यूटर्स से इलेक्ट्रिक पुर्जे चोरी, जांच में जुटी NIA

केरल के कोच्चि शिपयार्ड से पहले स्वदेशी युद्धपोत 'विक्रांत' के चार सर्वाधिक परिष्कृत कम्प्यूटर्स के इलेक्ट्रिक पुर्जे चोरी हो गए हैं। देश के सर्वाधिक सुरक्षित स्थानों में शुमार इस क्षेत्र में सेंध सुरक्षा में भारी चूक माना जा रहा है।

18/09/2019