Dainik Navajyoti Logo
Friday 18th of June 2021
 
भारत

कश्मीर घाटी में हाई स्पीड मोबाइल इंटरनेट सेवा पर पांबदी जारी, सोशल मीडिया पर साइबर पुलिस की पैनी नजर

Thursday, March 12, 2020 16:50 PM
सांकेतिक तस्वीर।

श्रीनगर। केन्द्र सरकार की तरफ से पिछले वर्ष 5 अगस्त को जम्मू-कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 के हटाए जाने के बाद से कश्मीर घाटी में हाई स्पीड मोबाइल इंटरनेट सेवा पर लगी पांबदी अभी भी जारी है। हालांकि राज्य में एक महीने से अधिक समय से ब्रॉडबैंड और फिक्सड लाइन इंटरनेट सेवा तथा 2जी मोबाइल इंटरनेट सेवा काम कर रहे हैं। सरकार ने सभी सोशल मीडिया नेटवर्क पर प्रतिबंध हटा दिया है लेकिन कश्मीर जोन में साइबर पुलिस थाना ग्राहकों पर बारीकी से निगरानी रखे हुए है।

साइबर पुलिस थाने ने सोशल मीडिया नेटवर्क का दुरुपयोग करने वालों के खिलाफ मामले दर्ज किए हैं। आगे की कार्रवाई करने के लिए प्रशासन की अगली बैठक 17 मार्च को करने का फैसला किया गया है। सुप्रीम कोर्ट ने केन्द्रशासित प्रशासन को इंटरनेट बंद पर समीक्षा बैठक करने का निर्देश दिया है।

बता दें कि पिछले वर्ष विशेष राज्य का दर्जा खत्म करने के कुछ घंटों के बाद सरकार ने लैंडलाइन्स सहित सभी इंटरनेट सेवाओं को बंद कर दिया था। हालांकि लैंडलाइन और मोबाइल सेवा को जम्मू और लद्दाख में बहाल कर दिया गया था, लेकिन कश्मीर में इस बंद रखा था। बाद में लैंडलाइन्स सेवा को शुरू कर दिया गया लेकिन ब्रॉडबैंड और मोबाइल सवेा को बंद रखा। लगभग 3 महीनों के बाद प्रदेश में 2जी इंटरनेट सेवा को बहाल किया गया था और सभी सोशल मीडिया साइटों को बंद कर दिया गया था। हालांकि बाद में पोस्टपेड मोबाइल फोनों में 2जी इंटरनेट सेवा को बहाल कर दिया गया, जिसे बाद में प्री-पेड सेवा के लिए भी बहाल कर दिया गया।

हाल ही में घाटी में ब्रॉडबैंड और फिक्सड लाइन सेवा को बहाल कर दिया गया है। इस दौरान घाटी में हाई स्पीड इंटरनेट सेवा को बंद रखा गया, जिससे छात्रों, मीडियाकर्मियों और पेशेवर बुरी तरह प्रभावित रहे। इसके अलावा व्यापारियों पर भी इसका बुरा असर पड़ा। जबकि ब्रॉडबैड और फिक्सड इंटरनेट सेवाओं से कामकाज सुचारू रूप से चल रहा है।

परफेक्ट जीवनसंगी की तलाश? राजस्थानी मैट्रिमोनी पर निःशुल्क  रजिस्ट्रेशन करे!

यह भी पढ़ें:

इसरो की सफल उड़ान, ईओएस-01 और 9 अन्य उपग्रहों का प्रक्षेपण

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के ध्रुवीय उपग्रह प्रक्षेपण यान (पीएसएलवी) ने श्रीहरिकोटा के सतीश धवन अंतरिक्ष केन्द्र (एसडीएससी) के पहले लॉन्च पैड से पृथ्वी अवलोकन उपग्रह ईओएस-01 और अन्य देशों के 9 वाणिज्यिक उपग्रहों को सफलतापूवर्क लॉन्च किया।

08/11/2020

अशोक गहलोत को मिली केरल विधानसभा चुनाव की जिम्मेदारी, इसी साल होने हैं चुनाव

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने राज्य के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को केरल विधानसभा चुनाव के लिए वहां पर्यवेक्षक के रूप में चुनावी प्रबंधन एवं समन्वय का कार्य दिया है।

07/01/2021

केरल, कर्नाटक और महाराष्ट्र में बाढ़ का कहर, 62 लोगों की मौत

केरल, कर्नाटक और महाराष्ट्र बारिश से बेहाल हैं। यहां पानी ने जनजीवन को अस्त-व्यस्त कर रखा है। महाराष्ट्र में बाढ़ के चलते 29 से अधिक लोगों की जान गई है वहीं केरल में 22 लोगों को जान गवानी पड़ी है।

10/08/2019

अजगर ने निगला मगरमच्छ

एक अजगर ने ऑस्ट्रेलियन मगरमच्छ को पूरा निगल लिया। इसकी तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। इन तस्वीरों को जीजी वाइल्ड लाइफ रेसक्यू ने शेयर किया है।

13/07/2019

श्रमिकों को घर भेजने के नाम पर भाजपा और कांग्रेस कर रही घिनौनी राजनीति: मायावती

बहुजन समाज पार्टी अध्यक्ष मायावती ने भाजपा और कांग्रेस पर प्रवासी श्रमिकों को घर भेजने के नाम पर घिनौनी राजनीति करने का आरोप लगाते हुए कहा कि इतनी बड़ी त्रासदी से लोगों का ध्यान बांटने के लिए ये पार्टियां आपसी मिलीभगत से एक दूसरे पर आरोप प्रत्यारोप लगा रहे है।

20/05/2020

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता व पूर्व गृहमंत्री पी चिदंबरम को सुप्रीम कोर्ट से बड़ी राहत

उच्चतम न्यायालय ने आईएनएक्स मीडिया निवेश के प्रवर्तन निदेशालय से जुड़े मामले में पूर्व केंद्रीय मंत्री पी चिदम्बरम को गिरफ्तारी से अंतरिम संरक्षण प्रदान की है।

23/08/2019

पुणे: लोग रहे सावधान, अप्रैल फूल बनाने पर हो सकती है जेल

कोरोना वायरस के कारण इस साल लोगों को अप्रैल फूल बनाने की अनुमति नहीं है। ऐसा करने पर आपको जेल हो सकती है।

31/03/2020